रोहिंग्या मुसलमानों पर मोहन भागवत- मानवता के नाम पर हम अपनी मानवता नहीं खो सकते

रोहिंग्या मुसलमानों पर मोहन भागवत- मानवता के नाम पर हम अपनी मानवता नहीं खो सकते

रोहिंग्या मुसलमानों पर मोहन भागवत- मानवता के नाम पर हम अपनी मानवता नहीं खो सकते

By: | Updated: 30 Sep 2017 10:07 AM

नई दिल्ली: आज नागपुर में आरएसएस की स्थापना दिवस को सेलिब्रेट किया जा रहा है. आज विजयदशमी भी है और हर साल की तरह आज भी इस अवसर पर कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ आज अपना शक्ति प्रदर्शन किया. स्वयंसेवको का पथ संचलन सुबह 6.15 बजे रेशमबाग मैदान से शुरु हुआ जो पूरे शहर से होकर गुजरा. आज आरएसएस का स्थापना दिवस है और इस मौके पर संबोधित करते हुए आरएसएस प्रमुख ने डोकलाम, कश्मीर, रोहिंग्या और गोरक्षा जैसे मुद्दों पर अपनी बात रखी.



LIVE UPDATES



  • RSS प्रमुख मोहन भागवत ने कहा- गोरक्षा के नाम पर हिंसा नहीं होनी चाहिए. गोरक्षा के नाम पर कानून तोड़ना ठीक नहीं. गोरक्षा सांप्रदायिकता का सवाल नहीं है. गाय के नाम पर हिंसा को धर्म से ना जोड़ें. दूसरे धर्म से जुड़े लोग भी गोरक्षा से जुड़े हैं. गोरक्षा करने वाले हिंसक कैसे हो सकते हैं.
    46

  • मोहन भागवत ने कहा- हमको अपनी नीति बनाने पड़ेगी. आर्थिक नीति ऐसी हो जिससे हर वर्ग का कल्याण हो. आर्थिक मोर्चे पर फैसले का अध्ययन होना चाहिए.

  • रोहिंग्या मुसलमानों पर बोले मोहन भागवत-आंतकी गतिविधियों की वजह से रोहिंग्या म्यांमार से भगाए गए. मानवता के नाम पर हम अपनी मानवता नहीं खो सकते.

  • केरल, बंगाल में राजनीतिक हिंसा पर बोले भागवत- वहां की सरकार हिंसा करने वालों के साथ

  • आतंकियों से सख्ती से निपटने को लेकर भी मोहन भागवन ने सरकार की तारीफ की.

  • मोहन भागवत ने कहा- जम्मू-कश्मीर के लोगों तक विकास पहुंचना चाहिए. जो हिंदू पाकिस्तान से आए उनकी सुध ली जाए.

  • डोकलाम विवाद से निपटने के लिए और कश्मीर नीति पर भी मोहन भागवत ने मोदी सरकार की तारीफ की.

  • RSS प्रमुख ने मोदी सरकार की तारीफ में कहा- 70 साल में पहली बार दुनिया का ध्यान भारत पर गया, आर्थिक विकास की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.
    21

  • मोहन भागवत ने कहा- गुलामी में रहने के कारण हम अपना महत्व भूल गए. आज अपनी भाषा कम बोलते हैं. आज राष्ट्र को नेशन बना दिया.

  • मोहन भागवत ने मुंबई में हुए हादसे पर दुख जताया

  •  केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडनविस और बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी भी इस कार्यक्रम में मौजूद हैं.



बता दें कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लिये विजयादशमी उत्सव समारोह महत्वपूर्ण माना जाता है और इसकी 1925 में स्थापना के बाद से ही स्वयंसेवक इस अवसर पर जुटते हैं. इस साल जालंधर स्थित श्री गुरू रविदास साधु सम्प्रदाय समाज के प्रमुख बाबा निर्मल दास विजयादशमी उत्सव के अवसर पर मुख्य अतिथि है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात: पीएम मोदी करेंगे अंबाजी मंदिर में दर्शन, राहुल ने जगन्नाथ मंदिर में टेका मत्था