सहारा प्रमुख सुब्रत राय की फ़िलहाल नहीं होगी जेल से रिहाई

By: | Last Updated: Friday, 19 June 2015 11:21 AM
sahara chief_subrata roy

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने सहारा प्रमुख सुब्रत राय की रिहाई के लिए ज़रूरी बैंक गारंटी के मसौदे को मंज़ूर कर लिया लेकिन सहारा समूह ने 5,000 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी सेबी के पास जमा नहीं कराई है. जिसके चलते सुब्रत राय की रिहाई इस बैंक गारंटी और 5000 करोड़ रुपये नकद में से बकाया राशि को जमा कराने के बाद ही होगी.

 

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल ही सुब्रत राय की रिहाई के लिए 10 हज़ार करोड़ रुपये सेबी के पास जमा कराने की शर्त रखी थी. इनमें से आधी रकम नकद और आधी रकम बैंक गारंटी के रूप में जमा करानी थी. सहारा समूह ने न तो पूरी नकद राशि जमा कराई है, न बैंक गारंटी.

 

सहारा समूह के वकील कपिल सिब्बल के एक बयान के मद्देनज़र भी सुब्रत राय की तुरंत रिहाई मुमकिन नज़र नहीं आ रही है. सिब्बल ने आज सुप्रीम कोर्ट को बताया कि जिस बैंक ने 5000 करोड़ की बैंक गारंटी देने के बात कही थी, उसने अब इससे मना कर दिया है.

 

सुप्रीम कोर्ट ने ज़मानत की शर्तों को साफ़ करते हुए कहा कि ज़मानत राशि का भुगतान करने के बाद बकाया रकम का भुगतान 18 महीनों में, 9 किश्तों में करना होगा. सेबी ने कहा है कि सहारा पर कुल बकाया अब 36 हज़ार करोड़ रुपये हो गया है.

 

सहारा समूह के वकीलों की दरख्वास्त पर सुप्रीम कोर्ट सुब्रत राय को और 8 हफ्तों के लिए तिहाड़ जेल के कॉन्फ्रेंस हॉल में रहने की इजाज़त दे दी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sahara chief_subrata roy
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017