कद के बावजूद पद से खाली 'शॉटगन' का हार को लेकर मोदी पर हमला

By: | Last Updated: Wednesday, 17 September 2014 8:07 AM

नई दिल्ली: पीएम मोदी के जन्मदिन से पहले कल का दिन बीजेपी के लिए बुरा रहा. उपचुनाव में करारी शिकस्त मिली. गुजरात में भी कांग्रेस ने बीजेपी से तीन सीटें छीन लीं हैं. विरोधियों के हमले के साथ ही अब सहयोगियों ने भी बीजेपी को आंख दिखाना शुरु कर दिया है. बीजेपी के अंदर से भी हार के नए नए कारण बताए जा रहे हैं.

 

बिहार के बाद यूपी उपचुनाव में बीजेपी की हार पर ‘शॉटगन’ शत्रुघ्न सिन्हा ने खरी-खोटी सुनाई है. सिन्हा ने पार्टी हाईकमान से वरिष्ठ नेताओं को पार्टी में वापस मुख्य भूमिका में लाने की मांग की है. सिन्हा ने उपचुनावों में बीजेपी की हार पर कहा, ”अनुभवी नेताओँ को किनारे लगाए जाने का खमियाजा भुगतना पड़ा.”

 

सिन्हा का कहना है, ”मेरा शुरु से यह मानना है और मेरी व्यक्तिगत राय है कि राजनीति में व्यक्ति 50-60 साल के बाद परिपक्व होता है. राजनीति में एंट्री ही 45-50 साल बाद होती है. इसके बाद अगर यह पैमाना तय किया गया है कि 75 साल के बाद राजनीति नहीं करना चाहिए. आप परिपक्व, अनुभवी को नहीं रखेंगे और कम अनुभव और परिवक्व नेताओँ को सामने लाएं तो उसका खमियाजा तो भुगतना ही पड़ेगा.” शत्रुघ्न सिन्हा ने यह बयान 75 साल के उम्र वाले नेताओं का साइडलाइन करने पर आया है.

 

लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी कई ऐसे नेता हैं जिन्हें साइडलाइन कर दिया गया था, शायद शत्रुघ्न सिन्हा का इशारा उसी तरफ था.

 

शत्रुघ्न सिन्हा ने सुशील मोदी पर तानाशाह की तरह काम करने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘उपचुनाव में सूमो वन मैन आर्मी की तरह काम करते रहे और दूसरे नेताओं से सलाह नहीं ली. बिहार में उनके अलावा और भी नेता हैं. उन्हें भी जिम्मेदारी दी जानी चाहिए और फैसलों में साझीदार बनाना चाहिए. मुझसे सलाह ली जाती है या यह मायने नहीं रखता, लेकिन सुशील मोदी को दूसरे नेताओं से जरूर सलाह लेनी चाहिए.’

 

उन्होंने कहा, ‘यूपी उपचुनाव के नतीजे चिंताजनक है. मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि ऐसा क्यों हुआ. ये चिंताजनक है और इसकी पड़ताल होनी चाहिए. बाकी जो है वो जनता का फैसला है. इस मामले में कुछ भी नहीं कहा जा सकता.’ आने वाले चुनावों में बेहतर प्रदर्शन करके हमें मोदी के हाथों को मजबूत बनाना होगा.

 

बिहार में सीएम बनने को लेकर सिन्हा ने कहा कि मेरे पास कद है  लेकिन मुझे पद की कोई इच्छा नहीं है. बिहार के सीएम पर फैसला आलाकमान को करना है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: shatrughan_sinha_on_bjp
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bihar BJP by election Shatrughan Sinha UP
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017