पद्मावती पर बोले शाहिद कपूर, ‘निर्णय लेने के लिए सीबीएफसी सही संस्था-Shahid Kapoor speaks on Padmavati, 'CBFC is the right organization to decide

पद्मावती पर बोले शाहिद कपूर, ‘निर्णय लेने के लिए सीबीएफसी सही संस्था

शाहिद ने कहा ‘‘यह अच्छा है. फिल्म वहीं वापस आ गई जहां से हमने शुरू किया था. उन्होंने कहा कि निर्णय लेने के लिए सीबीएफसी सही निकाय होना चाहिए.

By: | Updated: 04 Dec 2017 12:52 PM
Shahid Kapoor speaks on Padmavati, ‘CBFC is the right organization to decide
नई दिल्ली: फिल्म 'पद्मावती'  को ले कर चल रहे विवाद के बीच अब फिल्म के अभिनेता शाहिद कपूर ने बयान  दिया है. उन्होने कहा कि फिल्म 'पद्मावती' के भविष्य का फैसला अब केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के हाथों में है. इस फिल्म के अभिनेता शाहिद कपूर का कहना है कि अब फिल्म सही प्राधिकार के पास है और उन्हें आशा है कि फिल्म जल्द ही रिलीज होगी. संजय लीला भंसाली द्वारा निर्देशित यह फिल्म एक दिसंबर को रिलीज होने वाली थी लेकिन सीबीएफसी द्वारा विस्तृत जानकारी के साथ दोबारा आवेदन करने की मांग के बाद निर्माताओं ने खुद ही फिल्म की रिलीज की तारीख को आगे बढ़ा दिया था.

फिल्म के निर्माताओं ने हाल ही में 3डी प्रमाणन के लिए आवेदन किया

शाहिद ने कहा ‘‘यह अच्छा है. फिल्म वहीं वापस आ गई जहां से हमने शुरू किया था. उन्होंने कहा कि निर्णय लेने के लिए सीबीएफसी सही निकाय होना चाहिए. मुझे उम्मीद है कि जल्द ही हमें एक निर्णय मिलेगा.’’ शाहिद कपूर ने यहां आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ' मैंने 'उड़ता पंजाब' के साथ भी कई तरह की समस्याएं देखीं और बाद में फिल्म रिलीज हुई. सभी लोगों ने इस फिल्म को देखा और पसंद किया. मुझे विश्वास है कि ऐसा ही पद्मावती के साथ भी होगा.' फिल्म को लेकर चल रहे विवाद से विचलित हुए बिना शाहिद ने कहा कि अगर टीम ने अच्छा काम किया है तो ‘पद्मावती’ अच्छी चलेगी.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Shahid Kapoor speaks on Padmavati, ‘CBFC is the right organization to decide
Read all latest Bollywood News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राहुल के इंटरव्यू पर बढ़ा विवाद, EC पहुंची कांग्रेस ने कहा- पीएम मोदी और अमित शाह पर भी हो FIR