खत्म हुआ चौदह दिन का ड्रामा, आश्रम से गिरफ्तार हुआ रामपाल

By: | Last Updated: Wednesday, 19 November 2014 3:57 PM
Rampal arrested

नई दिल्ली: चौदह  दिन तक चले जानलेवा ड्रामे के बाद हरियाणा पुलिस ने आखिरकार विवादित धर्मगुरु रामपाल को गिरफ्तार कर लिया है.  उन्हें बुधवार की रात 9.15 बजे हिसार के सतलोक आश्रम से गिरफ्तार किया गया.

 

रामपाल को भारी सुरक्षा के बीच पुलिस एंबुलेंस में बैठाकर आश्रम से ले गई है.  रामपाल को 21 नवंबर को हाईकोर्ट अदालत में पेश किया जाना है.

 

ABP स्पेशल: बेलगाम बाबा, बेबस सरकार! 

जैसे ही पुलिस रामपाल को आश्रम से गिरफ्तार करके ले गई. वहां मौजूद लोगों के बीच जश्न का माहौल बन गया, मौजूद लोगों ने खुशी में रामपाल के खिलाफ नारेबाज़ी भी की.

 

आपको बता दें कि रामपाल को गिरफ्तार करने में पुलिस का खासी मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस और रामपाल के समर्थकों के बीच झड़पें भी हुईं जिसमें कम से कम 6 लोगों की मौत हो गई.

 

पुलिस का कहना है कि कल हिसार कोर्ट में रामपाल को पेश  किया जाएगा. शुक्रवार को अवमानना के केस में रामपाल की हाईकोर्ट में पेशी होनी है.

 

रामपाल की साजिश नाकाम

 

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के ओएसडी जवाहर यादव का कहना है कि पूरी प्लानिंग के तहत रामपाल को गिरफ्तार किया गया है. उन्हें कहां ले जाया गया है इसके बारे में फिलहाल मीडिया से बताना सही नहीं है.

 

जवाहर यादव का कहना है कि रामपाल की कोशिश थी कि पुलिस की कार्रवाई बिना प्लानिंग हो, वहां भगदड़ मचे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की मौत हो और इस तरह वे गिरफ्तारी से बच जाएं, लेकिन पुलिस बेहतरीन प्लानिंग के तहत उन्हें गिरफ्तार किया है.

 

इससे पहले पुलिस ने रामपाल के 425 समर्थकों को गिरफ्तार किया था जिसमें आश्रम के कुछ बड़े अधिकारी भी शामिल थे.

 

इससे पहले आज ही हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा था कि जब तक रामपाल को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा, तब तक पुलिस के ऑपरेशन बंद नहीं किए जाएंगे. सीएम के सख्त संकेत के बाद साफ हो गया था कि रामपाल की गिरफ्तारी आज तय है.

 

आश्रम में ही था रामपाल

 

रामपाल के समर्थकों का दावा था कि रामपाल आश्रम में नहीं हैं और हरियाणा के किसी अनजान जगह पर उनका इलाज किया जा रहा है, लेकिन हरियाणा के डीजीपी एस एन वशिष्ठ ने कहा था कि रामपाल सतलोक आश्रम में ही हैं, जो बात सच निकली.

 

छह महिलाओं की मौत

रामपाल की गिरफ्तारी को लेकर कल पुलिस और समर्थकों के बीच जमकर झड़प हुईं, जिसमें एक बच्चे समेत 6 महिलाओं की मौत हुई. आज सुबह तक पुलिस ने सतलोक आश्रम से 15 हज़ार लोगों को बाहर निकाला.

 

डीजीपी ने बताया कि जिन महिलाओं की मौत हुई है उनके नाम सविता, संतोष, मलकीत और राजबाला हैं. डीजीपी के मुताबिक आश्रम में हुई 2 मौत नेचुरल हैं जबकि 4 मौतों की जांच जारी है. जिन लोगों की मौत हुई है उनमें डेढ़ साल का एक बच्चा भी शामिल है.

 

राजद्रोह का मुकदमा

 

मंगलवार को पुलिस से झड़प के मामले में रामपाल के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया है.

 

हिसार में रामपाल के आश्रम से 15 हजार लोगों को निकाला गया, चार लोगों की मौत का दावा

 

क्यों हुई गिरफ्तारी में देरी

 

हरियाणा पुलिस कल से ही रामपाल को गिरफ्तार करना चाहती थी, लेकिन आशंका थी कि आश्रम के अंदर पेट्रोल बम, देशी कट्टे समेत तमाम हथियार मौजूद हो सकते हैं, इसलिए पुलिस एहतियात के साथ कार्रवाई कर रही थी. कल आश्रम के अंदर से फायरिंग की गई थी.

 

पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट से दो गैर जमानती वारंट जारी होने के बावजूद संत रामपाल अदालत में पेश नहीं हुए. 10 नवंबर को ही हरियाणा पुलिस को फटकार लगाते हुए हाईकोर्ट ने 17 नवंबर की सुबह 10 बजे तक संत रामपाल को कोर्ट में पेश करने का आदेश दिया था. अब पेशी की तारीख 21 नवंबर हो चुकी है.

 

बरवाला आश्रम का ये इलाका छावनी बन गया. चंडीगढ़ में एक हजार पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. पत्थर चल गए, गोलियां चल गईं, लेकिन इन सबके बीच सबसे बड़ा सवाल ये है कि एक बाबा क सामने बेबस नजर आ रहा है पूरा प्रशासन.

 

पत्रकारों पर हमला

 

हरियाणा चुनाव के दौरान बीजेपी ने हुड्डा सरकार की कानून व्यवस्था पर सबसे ज्यादा सवाल खड़े किये थे लेकिन आज हरियाणा की बीजेपी सरकार सवालों के घेरे में हैं. हरियाणा पुलिस ने आज अपनी करतूत को छुपाने के लिए पत्रकारों को बुरी तरह से मारा पीटा है.  कैमरा तोड़ दिया और अब दोषी पुलिसवालों पर कार्रवाई के बजाय थोथी दलील दे रही है.

 

अब सवाल है कि क्या अपने डंडे के दम पर हरियाणा का राज काज चलाना चाहते हैं मनोहर लाल खट्टर? ABP न्यूज का एक कैमरा तोड़ा,  दूसरा कैमरा छीन लिया,  घटनास्थल पर मौजूद तमाम पत्रकारों को , कैमरामैन को ड्राइवर को दौड़ा दौड़ाकर पीटा! आखिर चाहती क्या है ये खट्टर सरकार?

 

अगर जानबूझकर नहीं मारा तो फिर ये क्या है?

 

आजतक के रिपोर्टर नितिन जैन को पीटा गया. आजतक के कैमरामैन पर डंडों से वार, इंडिया न्यूज का स्टाफ बुरी तरह घायल! और दूसरे पत्रकारों पर भी पुलिस ने डंडे बरसाए.

 

अब सवाल है कि क्या यही पीएम मोदी के पसंदीदा मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का सुशासन है?

 

पिटाई की निंदा

 

गृह मंत्रालय ने हिसार में पुलिस कार्रवाई और पत्रकारों की पिटाई को लेकर रिपोर्ट मांगी है. ब्रॉडकास्ट एडिटर्स एसोसिएशन यानी BEA ने पत्रकारों की पिटाई की निंदा की है सवाल ये है कि बाबा पर जोर नहीं चल रहा तो मीडिया पर पुलिस अपना गुबार क्यों निकाल रही है आखिर खट्टर सरकार ने ऐसा किया क्यों? कहीं ये खिसियानी बिल्ली खंभा नोचेवाली बात तो नहीं हैं.

 

संत रामपाल जी महाराज है कौन?

 

संत रामपाल जी महाराज किसी भगवान को नहीं मानते, किसी भी देवी देवता की पूजा के सख्त खिलाफ हैं संत रामपाल, लेकिन कबीरपंथी रामपाल खुद को परमेश्वर बताते हैं.

 

हरियाणा सरकार के सिंचाई विभाग में जूनियर इंजीनियर से रामपाल के परमेश्वर बनने तक की कहानी बड़ी दिलचस्प है.

 

जूनियर इंजीनियर की नौकरी के दौरान संत रामपाल महाराज की मुलाकात 107 साल के कबीरपंथी संत स्वामी रामदेवानंद महाराज से हुई थी. रामपाल रामदेवानंद महाराज के शिष्य बन गए और 18 साल लंबी सिंचाई विभाग के जूनियर इंजीनियर की नौकरी छोड़कर सत्संग करने लगे.

 

आज संत रामपाल हरियाणा के हिसार जिले के सतलोक आश्रम के मालिक हैं. 12 एकड़ में फैला उनका आश्रम किसी महल से कम नहीं है,लेकिन छावनी में तब्दील हो चुका हिसार के इस आश्रम की कहानी रोहतक से शुरू होती है.

 

साल 1999 में रामपाल ने रोहतक के करौंथा में अपना आश्रम शुरू किया था. रामपाल देवी देवता की पूजा के खिलाफ हैं और रामपाल की इस कबीरपंथी सोच के खिलाफ है आर्यसमाज. लेकिन सोच का ये फर्क साल 2006 में जमीन के विवाद के रूप में सामने आया.

 

दैनिक जागरण में छपी खबर के मुताबिक 2006 में स्वामी दयानंद की लिखी एक किताब पर संत रामपाल ने एक टिप्पणी की, आर्यसमाज को ये टिप्पणी बेहद नागवार गुजरी और दोनों के समर्थकों कें हिंसक झडप हुई. घटना में एक शख्स की मौत भी हो गयी. घटना के बाद एसडीएम ने 13 जुलाई 2006 को आश्रम को कब्जे में ले लिया. रामपाल और उनके 24 समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया गया. 2006 में रामपाल पर हत्या का केस दर्ज हुआ था जिसमें उन्हें 21 महीने जेल में रहना पड़ा था. तब से जमानत पर हैं रामपाल.

 

विवाद की जड़

लेकिन रामपाल ने 2013 में सुप्रीम कोर्ट में केस जीता और उन्हें सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर फिर से रोहतक का आश्रम फिर वापस मिल गया. इस जमीन को लेकर आश्रम के आसपास के गांव वालों का विरोध इतना ज्यादा है कि जब रामपाल के समर्थक पिछले साल आश्रम पर कब्जा करने गए तो नाराज गांव वालों और आर्य समाज के लोगों ने इन पर धावा बोल दिया.

 

हरियाणा में रामपाल का काफी विरोध है. इसलिए पड़ोसी राज्यों पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और राजस्थान से समर्थक जुटाते हैं रामपाल. इन राज्यों से काफी तादाद में इनके अनुयायी हरियाणा आते हैं.

 

बाबा जमानत पर बाहर तो आ गए लेकिन साल 2006 में हिंसक झड़प में हुई मौत का मामला खत्म नहीं हुआ था. इसी मामले में अगस्त 2014 में वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए रामपाल की हिसार कोर्ट में पेशी थी. लेकिन बाबा के समर्थक कोर्ट पहुंच गए और वहां वकीलों से बदसलूकी की.

 

नाराज वकीलों ने रामपाल की जमानत रद्द करने की याचिका दे दी. हाईकोर्ट ने अदालत की अवमानना के इस मामले में रामपाल को दो बार पेशी का नोटिस भेजा लेकिन रामपाल खराब तबीयत की दलील देकर हाजिर नहीं हुए. पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने इसे अदालत की अवमानना मानते हुए रामपाल की गिरफ्तारी के आदेश जारी कर दिए.

 

और इसी आदेश की तामील करने के लिए हरियाणा पुलिस पिछले कई दिनों से आश्रम के बाहर तैनात है रामपाल समर्थक पुलिस को आश्रम में घुसने नहीं दे रहे. बताया जा रहा है कि आश्रम में बिजली पानी कट चुका है. लोगों को खाने-पीने की दिक्कत हो रही है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Rampal arrested
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: rampal sant rampal
First Published:

Related Stories

यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए
यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है. यहां पर कुछ...

एबीपी न्यूज़ की खबर का असर, गायों की मौत के मामले में बीजेपी नेता गिरफ्तार!
एबीपी न्यूज़ की खबर का असर, गायों की मौत के मामले में बीजेपी नेता गिरफ्तार!

रायपुर: एबीपी न्यूज की खबर का असर हुआ है. छत्तीसगढ़ में गोशाला चलाने वाले बीजेपी नेता हरीश...

जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच
जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच

नई दिल्लीः आजकल सोशल मीडिया पर एक टीचर की वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि वो अपनी...

19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और पुलिस
19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और...

लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 19 अगस्त को यूपी के गोरखपुर जिले के दौरे पर रहेंगे. राहुल...

नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी
नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी

सिद्धार्थनगर/बलरामपुर/गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को...

पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश की
पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा से...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. डोकलाम विवाद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी का चीन जाना तय हो गया है. ब्रिक्स देशों के सम्मेलन के लिए...

सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन
सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन

मथुरा: यूपी के शिक्षामित्र फिर से आंदोलन के रास्ते पर चल पड़े हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद...

बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान
बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली: असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में आई बाढ़ की वजह से भारतीय रेल को पिछले सात...

डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे बातचीत
डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे...

नई दिल्ली: बॉर्डर पर चीन से तनातनी और नेपाल में आई बाढ़ को लेकर शुक्रवार को विदेश मंत्रालय ने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017