शिवसेना की चेतावनी, 'जैनों, मुसलमानों की राह पर मत जाओ'

By: | Last Updated: Thursday, 10 September 2015 4:17 AM
Shivsena warns Jain on Meat ban in Samna

मुंबई : मीरा-भयंदर नगर पालिका में मीट बैन का मामला गरमाता जा रहा है. इस फैसले पर पहले ही शिवसेना ने अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है. फैसला लागू होने की दशा में अब शिवसेना की ओर से चेतावनी भी जारी कर दी गई है. पार्टी के मुखपत्र सामना की संपादकीय में जैन समुदाय पर ही निशाना साध दिया है.

 

पढ़ें : मांस बैन पर ऐसा क्या बोलीं सोनाक्षी सिन्हा जो मचा हंगामा

 

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने चेतावनी देते हुए लिखा है कि जैन समुदाय के लोगों को ऐसी बेकार की मांगें उठाना बंद कर देना चाहिए, यह उनके लिए अच्छा होगा.  लेख के अनुसार मुंबई की ज्यादातर बिल्डर लॉबी जैन है. उनकी डील में काली कमाई भी होती है, इससे सभी वाकिफ हैं. पर्यूषण पर्व के दौरान क्या वे काली कमाई करना बंद कर देंगे.

पढ़ें : क्या अब सरकार तय करेगी हम क्या खाएं और क्या नहीं?

 

उद्धव के अनुसार जैन अपनी बात मनवाने की जिद इसलिए कर रहे हैं क्योंकि अर्थव्यवस्था पर उनका दखल है. लेकिन वे अपने पैसे अपने पास रखें, यह एक प्यार भरी चेतावनी है. यह शिवाजी का महाराष्ट्र है और ऐसे लोगों से निपटना हमें आता है.

 

 पढ़ें : मुंबई: मीरा भायंदर में जैन पर्व के दौरान आठ दिन तक रहेगा मांस बैन 

 

संपादकीय में शिवसेना अध्यक्ष ने कहा कि अहिंसा के नाम पर किसी को उसके खाने से दूर करना भी एक तरह की हिंसा है. ठाकरे ने लिखा है कि पहले सिर्फ रूढ़िवादी मुस्लिम ही धर्म के नाम पर परेशान करते थे अब अगर अल्पसंख्यक जैन समुदाय भी ऐसी मांगें करेगा तो भगवान ही उन्हें बचा सकता है.

 

पढ़ें : चीन की हमेशा से ही पीठ पर खंजर मारने की आदत- ‘सामना’

 

उन्होंने कहा मुंबई में दंगों के दौरान मराठियों ने ही जैन और गुजरातियों को बचाने के साथ उनके रोजगार को भी बचाया था. उन्हें सिर्फ हिंदुओं के नाम पर ही बचाया गया था, क्योंकि हम रुढ़िवादियों के साथ ‘जैसे को तैसा’ वाले सिद्धांत पर जवाब देते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Shivsena warns Jain on Meat ban in Samna
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017