दंगों में धार्मिक स्थलों के नुकसान की भरपाई कौन करेगा ? SC ने सुरक्षित रखा फैसला

SC reserves order on funding repairs of religious places

सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली : क्या 2002 के गुजरात दंगों में धार्मिक स्थलों को हुए नुकसान की भरपाई राज्य सरकार को करनी चाहिए ? सुप्रीम कोर्ट ने आज इस सवाल पर फैसला सुरक्षित रख लिया है. ये मामला 2012 में सुप्रीम कोर्ट पहुंचा था.

हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील दाखिल की थी

तब गुजरात सरकार ने हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील दाखिल की थी. गुजरात हाई कोर्ट ने आदेश दिया था कि राज्य सरकार को धार्मिक स्थलों को हुए नुकसान का मुआवजा देना होगा.

यह भी पढ़ें : ‘अफसरों’ को PM मोदी ने दी ‘आउटपुट’ की सीख, खास अंदाज में सुनाया मजेदार किस्सा

क्षतिग्रस्त हुए धार्मिक स्थलों की लिस्ट बनाने को कहा था

हाई कोर्ट ने राज्य के सभी 26 जिलों में दंगों के दौरान क्षतिग्रस्त हुए धार्मिक स्थलों की लिस्ट बनाने को कहा था. याचिकाकर्ता की तरफ से दावा किया गया था कि ऐसे स्थलों की संख्या लगभग 500 है. राज्य सरकार का मानना है कि संख्या इससे बहुत कम है.

दलील है कि उसे मुआवज़ा देने के लिए कहना गलत है

उसकी ये भी दलील है कि उसे मुआवज़ा देने के लिए कहना गलत है. गुजरात सरकार की तरफ से पेश वकील ने कहा, “संविधान के अनुच्छेद 27 के तहत करदाता को ये अधिकार दिया गया है कि उससे किसी धर्म को प्रोत्साहन देने के लिए टैक्स नहीं लिया जा सकता. ऐसे में, धर्मस्थलों के निर्माण के लिए सरकारी ख़ज़ाने से पैसा देना गलत होगा.”

यह भी पढ़ें : अयोध्या विवादित ढांचा विध्वंस मामला: देखिए 5 दिसंबर 1992 की तस्वीरें क्या बोल रही हैं? 

नीति बनाई हुई है कि वो धर्मस्थलों को हुए नुकसान की भरपाई नहीं करेगी

उन्होंने आगे कहा कि गुजरात सरकार ने आधिकारिक तौर पर ये नीति बनाई हुई है कि वो धर्मस्थलों को हुए नुकसान की भरपाई नहीं करेगी. राज्य सरकार ने 2001 के भूकंप में क्षतिग्रस्त हुए धर्मस्थलों के लिए भी कोई मुआवज़ा नहीं दिया था.

संस्था इस्लामिक रिलीफ सेंटर के वकील ने इसका विरोध किया

हाई कोर्ट में मामले की याचिकाकर्ता रही संस्था इस्लामिक रिलीफ सेंटर के वकील ने इसका विरोध किया. उन्होंने कहा कि धर्मस्थलों की सुरक्षा राज्य सरकार की ज़िम्मेदारी है. सरकार की गैरजिम्मेदारी से हुए नुकसान की उसे भरपाई करनी चाहिए.

यह भी पढ़ें : अयोध्या कांड में नया विवाद, पूर्व बीजेपी सांसद का दावा- ‘मेरे कहने पर बाबरी ढांचा गिरा’

रिलीफ सेंटर के वकील ने कहा कि अनुच्छेद 27 का हवाला देना गलत है

इस्लामिक रिलीफ सेंटर के वकील ने कहा कि अनुच्छेद 27 का हवाला देना गलत है. भारत का संविधान धार्मिक भावनाओं को लेकर बहुत उदार है. सुप्रीम कोर्ट ने प्रफुल्ल गोरड़िया बनाम भारत सरकार मामले में हज सब्सिडी को सही ठहराया था.

धार्मिक स्थलों की मदद के लिए कानून नहीं बना सकते

सुप्रीम कोर्ट में मामले को सुन रही बेंच के वरिष्ठ जज जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा, “अनुच्छेद 27 ऐसा नहीं कहता कि केंद्र या राज्य धार्मिक स्थलों की मदद के लिए कानून नहीं बना सकते.” हालांकि, जस्टिस मिश्रा ने ये भी कहा कि अगर गुजरात सरकार ने धर्मस्थलों की मदद का कानून बनाया होता, तब भी मुआवजा नहीं देती तो बात दूसरी होती.

यह भी पढ़ें : मुस्लिम पुरुषों से शादी करने वाली हिंदू महिलाओं की तीन तलाक वाली याचिका दिल्ली हाईकोर्ट में खारिज

5 साल से लंबित इस मामले की सुनवाई इन 2 अहम सवालों पर रही है :

पहला, अगर सरकार अपनी गैरजिम्मेदारी से धार्मिक स्थल को हुए नुकसान का मुआवज़ा देती है तो क्या इसे किसी धर्म को प्रोत्साहन देना माना जा सकता है?

दूसरा, अगर किसी बड़े कमर्शियल कॉम्पलेक्स को दंगाई तबाह कर देते हैं तो क्या उस नुकसान की भरपाई भी सरकार को करनी चाहिए? अगर ऐसा है तो इंश्योरेंस क्यों कराया जाता है?

First Published:

Related Stories

लालू परिवार के पास एक और बेनामी संपत्ति: सुशील मोदी
लालू परिवार के पास एक और बेनामी संपत्ति: सुशील मोदी

पटना: भाजपा नेता सुशील मोदी ने आज लालू प्रसाद के परिवार के पास एक और ‘बेनामी संपत्ति’ होने का...

मुंबई: देश के सबसे बड़े पोर्ट JNPT में वायरस रैनसमवेयर का अटैक, कामकाज ठप्प
मुंबई: देश के सबसे बड़े पोर्ट JNPT में वायरस रैनसमवेयर का अटैक, कामकाज ठप्प

नई दिल्ली: फिरौती मांगने वाला वायरस रैनसम वेयर फिर से लौट आया है. इस वायरस का असर दुनिया के कई...

तीन देशों का दौरा पूरा कर स्वदेश लौटे पीएम नरेन्द्र मोदी
तीन देशों का दौरा पूरा कर स्वदेश लौटे पीएम नरेन्द्र मोदी

द हेग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों- पुर्तगाल, अमेरिका और नीदरलैंड का दौरा पूरा करने के...

भारत और नीदरलैंड ने एक स्वर में कहा, 'आतंकवाद के लिए दोहरे मापदंड नहीं'
भारत और नीदरलैंड ने एक स्वर में कहा, 'आतंकवाद के लिए दोहरे मापदंड नहीं'

द हेग: भारत और नीदरलैंड ने आतंकवाद की समस्या पर ध्यान देने में दोहरे मानदंडों के इस्तेमाल की...

आज से शुरू हुई 40 दिन तक चलने वाली अमरनाथ यात्रा, खुफिया रिपोर्ट में हमले की चेतावनी
आज से शुरू हुई 40 दिन तक चलने वाली अमरनाथ यात्रा, खुफिया रिपोर्ट में हमले की...

श्रीनगर: कश्मीर में सालाना होने वाली अमरनाथ यात्रा आज से शुरू हो रही है. वहीं, खुफिया रिपोर्ट ने...

कश्मीर में आतंक को ललकारती आवाज का वायरल सच
कश्मीर में आतंक को ललकारती आवाज का वायरल सच

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर हर रोज कई फोटो, वीडियो और मैसेज वायरल होते हैं. इन वायरल फोटो, मैसेज और...

नीदरलैंड्स में भारतीयों के बीच बोले पीएम मोदी- पासपोर्ट का रंग बदलने से खून के रिश्ते नहीं बदलते
नीदरलैंड्स में भारतीयों के बीच बोले पीएम मोदी- पासपोर्ट का रंग बदलने से खून...

हेग/नई दिल्ली: चार दिनों के विदेश दौरे पर निकले पीएम मोदी आज अमेरिका से नीदरलैंड्स पहुंचे. यहां...

जेडीयू का सवाल: महागठबंधन का जीवन क्यों कम कर रही कांग्रेस?
जेडीयू का सवाल: महागठबंधन का जीवन क्यों कम कर रही कांग्रेस?

नई दिल्ली: जेडीयू ने अपने अध्यक्ष नीतीश कुमार पर गैर.दोस्ताना और गैरजरूरी हमले को लेकर आज...

उपराष्ट्रपति चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं: वेंकैया नायडू
उपराष्ट्रपति चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं: वेंकैया नायडू

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने आज कहा कि उनकी किसी भी रस्मी पद में दिलचस्पी...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017