शिखर समागम: जानें, पल-पल की लाइव अपडेट की हर छोटी-बड़ी बातें

By: | Last Updated: Saturday, 26 September 2015 4:28 AM
Shikhar Samagam Live

नई दिल्ली: आज दिन भर एबीपी न्यूज़ पर शिखर समागम का प्रसारण हुआ जिसमें ‘हिन्दुस्तान की तरक्की का नया दौर’ विषय पर विचार मंथन हुआ. इस मंथन से भविष्य के लिए नई उम्मीदों की राह खुलेगी. आज दिन भर एबीपी न्यूज़ के इस शिखर समागम के मंच पर सीएम अखिलेश यादव, कें द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय सड़क परिवहन, राजमार्ग व जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी तथा मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी जैसी शख्सियतें दिखीं. युवा लेखक अमीश त्रिपाठी, क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग व गौतम गंभीर, आईपीएल के चेयरमैन राजीव शुक्ल, गीतकार जावेद अख्तर, अभिनेत्री शबाना आजमी, कंगना रनौत और अभिनेता इरफान खान भी मंच पर आए.

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में अमीष त्रिपाठी

 

  • मैंने अपनी पहली दो किताबें अपनी नौकरी करते वक्त ही लिखीं.

  • मैंने कभी सोचा नहीं था कि मैं लेखक बनूंगा- अमीष

  • सिर्फ काशी में नहीं हिंदुस्तान के घर-घर में शिवजी हैं. शिव पर लिखी किताब की शुरुआत एक शुद्ध फिलॉसॉफी थीसिस से हुई थी.

  • हमें शिवजी बहुत प्रभावित करते हैं, वो बागियों के भगवान हैं, वो खुद भी कानून तोड़ते हैं.

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में कंगना रनौत और इरफान खान

  • इरफान मेरे फेवरेट अभिनेता हैं- कंगना

  • मेरे रोल मॉडल हमेशा बदलते रहते हैं- इरफान खान

  • हमारी फिल्मों को दुनिया में एक ही नज़र से देखा जाता है कि फिल्म में कभी भी नाच-गाना आ सकता है- इरफान
  • मैं असल जिंदगी में भी ‘क्वीन’ की तरह ही हूं, मुझमें उतना ही आत्मविश्वास है. मैं अपने अधिकारों के लिए लड़सकती हूं- कंगना

  • लोगों ने कहा कि हाल ही में आई ‘कट्टी बट्टी’ में मेरा किरदार बहुत छोटा था.

  • बॉडी लैंग्वेज मेरे किरदार में एक अहम हिस्सा रहती है- कंगना

  • कुछ डायरेक्टर ही आपको अपने मन का काम करने देते हैं. कई बार लगता है आप डायलॉग जोड़ते हैं- इरफान

  • कुछ कहानिया डिमांड करती हैं कि आप लगातार किरदार के  साथ रहो- इरफान

 

  • डायलॉग बोलने में ज्यादा वक्त लेने से प्रोड्यूसर मुझसे परेशान हो जाता था- इरफान

  • एक डायरेक्टर ने 800 रुपए देने का वादा किया था लेकिन 350 ही दिए. कई डायरेक्टर कहते थे कि ऐसे एक्टिंग मत किया करो – इरफान खान

  • शुरु में बताया जाता था कि डायरेक्टर ही एक्टिंग कराता है- कंगना

  • शुरु में टेलीविजन में बहुत काम किया, लेकिन फिर बोर होने लगा- इरफान खान

  • हमारे सफर में सफर ही है कोई मंजिल नहीं आती- इरफान खान

  • ठोकरों ने मुझे ज्यादा पक्का बना दिया है- इरफान खान

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम  में बॉलीवुड अभिनेत्री शबाना आजमी और गीतकार जावेद अख्तर

  • हिंदू और मुसलमानों के बारे में नेताओं की राय अच्छी नहीं. एक कट्टरपंथी हिंदू और मुसलमान को पकड़ने में नेता डरते हैं. इनको लगता है हिंदू और मुसलमान नाराज हो जाएंगे- जावेद अख्तर

  • भारत और पाकिस्तान के लोगों के बीच बात होनी चाहिए- जावेद अख्तर

  • भारत-पाकिस्तान की सरकारें आपस में बात करती रहें. इस इलाके में शांति रहना जरूरी- जावेद अख्तर

  • बच्चों को चुननी की आजादी तो देनी चाहिए. बच्चों को शुरु से ही हिंदू-मुसलमान क्यों बना देते हैं? 18 की उम्र में उससे कहो जो चुनना है चुन लो- जावेद अख्तर

  •  मेरे बच्चों पर मेरा असर ज्यादा नहीं है. फरहान ने एक दिन हैरानी से पूछा क्या हम मुसलमान है?- जावेद अख्तर

  •  मुश्किल जुबान में लिखना आसान लेकिन आसान जुबान में लिखना मुश्किल- जावेद अख्तर

  • फिल्मों में निभाए आपके रोल का लोगों पर असल जिंदगी में असल पड़ता है- शबाना

  • मेरी मां, पिता और फिल्मों का असर मुझ पर पड़ा. मैं कई लोगों के लेखन से प्रभावित हूं, उनमें मेरे पिता भी शामिल हैं- शबाना

  • समाजसेवा करना बचपन से ही मेरे जीवन का अहम हिस्सा रहा था- शबाना

  • स्मिता पाटिल और मेरा बैकग्राउंड एक जैसा था. हमने एक जैसी फिल्में की. प्रेस ने हमारे बीच दुश्मनी की कहानी बताई- शबाना आजमी

  • बाद में फिल्मों  के पोस्टर पर लेखक का नाम लिखा जाने लगा- जावेद अख्तर

  • पहले फिल्मों के पोस्टर में लेखक का नाम नहीं लिखा जाता था, मैंने खुद ही पोस्टर पर अपना नाम लिख दिया था. कुछ लोगों को ले जाकर मैंने चौराहे पर हर पोस्टर अपना नाम लिख दिया- जावेद अख्तर

  • बच्चों की किताबों में लिखा होता है कि मां रसोईघर में है. बच्चा बीमार हो तो ऐसा क्यों होता है कि मां को ही घर में रूकना पड़ता है. हर स्तर पर बराबरी का दर्जा होना चाहिए- शबाना

  • शबाना और मैं हमेशा से एक-दूसरे को जानते थे, फिल्मों के सिलसिले में एक-दूसरे से मुलाकात होती थी- जावेद अख्तर

  • मैं शबाना के पिता कैफी आजमी से अक्सर मिलता था- जावेद अख्तर

  • जावेद और मैं बहुत अच्छे दोस्त हैं, हम खुश रहते हैं क्योंकि हमारी मुलाकात बहुत कम हो पाती है-शबाना आज़मी

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम  में वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर और राजीव शुक्ल

  • सभी खिलाड़ों का अपना हुनर होता है, सहवाग का अपना हुनर है और गंभीर का अपना- शुक्ल

  • क्रिकेट में कामयाब होने केलिए बेसिक सीखना बेहद जरूरी, मैं अपने क्रिकेट स्कूल में भी यही सबसे पहले सिखाता हूं- सहवाग

  • मेहनत के अलावा कोई भी ऐसी चीज नहीं जो खिलाड़ी को इंटरनेशनल स्तर पर कामयाब बना सकती है- गौतम गंभीर

  • पाकिस्तान सुरक्षा की गारंटी लेने को तैयार हो और जो मुद्दे हैं वो हल होते हैं तो पाकिस्तान के साथ खेलने को तैयार- शुक्ल
  • पाकिस्तान बोर्ड की तरफ से आया शहरयान खान का बयान ICC को धमकी-शुक्ल
  • कोई खिलाड़ी जानबूझकर खराब नहीं खेलता, 5-7 साल में टीम इंडिया में 50-60 पआतिशत खिलाड़ी बदल जाते हैं- राजीव शुक्ल

  • कई बार गौतम गंभीर का गुस्सा कम करने के लिए उन्हें गाने भी सुनाए- सहवाग

  • बतौर ओपनर बल्लेबाज़ बेहतरीन बल्लेबाज़ी की- गौतम गंभीर

  • टीम का हिस्सा होने पर मुझे गर्व है. लोग मैदान में खिलाड़ी नहीं खेल देखने जाते हैं- सहवाग

 

  • कई बार गौतम गंभीर मुझे सचिनसे बेहतर लगे- राजीव शुक्ला

  • सबकी सहमति से अगला अध्यक्ष बने, सहमति से अध्यक्ष का चुनावडालमिया को सच्ची श्रद्धांजलि होगी- राजीव शकुला

  • मैं BCCI अध्यक्ष बनने की होड़ में नहीं- राजीव शुक्ला

  • मेरा टीम में होना ज्याद इंपॉर्टेंट नहीं, टीम का जीतना ज्यादा जरूरी- गौतम गंभीर

  • मुझे गर्व है कि मैं एक चैंपियन टीम के लिए खेला:- वीरेंद्र सहवाग

  • जब आपका सेलेक्शन नहीं होता आप ये सोचते हो कि सेलेक्शन कैसे हो. इसका बस एक ही तरीका है आपका टैलेंट- वीरेंद्र सहवाग

 

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में स्मृति ईरानी

  • इलाहबाद हाईकोर्ट के बच्चों को सरकारी स्कूल में पढ़ाने के आदेश पर कहा, अदालत के आदेश पर टिप्पणी नहीं कर सकती

  • मैं किसी को वीसी का पद ऑफर नहीं कर सकती, सुब्रमण्यम स्वामी की उम्र पार हो चुकी है,उन्हें वीसी बनने का कोई ऑफर नहीं दिया.

  • मुझे नोटिस भेजकर गांधी परवार ने डराने की कोशिश की, लेकिन मैं डरने वाली नही.

  • मेरा मनना है कि राजनीति मुद्दों के आधार पर हो सकती है. इसका स्तर बढ़ाने के लिए जरूरी है कि मुद्दों पर तर्क हों

  • राहुल जी कहां जाना चाहते हैं, यह उनका निजी अधिकार. मैंने कभी उन पर व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं की

  • मेरा मनना है कि राजनीति मुद्दों के आधार पर हो सकती है. इसका स्तर बढ़ाने के लिए जरूरी है कि मुद्दों पर तर्क हों

  • मीडिया जज की भूमिका नहीं निभाए, सूचना दे. मैं मीडिया से नाराज़ नहीं

  • शाला दर्पण कार्यक्रम से माता-पिता को बच्चे के स्कूल जाने की जानकारी और शिक्षक की उपस्थिति की भी जानकारी मिलेगी.
  • हमारी कोशिश है कि सरकारी कॉलेजों में बाहर से पढ़ाने आएं टीचर्स

  • RSS को हम अपने काम की रिपोर्ट नहीं देते

  • हमने GUIAN ग्लोबल इनिशिएटिव फॉर एकेडमिशियन कार्यक्रम शुरु किया है. इसके तहत विदेश से विशेषज्ञों को बुला सके हैं.  मंत्रालय के पास ऐसे 320 फैकल्टीज को बुलाने की लिस्ट आई है.

  • यूपी के सीएम अखिलेश यादव से बात हुई है, यूपी की योजनाओं को केंद्र का पूरा सहयोग है.

  •   शिक्षा को लेकर सिर्फ राज्य, केंद्र स्तर पर योजनाएं बनती हैं. जिला स्तर पर योजनाएं बनने की जरूरत. पाठ्यक्रम की समय-समय पर समीक्षा होनी चाहिए.

  • स्किल महज एक छोटा सा प्रयास नहीं है, यह हमारी सरकार का एक विजन है

  • शिक्षा को संस्कृति, पर्यावरण से जोड़ना है, अच्छा इंसान बनना सीखना है

  • चपरासी पद के लिए पीएचडी, बीटेक उम्मीदवार वाले चिंता का विषय

  • जिस पद पर मैं हूं वह आयु का या  महिला-पुरूष में भेद नहीं करता. शिक्षा मंत्री के पद का उम्र से कोई लेना-देना नहीं.

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में नितिन गडकरी

  • वाराणसी से हल्दिया तक अगले साल पानी के जहाज चलेंगे. यूपी के 5 शहरों में पानी के जरिए आना-जाना शुरु होगा.

  • टोल कभी खत्म नहीं होगा,सरकार के पास सड़क बनाने के लिए पैसे नहीं. टोल कम ज्याद हो सकता है पर खत्म नहीं.  बेहतर रोड का इस्तेमाल करना है तो टैक्स देना होगा. विदेश से कर्ज लेंगे तो ब्याज लगेगा

  • 63 हजार करोड़ के रोड 3 साल में बिहार में बनाएंगे. कई रोड बनाने के काम शरु, कई के टेंडर निकालेंगे.
  • नीतीश कुमार 50 हजार करोड़ का पैकेज मांगते थे, हमने सवा लाख करोड़ का दे दिया.
  • मुंबई-नागपुर, बड़ौदा-मुंबई एक्सप्रेस हाइवे भी बनाएंगे
  • सड़क बनाने के लिए बहुत लोग निवेश करना चाहते हैं, सरकार के पास भी बहुत पैसा. देश के पास पैसे की कमी नहीं, दृष्टिकोण बदलने की जरूरत
  • मंत्री मजबूत रहे तो अधिकारियों को काम करना पड़ता है.
  • दिल्ली से कटरा एक्सप्रेस हाइवे भी बनेगा. अब पर्यावरण और जमीन अधिग्रहण की कोई समस्या नहीं है.
  • देश का पहला हाइवे बनाने का सौभाग्य मुझे प्राप्त हुआ

  • एनएच-24 को 14 लेन बनाएंगे, मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस हाइवे

  • अभी तक हमने 4 हजार करोड़ की जमीन एक्वायर की है

  • देश की जीडीपी में 2 फीसदी योगदान देगा मेरा मंत्रालय

  • जब हम सत्ता में आए थे 2 किलोमीटर सड़क हर रोज बनती थी लेकिन आने वाले दिनों में 25-30 किलोमीटर स़ड़क बनाएंगे

  • 2 साल के अंदर पॉल्यूशन फ्री बैटरी से चलने वाले वाहन बनाएंगे

  • शिपिंग में इस साल हमें मुनाफा हुआ है.

  • अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन एफ कैनेडी ने कहा था कि सड़क से समृद्धि आती है

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में राजनाथ सिंह

  • GST लागू करने से हमारी विकास दर बहुत बढ़ेगी, विपक्ष इसे लागू होने दे

  • हम विपक्ष को अनदेखा कर नहीं चलना चाहते. जमीन बिल पर गलत संदेश नीचे जा रहा था

  • मैं संकटमोक नहीं हूं औऱ ना ही संकट पैदा करने वालों में से हूं

  • हम RSS को रिपोर्ट कार्ड नहीं देते, RSS कभी रिपोर्ट कार्ड नहीं मांगता. हमें बर्खास्त करने की धमकी नहीं मिलती – राजनाथ

  • हम सभी RSS के स्वयंसेवक हैं. आरएसएस जाति के आधार पर नफरत फैलाने की इजाजत नहीं दे सकता

  • भारत दुनिया के अन्य देशों जैसा नहीं है. सिर्फ भारत में इस्लाम के 72 फिरके मिलते हैं

  • भारत में ISIS का असर नहीं, इस्लाम को मानने वालों को बधाई

  • साइबर क्राइम हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती, उसकी सुरक्षा के लिए भी हम कड़े कदम उठा रहे हैं.

  • वामपंथी उग्रवाद में भी गिरावट आई है. 125 जिलों में वामपंथी उग्रवाद, यह सबसे बड़ी चुनौती

  • जम्मू-कश्मीर हमारे लिए बड़ी चुनौती है

  • म्यांमार, भूटान और बांग्लादेश के साथ हमने सुरक्षा पर चर्चा और साझा रणनीति बनाने की बात की है

  •  2014 में घुसपैठ की 52 घटनाएं हुईं, 2015 में अब तक घुसपैठ की 15 घटनाएं

  • नागालैंड में हमें बड़ी कामयाबी मिली

  • आने वाले दिनों में भारत दुनिया का नेतृत्व करेगा.

  • पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ एक प्रॉक्सी वार छेड़ रखा है. 2015 में 15 घटनाएं घुसपैठ की हुईं.

  • पाक लगातार सीज़फायर का उल्लंघन करता रहता है, हमारी सरकार आने के बाद हमने इसका जवाब दिया है. पहली गोली भारत की तरफ से नहीं चलनी चाहिए.

  • साउथ एशिया का भारत अकेला ऐसा देश है जिसकी सीमा 6 देशों से लगती है. नेपाल, भूटान जैसे पड़ोसी देशों से हमें कोई समस्या नहीं है

  • भारत की अर्थव्यवस्था के विकास की गति कायम रही तो आने वाले एक-डेढ़ दशक में भारत टॉप-3 अकॉनोमी में शामिल होगा

  • भारत की अर्थव्यवस्था के विकास की गति कायम रही तो आने वाले एक-डेढ़ दशक में भारत टॉप-3 अकॉनोमी में शामिल होगा

 

 

हिन्दुस्तान शिखर समागम में अखिलेश यादव

देश के चौथे सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश की कमान अखिलेश यादव के हाथ में है. अखिलेश ने राज्य के 20वें मुख्यमंत्री के तौर पर मार्च 2012 में प्रदेश की बागडोर संभाली. देश के मौजूदा मुख्यमंत्रियों में अखिलेश सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री हैं. 

अखिलेश यादव ने कहा-

  • हमारे मुद्दे एक हो सकते हैं लेकिन विचारधारा अलग है

  • PM मोदी द्वारा की गई तारीफ के पीछे बहुत बड़ी राजनीति है, इससे सावधान रहना होगा

  • यूपी में लोग ट्रैक्टर से भी मोबाइल चार्ज करते हैं. यूपी में दो लाख घरों में सोलर पैनल से बिजली पहुंचा देंगे

  • हम एक बार फिर से सोशल मीडिया पर वापसी करेंगे, 2 साल हम थोडा सुस्त थे अब नहीं रहेंगे.सोशल मीडिया का अपना रोल है, आने वाले समय में लोग इसका इस्तेमाल ज्यादा करेंगे

  • नोएडा में ना जाने के सवाल पर खिलेश यादव ने कहा की बड़ों का सम्मान करते हैं उन्ही का अनुसरण किया,जल्द ही जाऊँगा

  • मेरे लिए नोएडा शुभ है, वहीं से साइकिल यात्रा शुरु की

  • 2016 में आप स्टेडियम में खिलाड़ियों को खेलते हुए देखेंगे, सिर्फ क्रिकेट ही नहीं फुटबॉल भी –

  • खिलाड़ियों का जितना सम्मान समाजवादियों ने किया है उतना किसी ने नहीं किया

  • हर कोई अपने परिवार में बड़ों से डांट खाता है.

  • यूपी में बहुत काम हो रहे हैं, कई बड़े इंस्टीट्यूट यहां आ रहे हैं. यूपी ने बीजेपी को ज्यादा सांसद दिए इसलिए यूपी को ज्यादा मिलना चाहिए.

  •  हमारा संविधान आरक्षण का अधिकार देता है. आरक्षण मांगने वालों को बदनाम करने वाले बहुत लोग हैं 

  •  हमने सोचा था कि अगर मेट्रो बनाने में अपना पैसा भी लगाना होगा तो लगाएंगे, मैं चाहता हूं कि पीएम के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में भी मेट्रो चले. यूपी में मेट्रो के लिए जमीन लेने में दिक्कत नहीं

  • आबादी और बाजार के हिसाब से UP सबसे बड़ा है

  • आज राजनीति बजली है, आज एक व्हाट्सएप के मैसेज से भी खबर बनती है

  • आज हम तमाम क्षेत्रों में दुनिया से आगे हैं

  • सेक्युलर और समाजवादी रास्ते से देश आगे बढ़ेगा

  • जब किसी को प्रधानमंत्री बनना होता है हर कोई यूपी में आकर जगह ढ़ूढता है

  • कम समय में हमारी सरकार ने सड़कों का जाल बिछाया

 

राजनाथ सिंह

देश की आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के कंधों पर है. इन्होंने बीजेपी नेता के तौर पर पार्टी और एनडीए गठबंधन की सरकारों में कई अहम पद संभाले. राजनाथ 2000 से 2002 के बीच भाजपा सरकार में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रहे.

नितिन गडकरी

नितिन गडकरी मौजूदा सरकार में केंद्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री हैं. 27 मई 1957 को जन्मे नितिन गडकरी दिसंबर 2009 में बीजेपी के अध्यक्ष बने. लोक निर्माण मंत्री के तौर पर महाराष्ट्र में इनके द्वारा कराए गए कार्य उल्लेखनीय हैं. युवावस्था से ही वे पार्टी के युवा मोर्चा और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े रहे.

 

स्मृति ईरानी

टीवी जगत की सबसे पसंदीदा बहू स्मृति ईरानी भाजपा के नेतृत्च वाली एनडीए गठबंधन सरकार में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री हैं. लोकसभा चुनाव में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को चुनौती देने वाली स्मृति कभी मिस इंडिया बनना चाहती थीं. 2003 में बीजेपी में शामिल हुईं और फिर उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

 

जावेद अख्तर

जावेद अख्तर को उनके करीबी और मित्र प्यार से जादू कहते हैं. उर्दू अदब का जाना-पहचाना नाम और बागी तेवर इनकी खासियत है. शायरी इन्हें विरासत में पिता जां निसार अख्तर और मां सफिया अख्तर से मिली. इतना ही नहीं मामा मजाज भी उर्दू शायरी का बेहद जाना-पहचाना नाम हैं. ग्वालियर में 1945 में जन्मे जावेद का ज्यादातर समय उत्तर प्रदेश के लखनऊ और अलीगढ़ में बीता. भारतीय फिल्म इंडस्ट्री की कई यादगार फिल्मों से इनका जुड़ाव पटकथा लेखक और गीतकार के रूप में रहा. सलीम खान के साथ इनकी जोड़ी ने कई बेहतरीन फिल्में और लाजवाब गीत रचे. शोले, डॉन, सीता-गीता और अंदाज इनकी यादगार फिल्में रहीं. जावेद रिफ्यूजी, दिल चाहता है, मंगल पांडे और 1942 ए लव स्टोरी के गीतकार रहे. भारत सरकार ने 2007 में इन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया.

 

शबाना आजमी

शबाना आजमी का नाम किसी पहचान का मोहताज नहीं है. इन्होंने बतौर कलाकार, नेता और सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में अपनी पहचान बनाई है. कला और अभिनय उन्हें विरासत में मां शौकत आजमी और पिता कैफी आजमी से मिला. शादी जावेद अख्तर से की, तो साहित्य से नाता और भी गहरा हो गया. देश और समाज से जुड़े मुद्दों पर उन्होंने अपने विचार मुखरता से सार्वजनिक मंच पर रखे. वे 1997 में राज्यसभा की सदस्य मनोनीत की गईं. सांसद के रूप में अपनी जिम्मेदारी गंभीरता से निभाई. इन्होंने 1973 में अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत श्याम बेनेगल की अंकुर फिल्म से की. पहली ही फिल्म के लिए इन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया. कलात्मक फिल्मों से शुरुआत करने वाली शबाना को कमर्शियल सिनेमा में धाक जमाने में खास अड़चन नहीं हुई. भारत सरकार ने इन्हें 2012 में पद्म भूषण से सम्मानित किया.

 

इरफान खान

बॉलीवुड और हॉलीवुड की कई फिल्मों में अपने अभिनय का लोहा मनवा चुके इरफान खान कभी क्रिकेटर बनना चाहते थे. पढ़ाई और स्कूल जाने से इन्हें सख्त एलर्जी थी, मगर परिवार के आगे इनकी एक न चली. इरफान ग्रेजुएशन में जब पहुंचे, तो उन्होंने कॉलेज की ड्रामा टीम में दिलचस्पी लेना शुरू किया. अभिनय के क्षेत्र में कदम रखने के बाद इन्होंने चाणक्य और भारत एक खोज जैसी गंभीर टीवी सीरीज में काम किया. फिल्मी सफर की शुरुआत 1988 में आई सलाम बांबे फिल्म से हुई. इरफान को 2004 में फिल्म हासिल के लिए सर्वश्रेष्ठ खलनायक का फिल्मफेयर पुरस्कार प्रदान किया गया. इन्हें 2011 में भारत सरकार ने पद्मश्री से सम्मानित किया.

 

कंगना रनौत

बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत का जन्म हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में हुआ. परिवार कंगना को डॉक्टर बनाना चाहता था, मगर किस्मत को कुछ और ही मंजूर था. वो दिल्ली आईं और यहां थियेटर से जुड़ गईं. इसके साथ ही इन्होंने मॉडलिंग भी की. 2006 में ‘गैंगस्टर’ फिल्म से अपने करियर की शुरुआत की और जल्द ही इंडस्ट्री में अपना मुकाम बना लिया. इस फिल्म के लिए कंगना को बेस्ट डेब्यू का पहला फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला. कंगना का नाम बॉलीवुड की उन चुनिंदा अभिनेत्रियों में शुमार है, जो अपने दम पर फिल्म हिट कराने का माद्दा रखती हैं. इनकी कुछ हालिया रिलीज फिल्में ब्लॉकबस्टर रहीं और इसके लिए इन्हें कई पुरस्कारों से नवाजा गया.

 

वीरेंद्र सहवाग

नजफगढ़ के नवाब वीरेंद्र सहवाग भारतीय क्रिकेट टीम का अहम चेहरा हैं. प्यार से उन्हें सभी ‘वीरू’ भी कहते हैं. सहवाग के नाम क्रिकेट जगत के कई रिकॉर्ड दर्ज हैं. उन्होंने भारत की ओर से पहला एकदिवसीय मैच 1999 में और पहला टेस्ट मैच 2001 में खेला था. सहवाग ने विजडेन क्रिकेटर ऑफ द ईयर का खिताब 2008 में जीतने वाले इकलौते भारतीय होने के साथ ही 2009 में भी इस खिताब को अपने पास रखने का दोहरा कारनामा किया. दाएं हाथ के बल्लेबाज सहवाग इसी हाथ से ऑफ स्पिन गेंदबाजी करने में भी माहिर हैं. सहवाग दिल्ली डेयरडेविल्स और किंग्स इलेवन पंजाब जैसी आईपीएल टीमों से भी जुड़े रहे हैं.

 

गौतम गंभीर

बाएं हाथ के बल्लेबाज गौतम गंभीर भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी हैं. दिल्ली से घरेलू क्रिकेट खेलने के अलावा वह इंडियन प्रीमियर लीग में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान भी हैं. इनकी कप्तानी में केकेआर ने 2012 और 2014 में आईपीएल का खिताब जीता. भारत सरकार ने 2008 में गंभीर को अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया. भारत की ओर से गंभीर ने पहला एकदिवसीय मैच 2003 में बांग्लादेश के खिलाफ खेला. करियर का पहला टेस्ट मैच 2004 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला. 2010 से 2011 के बीच भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व किया और छह मैच खेले. इन सभी मैचों में टीम ने जीत दर्ज की. लगातार पांच मैचों में 100 रन बनाने वाले गंभीर अकेले ऐसे भारतीय खिलाड़ी हैं.

 

राजीव शुक्ला

पत्रकार, सांसद और आईपीएल अध्यक्ष की कई भूमिकाएं निभा चुके राजीव शुक्ला का जन्म उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर में 1959 में हुआ. कानपुर यूनिवर्सिटी से एलएलबी की डिग्री प्राप्त करने के बाद इन्होंने पत्रकारिता शुरू की. जनसत्ता, दैनिक जागरण और पत्रिका जैसे कई प्रतिष्ठित समूहों से जुड़े रहे. 2008 से 2013 के बीच आईपीएल के अध्यक्ष भी रहे. वर्तमान में भी राजीव शुक्ला आईपीएल के चेयरमैन हैं. वे अखिल भारतीय लोकतांत्रिक कांग्रेस पार्टी से 2000 में राज्यसभा में चुने गए. यूपीए गठबंधन सरकारों में इन्होंने कई अहम समितियों के सदस्य और मंत्री रहे.

 

अमीश त्रिपाठी

अमीश को आज भारतीय साहित्य जगत का सबसे चर्चित चेहरा कहना जरा भी गलत नहीं होगा. अपनी ‘शिवा ट्राइलॉजी’ से तहलका मचाने वाले अमीश ने अंग्रेजी रचना से अलग मुकाम बनाया. इस श्रृंखला ने भारतीय साहित्य जगत में सबसे तेज बिक्री का खिताब अपने नाम दर्ज किया. फोर्ब्स पत्रिका ने उन्हें तीन साल लगातार 2012, 2013 और 2014 में टॉप 100 सेलिब्रिटी की सूची में स्थान दिया. अमीश 14 साल तक वित्तीय जगत से जुड़े रहे. शिवा ट्राइलॉजी की ‘द इम्मॉर्टल्स ऑफ मेलूहा’ के फिल्म अधिकार फिल्म निर्माता निर्देशक करण जौहर की कंपनी धर्मा प्रोडक्शन ने खरीदे हैं. इनकी नई किताब ‘द सिअन ऑफ इक्ष्वाकु’ 22 जून 2015 को बाजार में आ चुकी है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Shikhar Samagam Live
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017