SC Judges VS CJI: all you need to know about judge B H Loya's case SC के जजों में विवाद की एक वजह है जज लोया की मौत, जानें क्या है पूरा मामला?

SC के जजों में विवाद की एक वजह है जज लोया की मौत, जानें क्या है पूरा मामला?

बॉम्बे लॉयर्स असोसिएशन ने भी 8 जनवरी को बंबई हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर जज लोया की मौत की जांच कराने की मांग की थी.

By: | Updated: 12 Jan 2018 03:09 PM
SC Judges VS CJI: all you need to know about judge B H Loya case

नई दिल्ली: सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले की सुनवाई करने वाले विशेष सीबीआई जज बी एच लोया की संदिग्ध मौत की जांच को लेकर बड़ा विवाद हो गया है. सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सुप्रीम कोर्ट में सब कुछ ठीक नहीं होने की बात कही है. जस्टिस गोगोई ने कहा है कि जजों में विवाद की वजह जज लोया की संदिग्ध मौत का मामला भी है.


प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब जस्टिस गोगोई से पूछा गया कि क्या ये विवाद जज लोया की संदिग्ध मौत से जुड़ा है. इसके जवाब में जस्टिस गोगोई ने कहा- 'जी हां.'


सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों की तरफ से चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को लिखी चिट्ठी में क्या है?


15 जनवरी तक के लिए टली सुनवाई


बता दें कि आज जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस शांतनागौडर की बेंच ने लोया की मौत वाली याचिका पर सुनवाई की. बेंच ने इस मामले को 15 जनवरी तक के लिए टाल दिया है.


आज की सुनवाई का ब्यौरा 




  • सिर्फ 2-3 मिनट चली सुनवाई

  • कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला और पत्रकार बी आर लोने की याचिकाएं थीं

  • तहसीन पूनावाला के लिए इंदिरा जय सिंह ने जांच की मांग उठाने की कोशिश की

  • बेंच ने कहा- ये एक बेहद गंभीर मसला है. पहले महाराष्ट्र के वकील राज्य सरकार से निर्देश लें. मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखना भी ज़रूरी है, हम मामले को दोबारा सोमवार को सुनेंगे


आपको बता दें कि ये याचिका महाराष्ट्र के पत्रकार बी आर लोन की तरफ से दायर की गई है. याचिका में उन्होंने कहा है कि संवेदनशील सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले की सुनवाई कर रहे लोया की रहस्यमयी मौत की निष्पक्ष जांच कराने की जरुरत है.


जानिए उन 4 जजों के बारे में जिन्होंने चीफ जस्टिस पर उठाए सवाल


एक दिसंबर 2014 को हुई थी जज लोया की मौत


जज लोया की एक दिसंबर 2014 को नागपुर में दिल का दौरा पड़ने से उस समय मौत हो गई थी, जब वह अपनी एक सहकर्मी की बेटी की शादी में शामिल होने के लिए जा रहे थे. यह मामला तब सामने आया जब उनकी बहन ने भाई की मौत पर सवाल उठाए थे. बहन के सवाल उठाने के बाद मीडिया की खबरों में जज लोया की मौत और सोहराबुद्दीन केस से उनके जुड़े होने की परिस्थितियों पर संदेह जताया गया था.


आपको बता दें कि बॉम्बे लॉयर्स असोसिएशन ने भी 8 जनवरी को बंबई हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दायर कर जज लोया की मौत की जांच कराने की मांग की थी.


चीफ जस्टिस पर सुप्रीम कोर्ट के ही चार जजों ने ही उठाए सवाल, जानें इस पर किसने क्या कहा है


सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर का है ये मामला


गुजरात में सोहराबुद्दीन शेख, उनकी पत्नी कौसर बी और उनके सहयोगी तुलसीदास प्रजापति के नवंबर 2005 में हुई कथित फर्जी मुठभेड़ मामले में पुलिसकर्मी समेत कुल 23 आरोपी मुकदमे का सामना कर रहे हैं. बाद में यह मामला सीबीआई को सौंपा गया और मुकदमे को मुंबई ट्रांसफर किया गया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: SC Judges VS CJI: all you need to know about judge B H Loya case
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मेघालय में 27 फरवरी को होंगे विधानसभ चुनाव, तीन मार्च को आएंगे नतीजे