राम रहीम के खिलाफ मर्डर केस में कल सुनवाई, पंचकूला में सुरक्षा इंतजाम कड़े

राम रहीम के खिलाफ मर्डर केस में कल सुनवाई, पंचकूला में सुरक्षा इंतजाम कड़े

सीबीआई कोर्ट पत्रकार रामचंद्र छत्रपति और पूर्व डेरा प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या के मामलों की सुनवाई करेगी. हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने बताया, ‘‘मामलों में सुनवाई से पहले हमने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं.’’

By: | Updated: 15 Sep 2017 07:37 PM

चंडीगढ़: डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ हत्या के दो मामलों में शनिवार को सुनवाई होनी है. सीबीआई कोर्ट, पत्रकार रामचंद्र छत्रपति और पूर्व डेरा प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या के मामलों की सुनवाई करेगी. इसको लेकर पंचकूला में अर्द्धसैनिक बलों और हरियाणा पुलिस की टुकड़ियों को तैनात किया गया है. गुरमीत राम रहीम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शनिवार को रोहतक जेल से सीबीआई की स्पेशल कोर्ट के सामने पेश होगा. वह रेप के दो मामलों में 20 साल कैद की सजा भुगत रहा है.


 हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने बताया, ‘‘मामलों में सुनवाई से पहले हमने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए हैं.’’ उन्होंने कहा कि किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए पंचकूला में अर्द्धसैनिक बलों और हरियाणा पुलिस की टुकड़ी को तैनात किया गया है.


संधू ने कहा, ‘‘राम रहीम के खिलाफ मामले में सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होगी जो रोहतक जेल में बंद है.’’ रेप के दो मामलों में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने 28 अगस्त को राम रहीम को 20 साल कैद की सजा सुनाई थी.


पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या से जुड़ा मामला


सीबीआई के वकील एचपीएस वर्मा ने बताया, ‘‘हत्या के दो मामलों में अंतिम जिरह शनिवार को होगी.’’ अभियोजन के मुताबिक सिरसा के पत्रकार छत्रपति की अक्तूबर 2002 में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. उनके अखबार ‘पूरा सच’ ने एक गुमनाम पत्र छापा था जिसमें बताया गया था कि किस तरह से सिरसा स्थित डेरा मुख्यालय में महिलाओं का यौन उत्पीड़न होता था.


डेरा के प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या से जुड़ा मामला


दूसरा मामला डेरा के प्रबंधक रणजीत सिंह की हत्या से जुड़ा हुआ है जिनकी 2002 में हत्या हुई थी. अज्ञात पत्र को प्रसारित करने में उनकी संदिग्ध भूमिका के लिए उनकी हत्या की गई थी. हत्या का शिकार बने दोनों लोगों के परिजन ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. इसके बाद पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने नवम्बर 2003 में सीबीआई जांच के आदेश दिए थे. हत्या मामले में सीबीआई ने 30 जुलाई 2007 को चार्जशीट  दायर किया था.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story घोटाले के बाद नीरव मोदी का पहला बयान, कहा- पीएनबी का बकाया नहीं चुका सकते