इन 4 मिनटों ने 'दबंग' को रूला दिया

By: | Last Updated: Wednesday, 6 May 2015 12:05 PM
salman khan in court

नई दिल्ली: सुबह घर से निकलते वक्त सलमान ने शायद उम्मीद नहीं की होगी कि पांच साल की सजा मिलेगी. करीब 45 मिनट का सफर तय करने के बाद सलमान कोर्ट पहुंचे थे. लेकिन कोर्ट ने फैसला सुनाने के लिए महज चार मिनट का वक्त लिया. सलमान 11 बजकर 6 मिनट पर कोर्ट रूम में दाखिल हुए और 11 बजकर दस मिनट दोषी करार दे दिये गये.

 

कोर्ट रूम में क्या हुआ ?

11.06 बजे सलमान को जज ने कोर्ट रूम में बुलाया और फैसला सुनाना शुरू कर दिया. जज ने सलमान से कहा कि आपने उस रात शराब पी रखी थी और हादसे वाली गाड़ी आप ही चला रहे थे. आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस भी नहीं था . इस मामले में आप गैर इरादतन हत्या के दोषी पाये जाते हैं. और दस साल की सजा बनती है बताइए आपका क्या कहना है?

 

फैसला सुनते ही सलमान के पसीने छूटने लगे. सलमान की आंखों में आंसू आ गये. फैसला सुनकर कोर्ट रूम में बैठी बहन अलवीरा भी रो पड़ी. करीब बीस मिनट बाद कोर्ट से सलमान के छोटे भाई सोहैल खान, बांद्रा के पूर्व विधायक बाबा सिद्दीकी के साथ बाहर चले गए . सोहेल के चेहरे से उदासी साफ दिख रही थी .

 

जिरह में क्या हुआ ?

कोर्ट में सलमान के वकील ने जिरह शुरू की. बचाव में सलमान की बीमारी और अच्छे कामों का हवाला दिया.

 

सलमान के वकील ने कहा कि सलमान ने अपने एनजीओ के जरिये 600 बच्चों की हार्ट सर्जरी करवाई है . सलमान चैरिटी के जरिये लोगों की मदद करते हैं . अच्छा काम कर रहे हैं . जिससे लोगों का भला हो रहा है . लंबे समय तक जेल में रहेंगे तो भलाई के काम में दिक्कत होगी . ऐसे में इन्हें तीन साल से ज्यादा की सजा न दी जाए .

 

सलमान के वकील ने ये भी अपील की कि केस में मिसाल देने के लिए सलमान के साथ एक्टर जैसा व्यवहार न किया जाए . आम आदमी की तरह ही फैसला हो . सलमान के वकील ने सलमान की मेडिकल कंडीशन का हवाला देने की कोशिश की और रिपोर्ट भी दी. उसी वक्त सलमान ने कटघरे से इशारा किया कि इसका हवाला देने की जरूरत नहीं है तो सलमान के वकील ने कहा कि मैं पेश जरूर कर रहा हूं लेकिन इसे आधार नहीं बनाना चाहता.

 

बचाव पक्ष के वकील ने करीब 40 मिनट तक जिरह की. इसके बाद बारह बजकर बीस मिनट पर सरकारी वकील ने अपना पक्ष रखना शुरू किया . सरकारी वकील ने ज्यादा से ज्यादा यानी दस साल की सजा देने की मांग की . सरकारी वकील प्रदीप घेरात ने कहा है .

 

सलमान खान को ज्यादा से ज्यादा सजा देकर हमें समाज के सामने मिसाल देनी चाहिए कि कानून सबके लिए बराबर है. इसके पक्ष में सरकारी वकील ने दलील दी कि एक्टर से लोग ज्यादा सीखते हैं. इसलिए इस मामले में ज्यादा से ज्यादा सजा दी जाए और कोई रहम न बरती जाए .

 

सरकारी वकील की दलील के बाद जज ने आधे घंटे का ब्रेक लिया और दोपहर 1.10 पर फैसली की घड़ी मुकर्रर की.. कोर्ट की तब बिजली गुल हो गई. जज एक बजकर बीस मिनट पर कोर्ट में पहुंचे और पांच मिनट में ही पांच साल की सजा का एलान कर दिया.

 

आपके ऊपर जो सभी आरोप लगे हैं वो सिद्ध हो जाते हैं और 304 पार्ट -2 मतलब जो गैरइरादतन हत्या की धारा है उसके तहत पांच साल की सजा सुनाई जाती है. हालांकि सेशंस कोर्ट के फैसले के बाद परिवार हाईकोर्ट पहुंचा. दोपहर साढ़े चार बजे हाईकोर्ट में सलमान की जमानत पर सुनवाई शुरू हुई. सलमान के वकीलों ने दलील दी कि उनके पास फैसले की पूरी कॉपी नहीं है लेकिन उसका हिस्सा है. लिहाजा कॉपी आने तक जमानत दी जाए. हाईकोर्ट ने शाम 4.50 बजे दो दिनों की जमानत दे दी.

 

हाईकोर्ट के फैसले तक सलमान सेशंस कोर्ट में ही थे.. हाईकोर्ट से जमानत की कॉपी लेकर सलमान के वकील और परिवार के सदस्य भागते हुए सेशंस कोर्ट पहुंचे. लेकिन ये जमानत सिर्फ दो दिनों की है

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: salman khan in court
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: court Salman Khan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017