नोबेल पुरस्कार जीतने वाले पांचवें भारतीय नागरिक हैं सत्यार्थी

By: | Last Updated: Saturday, 11 October 2014 5:24 AM
Satyarthi 5th Indian citizen to win Nobel

कैलाश सत्यार्थी ने 1980 में अपने संगठन 'बचपन बचाओ आंदोलन' की शुरुआत की.

नई दिल्ली: कैलाश सत्यार्थी आज नोबेल पुरस्कार जीतने वाले पांचवें भारतीय नागरिक बनकर रबींद्र नाथ टैगोर, सीवी रमन, मदर टेरेसा और अमर्त्य सेन जैसी हस्तियों की सूची में शामिल हो गये.

 

सत्यार्थी और पाकिस्तान की मलाला यूसुफजई को 2014 के लिए नोबेल शांति पुरस्कार का संयुक्त विजेता चुना गया. सत्यार्थी नोबेल शांति पुरस्कार जीतने वाले भारतीय मूल के पहले व्यक्ति हैं.

 

टैगोर वर्ष 1913 में साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय थे. रमन को वर्ष 1930 में भौतिक विज्ञान के लिए इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

 

अल्बेनिया मूल की और बाद में भारतीय नागरिकता लेने वाली रोमन कैथोलिक नन मदर टेरेसा को वर्ष 1979 में नोबेल शांति पुरस्कार से विभूषित किया गया. उन्होंने ‘द मिशनरीज आफ चैरिटी’ की नींव रखी थी.

 

वर्ष 1998 में अर्थशास्त्र क्षेत्र का नोबेल पुरस्कार कोलकाता में जन्मे अर्थशास्त्री सेन ने ‘कल्याणकारी अर्थशास्त्र में अपने योगदान के लिए’ जीता.

 

इनके अलावा, ‘इंटरगवर्मेंटल पैनल आन क्लाइमेट चेंज’ संस्था को वर्ष 2007 में नोबेल शांति पुरस्कार से नवाजा गया. इस संस्था के अध्यक्ष राजेंद्र के पचौरी हैं.

 

भारत से ताल्लुक रखने वाले कुछ अन्य पुरस्कार विजेताओं में रोनाल्ड रोस शामिल हैं जिन्हें 1902 में ‘मेडिसिन’ क्षेत्र में यह सम्मान मिला. वह भारत में जन्मे ब्रिटिश नागरिक थे.

 

इसी प्रकार, वर्ष 1907 में साहित्य क्षेत्र में इस पुरस्कार के विजेता ब्रिटिश नागरिक रूडयार्ड किपलिंग का जन्म भारत में ही हुआ था. वर्ष 1968 में ‘मेडिसिन’ में नोबेल पुरस्कार जीतने वाले हरगोविंद खुराना का जन्म भारत में हुआ था लेकिन उन्होंने 1966 में अमेरिकी नागरिकता ग्रहण कर ली थी.

 

वर्ष 1979 में पाकिस्तानी नागरिक अब्दस सलाम को भौतिकी में यह पुरस्कार मिला. उनका भी जन्म भारत में हुआ था.

 

वर्ष 1983 में भौतिकी में इस सम्मान से नवाजे गये सुब्रमण्यम चंद्रशेखर का जन्म भारत में हुआ था. उन्होंने 1953 में अमेरिकी नागरिकता ले ली थी.

 

वर्ष 1989 में तिब्बती धर्मगुरू दलाई लामा को नोबेल शांति पुरस्कार मिला. वह 1959 से भारत में रह रहे हैं.

 

त्रिनिदाद में जन्मे और भारतीय मूल के ब्रिटिश नागरिक वीएस नायपाल को 2001 में साहित्य में यह सम्मान मिला.

 

वर्ष 2006 में मुहम्मद यूनुस को शांति का नोबेल पुरस्कार मिला. उनका जन्म बंटवारे से पहले भारत में हुआ था. वह बांग्लादेश के नागरिक बनने से पहले 1971 तक पाकिस्तान के नागरिक रहे.

 

वर्ष 2009 में वेंकटरमन रामकृष्णन को रसायन विज्ञान क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार मिला. उनका जन्म भारत में हुआ लेकिन उनके पास ब्रिटेन और अमेरिका की दोहरी नागरिकता थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Satyarthi 5th Indian citizen to win Nobel
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Kailash Satyarthi Nobel Peace Prize
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017