ABP न्यूज से बोलीं स्मृति ईरानी- IIT के काम में सरकार का दखल नहीं

By: | Last Updated: Saturday, 30 May 2015 2:46 AM
smriti irani on IIT madras controversy

नई दिल्ली: IIT मद्रास में दलित छात्रों के संगठन पर पाबंदी को लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्री स्मृति ईरानी ने ABP न्यूज से बात करते हुए कहा कि IIT के काम में सरकार का कोई दखल नहीं है और जो भी नियम तोड़ेगा उस पर संस्थान को कार्रवाई करने का पूरा हक है.

 

स्मृति ईरानी ने एबीपी न्यूज़ पर कहा, “छात्रों द्वारा एचआरडी मिनिस्ट्री को एक पत्र मिला. जिस अफसर को लेटर मिला उसने आईआईटी को भेजा कि ‘आप कृपया हमें जानकारी दें कि ये विषय है क्या?’ इसके बाद आईआईटी ये स्पष्ट किया कि वहां पर जो स्टुडेंट काउंसिल  बनी है उऩ्होंने मिलकर नियम बनाए कि कोई भी गतिविधि किस प्रकार से चलेगी. उन छात्रों ने अपने स्तर पर उस गतिविधि गलत करार देते हुए ये निर्णय लिया है.”

 

बैन करने से पहले छात्रों को सफाई का मौका नहीं दिया गया? इस सवाल पर ईरानी ने कहा, “पत्र में धर्म औऱ जाति से संबंधित टिप्पणियां है. आईआईटी कोई निर्णय लेना चाहती है तो आप चाहते है कि सरकार हस्तक्षेप करें. आईआईटी ने उन छात्रों को स्पष्टीकरण के लिए बुलाया है.”

स्मृति एबीपी न्यूज़ बार बार यही सफाई देती नजर आईँ कि सरकार का आईआईटी में कोई हस्तक्षेप नहीं हैं. स्मृति ईरानी का कहना है कि आईआईटी मद्रास एक स्वतंत्र संस्थान है उसे कोई भी कार्यवाही करने का अधिकार देश की संसद ने उन्हें दिया है.

 

क्या है विवाद

आईआईटी मद्रास ने दलित छात्रों के ग्रुप पर मोदी सरकार की आलोचना करने पर शिक्षा मंत्रालय के आदेश के बाद बैन लगा दिया था. मानव संसाधन विकास मंत्रालय को एक लिखित शिकायत मिली थी, जिसके एचआरडी मंत्रालय ने छात्रों के एक समूह के खिलाफ पीएम के भाषण की आलोचना की पूछताछ करवाई थी. एचआरडी मंत्रालय की जांच के बाद आईआईटी मद्रास ने आंबेडकर पेरियार स्टूडेंट सर्किल से जुड़े छात्रों को प्रधानमंत्री मोदी की नीतियों और भाषणों की आलोचना करने से रोक दिया है.

 

IIT मद्रास के कार्यवाहक डीन ने कहा है कि छात्रों के एक ग्रुप ने नियमों को तोड़ा इसलिए उनकी गतिविधियों पर रोक लगाई गई है. डीन ने कहा कि छात्रों को अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा.

 

उधर आंबेडकर पेरियार स्टूडेंट सर्कल से जुड़े छात्रों का कहना है कि उन पर लगाए आरोप गलत हैं, संविधान उन्हें हर मुद्दे पर चर्चा करने की इजाजत देता है. बैन किए गए ग्रुप के सदस्यों का कहना है कि कैसे किसी ‘अज्ञात पत्र’ द्वारा की गई शिकायत के आधार पर छात्रों की आवाज को दबा सकता है. एक सदस्य का कहना है, “हम इस पर आपत्ति दर्ज कराते हैं कि हमें अपनी सफाई का मौका तक दिए बिना ही सर्कल को बैन कर दिया गया. डीन का कहना है कि ग्रुप विवादास्पद गतिविधियों में शामिल है. हमारा पक्ष साक्ष है हमने इस संस्थान द्वारा दी गई किसी भी सुविधा का गलत इस्तेमाल नहीं किया है. “

 

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हमारा अधिकार है- राहुल गांधी

इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच वाकयुद्ध छिड़ गई है. राहुल गांधी ने इस विवाद पर कहा, ‘‘मोदी सरकार की आलोचना करने के लिए आईआईटी छात्र समूह पर प्रतिबंध. आगे क्या ? अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हमारा अधिकार है. असहमति और चर्चा को दबाने के किसी भी प्रयास से लड़ेंगे.’’

 

ईरानी ने पलटवार करते हुए उन्हें शिक्षा सहित शासन के मुद्दों पर बहस करने की चुनौती दी और उनपर एनएसयूआई के पीछे छिपकर अपनी लड़ाई लड़ने का आरोप लगाया.

 

आम आदमी पार्टी और वाम दलों समेत अनेक संगठनों ने आलोचना की है और आप ने इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घटती लोकप्रियता को लेकर बीजेपी की हताशा बताया है.

 

आप ने कहा कि आईआईटी चेन्नई परिसर में एपीएससी को सामान्य तरीके से काम करने देना चाहिए और देश की नीतियों और राजनीति को लेकर छात्रों की चिंताओं को आवाज देने के उनके लोकतांत्रिक अधिकार को अदा करने देना चाहिए.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: smriti irani on IIT madras controversy
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017