यूपी बोर्ड के टॉपर्स के नाम पर बनेंगी गांव की सड़कें । Roads will be made in the name of UP Board toppers

योगी सरकार ने लिया बड़ा फैसला, यूपी बोर्ड के टॉपर्स के नाम पर बनेंगी गांव की सड़कें

सरकार ने हाई स्कूल और इण्टरमीडिएट की परीक्षा में पहला स्थान हासिल करने वाले छात्रों के नाम पर उनके गांवों के संपर्क मार्गों का नाम रखने का फैसला किया है.

By: | Updated: 13 Jan 2018 05:45 PM
Roads will be made in the name of UP Board toppers

लखनऊ: स्वामी विवेकानन्द की 155वीं जयन्ती के मौके पर उत्तर प्रदेश सरकार ने एक बड़ा फैसला किया है. सरकार ने हाई स्कूल और इण्टरमीडिएट की परीक्षा में टॉप करने वाले छात्रों के नाम पर उनके गांवों के सड़कों का नाम रखने का फैसला किया है.


यह फैसला इसलिए किया गया है ताकि विद्यार्थियों को पहला स्थान लाने वाले मेधावी छात्रों से प्रेरणा मिले. उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि प्रदेश सरकार ने राज्य की हाई स्कूल और इण्टरमीडिएट परीक्षा में उच्च स्थान पाने वाले छात्रों के गावं की सड़कों का नाम उनके नाम रखने का फैसला किया है. उन्होंने बताया कि अब तक हाई स्कूल के 10 और इण्टरमीडिएट के कुल 14 विद्यार्थियों को चिन्हित कर उनके गावं की सड़कों को मेधावियों के नाम पर करने के लिए शासन ने स्वीकृति दे दी है.


उप मुख्यमंत्री ने बताया कि इण्टरमीडिएट के मेधावी छात्रों में जिला कानपुर देहात के गांव भवनपुर से भावना, कानपुर के यशोदा नगर से शताक्षी मिश्रा, बारहवीं वाहिनी गाजीपुर से विजयलक्ष्मी, थनैत सीतापुर से अनुराग वर्मा, छोटा धुसाय बलरामपुर से शिवम मोदनवाल, जखेला हमीरपुर से सपना, इचैली कौशाम्बी से अनुराधा पाण्डेय, रूकनापुर हरदोई से यशवीर सिंह और लोहटा बलिया से सुधा कुमारी गुप्ता के नाम पर संपर्क मार्गों का नाम रखने का फैसला किया है. इसी तरह जिला फतेहपुर के गांव हरिहर गंज से प्रियांशी, कृष्णा कालोनी से सोनम सिंह, गांव भिखारीपुर से प्रियंका द्विवेदी, गांव शामियाना से दर्शिका सिंह और गांव रघुवंशपुर से आकांक्षा सिंह के नाम पर फैसला लिया गया है.


इसके साथ ही केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि हाई स्कूल परीक्षा में पहला स्थान पाने वाले छात्रों में जिला हरदोई के बरहुआ से रवि पटेल, गांव मुनव्वरपुर से क्षितिज, बाजपुर नकटौरा से नवीन कुमार दिवाकर, जिला बाराबंकी के गांव टांड़पुरवा से प्रियांशु वर्मा, हज्जाजी मोहल्ला से अमीना खातून, नीदनपुर से प्रगति सिंह और जिला गोण्डा के गांव दत्त नगर से निशा यादव, जिला फतेहपुर के गांव अमरौली से तेजस्वनी देवी, देवमयी से प्रिया अवस्थी और गांव बैजानी से ऊषा देवी का चयन किया गया है.


मौर्य ने कहा कि इन सभी मेधावियों के गांव के सम्पर्क मार्ग प्राथमिकता से बनाये जाने के निर्देश दे दिए गए हैं. यह प्रक्रिया लगातार चलती रहेगी. उप मुख्यमंत्री ने समाज के सभी वर्गों से अपील की कि देश और प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में नाम रोशन करने वाली हस्तियों के नाम उनके पूरे परिचय के साथ सरकार दिया जाए ताकि प्रदेश सरकार उनकी गावों की सड़कों का कायाकल्प कर उसे विकास की मुख्यधारा से जोड़ सके.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Roads will be made in the name of UP Board toppers
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story त्रिपुरा में 18 फरवरी को होंगे विधानसभ चुनाव, तीन मार्च को आएंगे नतीजे