विनोद राय के आरोपों को झुठलाए कांग्रेस नेता, संदीप दीक्षित ने कहा-कानूनी कार्रवाई करेंगे

By: | Last Updated: Friday, 12 September 2014 10:50 AM
sandeep refuse cag allegation

नई दिल्ली : कांग्रेस ने 2 जी घोटाले के बारे में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को जानकारी होने के आरोप को खारिज किया. पूर्व सीएजी विनोद राय का दावा है कि 2जी केस से मनमोहन का नाम हटाने के लिए संदीप दीक्षित और संजय निरुपम मिले थे. दोनों ने झुठलाए दावे.

 

पूर्व सीएजी विनोद राय के आरोपों को  कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि जब मैं पीएसी का सदस्य था उससे पहले ही रिपोर्ट आ चुकी थी, इसलिए दबाव डालने का सवाल कहां उठता है. संजय निरुपम का कहना है कि वह इन आरोपों को लेकर विनोद राय के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे.

 

क्या है आरोप?

 

पूर्व नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (कैग) विनोद राय ने दावा किया है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को टू जी घोटाले की खबर पहले से थी. लेकिन वे इस पर चुप्पी साधे रहे. राय ने यह भी दावा किया है कि मनमोहन सिंह को कोयला घोटाले को लेकर भी पहले से सतर्क किया गया था.

 

राय ने यह भी खुलासा किया है कि कांग्रेस नेता संजय निरुपम, अश्वनी कुमार और संदीप दीक्षित ने कैग की ऑडिट रिपोर्टों में तत्कालीन पीएम मनमोहिन सिंह के नाम को बाहर रखने के लिए दवाब बनाया था.

 

सत्ता में रहना चाहते थे मनमोहन सिंह?

इसके साथ ही राय ने मनमोहन सिंह के नेतृत्ल में गठबंधन की राजनीति की आलोचना करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह की ज्यादा रुचि सिर्फ सत्ता में बने रहने के लिए ही थी. गौरतलब है कि यूपीए सरकार के कार्यकाल में ही टू-जी स्पेक्ट्रम और कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले हुए थे. उस समय कैग प्रमुख विनोद राय थे और इन घोटालों में हुए नुकसान के अनुमानों को लेकर तब यूपीए सरकार काफी दवाब में आ गई थी.

 

राय ने 2जी घोटले को लकेर मनमोहन सिंह पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं. राय के मुताबिक सिंह को 2जी घोटाले की पल-पल की जानकारी थी और अगर चाहते तो तत्कालान टेलीकॉम मंत्री ए.राजा. को रोक सकते थे.

 

राय के अनुसार कांग्रेस नेता कमलनाथ समेत कुछ दूसरे मंत्रियों ने भी 2जी घोटाले को लेकर पीएम को जानकारी दी थी. राय ने कमलनाथ की उस चिट्ठी को भी सार्वजनिक किया है जिसमें कमलनाथ ने मनमोहन सिंह को अलर्ट किया है. लेकिन राय का कहना है कि कमलनाथ की इस चेतावनी को पूर्व प्रधानमंत्री ने नजरअंदाज कर दिया.

 

टाइम्स नाउ को दिए इंटव्यू में राय ने कहा कि कोयला ब्लॉक घोटाले को लेकर भी पूर्व पीएम को पहले ही सजग कर दिया गया था. पूर्व कोयला सचिव ने भी पूर्व कैग राय के इन दावों का समर्थन किया है.

 

हालांकि कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने राय के इन आरोपों को निराधार और झूठा बताया है. वहीं राय के इन खुलासों को पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने सिरे से खारिज किया है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sandeep refuse cag allegation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017