हार्दिक पटेल पर दर्ज हुआ देशद्रोह का केस, तिरंगे के अपमान का आरोप

By: | Last Updated: Monday, 19 October 2015 5:11 AM

अहमदाबाद : गुजरात में पाटीदार समुदाय के लोगों के लिए आरक्षण की मांग को लेकर पिछले तीन महीने से आंदोलन चला रहे हार्दिक पटेल पर अब देशद्रोह का मामला दर्ज हो गया है. ये मामला उस भड़काऊ बयान को लेकर दर्ज हुआ है, जो इसी तीन अक्टूबर को हार्दिक पटेल ने सूरत में दिया था. ऐसे में अब लगातार विवादित बयान देने वाले हार्दिक की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

 

दरअसल, हार्दिक ने विपुल देसाई नामक एक युवक से मुलाकात के दौरान ये बयान दिया था. दरअसल विपुल ने आरक्षण की मांग को लेकर आत्महत्या की धमकी दी थी. हार्दिक ने विपुल से कहा था कि अगर कुछ करना ही चाहते हो, दो-पांच पुलिसवालों को मारो, किसी पाटीदार युवक को मरना नहीं चाहिए.

 

हार्दिक के इसी बयान को लेकर सूरत पुलिस ने आरंभिक जांच-पड़ताल की. डीसीपी रैंक के एक अधिकारी की जांच रिपोर्ट के आधार पर बीती रात सूरत शहर के अमरोली पुलिस थाने में हार्दिक पटेल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. हार्दिक के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धाराएं 124 ए, 153 ए, 505, 506 और 115 लगाई गई हैं.

 

ये धाराएं देशद्रोह से लेकर जातीय संघर्ष को पैदा करने, सुरक्षाबलों के खिलाफ लोगों को भड़काने और जान से मारने की धमकी से जुड़ी हैं. सूरत पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने हार्दिक के खिलाफ मामला दर्ज किये जाने की पुष्टि की है. अस्थाना के मुताबिक, जांच का जिम्मा सूरत पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंपा गया है.

 

हालांकि सूरत का ये अकेला मामला नहीं है, जो हार्दिक की कानूनी मोर्च पर मुसीबत बढ़ा सकता है. राजकोट में भी हार्दिक के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. कल हुए भारत-दक्षिण अफ्रीका एकदिवसीय क्रिकेट मैच में विघ्न डालने की हार्दिक ने हफ्ते भर पहले से घोषणा कर रखी थी. हार्दिक को राजकोट पुलिस ने अपने मंसूबे में कामयाब नहीं होने दिया और स्टेडियम के काफी पहले ही हिरासत में ले लिया.

 

जिस वक्त हार्दिक को हिरासत में लिया गया, उस वक्त हार्दिक ने राष्ट्रीय ध्वज यानी तिरंगा को उल्टा फहराया. ऐसे में हार्दिक के खिलाफ राजकोट ग्रामीण जिले की पुलिस ने पड़धरी थाने में राष्ट्रीय ध्वज के अपमान का मामला दर्ज किया. हार्दिक, अगस्त महीने में गुजरात के सूरत और अहमदाबाद शहर में बड़ी रैलियां कर चर्चा में आए.

 

22 साल के हार्दिक पटेल ने हाल में ऐसे कई बयान दिये हैं, जो भडकाऊ और गैर जिम्मेदाराना हैं. यहां तक कि गुजरात हाईकोर्ट ने भी हाल ही में हार्दिक पटेल के खिलाफ कड़ी टिप्पणी की है. दरअसल हार्दिक ने गुजरात पुलिस पर ये झूठा आरोप लगाने की कोशिश की थी कि 22 सितंबर की शाम अरवल्ली जिले में उनकी सभा के बाद पुलिस ने रात भर उनको गाड़ी में बिठाकर रखा था और धमकी दी थी.

 

इसी मामले में हार्दिक के वकील ने गुजरात हाईकोर्ट में हैबियस कार्पस भी की थी और हाईकोर्ट ने रात में ही इस मामले में सुनवाई भी की. बाद में पता ये चला कि पूरी कहानी मनगढ़ंत है और हार्दिक व उनके वकील मीडिया में सुर्खियां बटोरने की कोशिश कर रहे हैं. इस पर गहरी नाराजगी जाहिर करते हुए हाईकोर्ट ने हार्दिक और उनके वकील को लताड़ लगाई थी.

 

हार्दिक के हाल के बयान और दावे भी खोखले साबित हुए हैं. मसलन किसी कीमत पर दांडी से अहमदाबाद तक कूच करना या फिर राजकोट में मैच के दौरान हजारों समर्थकों के साथ हंगामा मचा देना. यहां तक कि पाटीदार समुदाय में भी हार्दिक के खिलाफ आवाज उठने लगी है और कहा जा रहा है कि हार्दिक के बयानों से जातीय उन्माद भड़क रहा है, जिससे अंत में पाटीदारों को ही नुकसान होगा.

 

हालांकि सुर्खियों में रहने की आदत से मजबूर हार्दिक हर दूसरे दिन कोई न कोई शगूफा छोड़ते रहते हैं. मसलन बिहार में जाकर बीजेपी के खिलाफ कैंपेन करने की बात या फिर पाटीदारों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर आंदोलन खड़ा करने का दावा. लेकिन, अब हार्दिक के लिए परेशानियां बढ़ने की शुरुआत हो गई है.

 

जिस तरह से कानूनी स्तर पर हार्दिक की मुश्कें कसने जा रही हैं, उससे साफ है कि गुजरात सरकार और पुलिस ने तय कर लिया है कि अब हार्दिक पटेल को उनकी जगह दिखा ही दी जाए. ये सरकार और पुलिस के उस रवैये से बिल्कुल उलट है, जब 25 अगस्त को अहमदाबाद में रैली के बाद भड़की हिंसा में सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचने और इस संबंध में हार्दिक के भड़काऊ बयानों के बावजूद उस समय कोई कार्रवाई नहीं की गई. हो सकता है इस बार जेल की सलाखों के पीछे पहुंच जाएं हार्दिक.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sedition case filed against Hardik Patel in Surat
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण राणे
बड़ी खबर: जल्द बीजेपी में शामिल हो सकते हैं कांग्रेस के बड़े नेता नारायण...

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में एक बड़ा भूकंप आने की तैयारी में है. महाराष्ट्र में कांग्रेस...

JDU राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक जारी, शरद यादव पर बड़ा फैसला ले सकते हैं नीतीश
JDU राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक जारी, शरद यादव पर बड़ा फैसला ले सकते हैं...

पटना: बिहार की राजनीति में आज का दिन बेहद अहम माना जा रहा है. पटना में नीतीश की पार्टी की जेडीयू...

यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा रजिस्ट्रेशन
यूपी: मदरसों को लेकर योगी सरकार का दूसरा बड़ा फैसला, अब जरुरी होगा...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने एक अहम फैसले के तहत शुक्रवार से प्रदेश के सभी...

बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153  तो असम में 140 से ज्यादा की मौत
बाढ़ का कहर जारी: बिहार में अबतक 153 तो असम में 140 से ज्यादा की मौत

पटना/गुवाहाटी: बाढ़ ने देश के कई राज्यों में अपना कहर बरपा रखा है. बाढ़ से सबसे ज्यादा बर्बादी...

CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'
CM योगी का राहुल गांधी पर निशाना, बोले- 'गोरखपुर को पिकनिक स्पॉट न बनाएं'

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज स्वच्छ यूपी-स्वस्थ...

नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड क्रॉस
नेपाल, भारत और बांग्लादेश में बाढ़ से ‘डेढ़ करोड़’ से अधिक लोग प्रभावित: रेड...

जिनेवा: आईएफआरसी यानी   ‘इंटरनेशनल फेडरेशन आफ रेड क्रॉस एंड रेड क्रीसेंट सोसाइटीज’ ने...

‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार
‘डोकलाम’ पर जापान ने किया था भारत का समर्थन, चीन ने लगाई फटकार

बीजिंग:  चीन ने शुक्रवार को जापान को फटकार लगाते हुए कहा कि वह चीन, भारत सीमा विवाद पर ‘बिना...

यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड
यूपी: मथुरा में कर्जमाफी के लिए घूस लेता लेखपाल कैमरे में कैद, सस्पेंड

मथुरा: योगी सरकार ने साढ़े 7 हजार किसानों को बड़ी राहत देते हुए उनका कर्जमाफ किया है. सीएम योगी...

बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब पता था’
बिहार: सृजन घोटाले में बड़ा खुलासा, सामाजिक कार्यकर्ता का दावा- ‘नीतीश को सब...

पटना:  बिहार में सबसे बड़ा घोटाला करने वाले सृजन एनजीओ में मोटा पैसा गैरकानूनी तरीके से सरकारी...

यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए
यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है. यहां पर कुछ...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017