रेलवे में दो बड़े एफडीआई प्रस्तावों को हरी झंडी

By: | Last Updated: Sunday, 8 March 2015 9:40 AM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ अभियान को आगे बढ़ाते हुए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने बिहार में 2,400 करोड़ रुपये की लागत से डीजल और इलेक्ट्रिक इंजन कारखाना लगाने के बारे में दो बड़े प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) प्रस्तावों को हरी झंडी दे दी है.

 

रेलवे ने अच्छे खासे समय के बाद मधेपुरा के इलेक्ट्रिक इंजन कारखाने व मरहोड़ा के डीजल इंजन कारखाने को लेकर चला आ रहा असमंजस समाप्त करते हुए ऊंचे मूल्य की संयुक्त उद्यम परियोजनाओं की वित्तीय बोली को अंतिम रूप दे दिया है. इसके लिए रेलवे ने बोली दस्तावेज की कई बार समीक्षा की.

 

रेल मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि दोनों संयंत्रों के लिए वित्तीय बोली दस्तावेजों वाले प्रस्ताव के लिए आग्रह (आरएफपी) तैयार हैं और छांटी गई बोली लगाने वाली कंपनियों को इसकी सूचना दे दी गई है.

 

मधेपुरा के प्रस्तावित इलेक्ट्रिक इंजन कारखाने के लिए चार वैश्विक कंपनियों अल्सटाम, सीमंस, जीई व बाम्बार्डियर का नाम छांटा गया है. वहीं मरहोड़ा के डीजल इंजन कारखाने के लिए दो बहुराष्ट्रीय कंपनियों जीई व ईएमडी का नाम चुना गया है. इन दोनों कारखानों की अनुमानित लागत 1,200-1,200 करोड़ रुपये है. अधिकारी ने बताया कि वित्तीय बोली 31 अगस्त को खोली जाएगी.

 

इस बीच में दो बोली पूर्व की बैठकें भी होंगी.

 

BUDGET 2015 LIVE: महंगाई घटी, अगले साल 8 से 10 फीसदी की रफ्तार से विकास होने का अनुमान- आर्थिक सर्वे

BUDGET 2015: वे बातें जो इस रेल बजट को बनाती हैं खास!

BUDGET 2015: आत्मनिर्भर होगा भारतीय रेल!

Rail Budget 2015: ये रेल बजट स्पीड और स्केल को एक ट्रैक पर ले जाने वाला है- मोदी 

Rail Budget 2015: जानें- पक्ष-विपक्ष में किसने क्या कहा? 

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: raliway confirmes FDI in two major projects
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Confirmed FDI projects raliway
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017