ABP न्यूज़ रेटिंग: मोदी सरकार के ये मंत्री हुए फेल

By: | Last Updated: Monday, 25 May 2015 3:01 PM
Smriti Irani_Najma Heptullah_Narendra Modi_Birendra Singh_Uma Bharti

नई दिल्ली: केंद्र में मौजूद मोदी सरकार के कार्यकाल का एक साल पूरा होने जा रहा है. एक साल पूरा होने के मौके पर एबीपी न्यूज अपने दर्शकों के लिए एक खास पेशकश लेकर आया है जिसमें हम आपको ये बताएंगे कि बीते 1 साल में मोदी सरकार के कौन मंत्री पास रहे और कौन फेल.

आइये नज़र डालें मोदी के मंत्री पास हुए या फेल.

 

एबीपी न्यूज ने पचास एक्सपर्ट्स की मदद से मंत्रियों को उनके काम के आधार पर रेटिंग दी है. शुरुआत करते हैं उन पांच मंत्रियों से जिनका काम सबसे खराब माना गया और जिन्हें मिली सबसे कम रेटिंग.

 

मोदी सरकार में कई ऐसे भी मंत्री रहे जिनके काम ने किसी का भी ध्यान नहीं खींचा. कई मंत्रियों की तो काम से ज्यादा विवादों की चर्चा रही.

 

एबीपी न्यूज के पचास एक्सपर्ट के पैनल की रेटिंग में कौन साबित हुए सबसे खराब प्रदर्शन वाले मंत्री देखिए.

 

स्मृति ईरानी: खऱाब प्रदर्शन वाले पांच मंत्रियों की लिस्ट में आखिरी नंबर है स्मृति ईरानी का. मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी को एक्सपर्ट्स के पैनल ने फेल घोषित किया. स्मृति को दस में से 4.4 नंबर मिले. स्मृति को सबसे ज्यादा 7 अंक वरिष्ठ पत्रकार जयंत घोषाल ने दिए जबकि सबसे कम 2 अंक ओम थानवी ने दिए. स्मृति ईरानी ने दावे बड़े बड़े किए थे लेकिन उनके साथ विवाद ज्यादा जुड़े. स्मृति पर खुद की डिग्री को लेकर तो विवाद उठा ही साथ ही दिल्ली यूनिवर्सिटी का पाठ्यक्रम विवाद, आईआईटी विवाद स्मृति के कार्यकाल में हुआ.

 

चौ. बीरेंद्र सिंह: खराब प्रदर्शन वाले मंत्रियों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं चौधरी बीरेंद्र सिंह. ग्रामीण विकास मंत्री बीरेंद्र सिंह को पचास एक्सपर्ट्स के पैनल ने 10 में से 4.2 अंक दिए. य़ानी बीरेंद्र सिंह भी इस लिस्ट में फेल रहे. बीरेंद्र सिंह को सबसे ज्यादा 6.5 अंक हितेश शंकर ने दिए. जबकि सबसे कम 1 अंक यतीश राजावत ने दिया.

 

नजमा हेपतुल्ला: खराब प्रदर्शन करने वाले मंत्रियों की लिस्ट में सबसे ऊपर हैं नजमा हेपतुल्ला. अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री नजमा हेपतुल्ला को एक्सपर्ट पैनल ने दस में से सिर्फ 3.6 नंबर दिए, यानी नजमा पिछले 1 साल में फेल रही. नजमा को सबसे ज्यादा 7.5 अंक वरिष्ठ पत्रकार प्रेम शुक्ला ने दिए. जबकि सबसे कम 2 अंक नीलाभ मिश्रा ने दिए.

 

नजमा हेपतुल्ला के किसी काम ने तो देश का ध्यान खींचा नहीं लेकिन हिंदू राष्ट्र पर दिए एक बयान ने उन्हें विवादों पर जरूर ला दिया था.

 

राम विलास पासवान: खराब प्रदर्शन वाले मंत्रियों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं राम विलास पासवान. उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान को एक्सपर्ट के पैनल ने दस में 4.1 नंबर दिए यानी पासवान भी पिछले 1 साल के काम से खुद को साबित नही कर पाए. पासवान को सबसे ज्यादा 7 अंक वरिष्ठ पत्रकार संतोष भारतीय ने दिए जबकि सबसे कम 2 अंक अभिलास खांडेकर ने दिए.

 

कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले चौधरी बीरेंद्र सिंह पर सबसे बड़ी जिम्मेदारी जमीन बिल की थी लेकिन बीरेंद्र सिंह विपक्ष को ये समझाने में नाकाम रहे कि ये बिल किसानों के हित का है.

 

गजपति राजू: खराब प्रदर्शन वाले मंत्रियों की लिस्ट में चौथे नंबर पर रहे गजपति राजू. विमान मंत्री गजपति राजू को एक्सपर्ट्स के पैनल ने 10 में से 4.2 नंबर दिए. यानी राजू भी रहे फेल. राजू को सबसे ज्यादा 7 अंक वरिष्ठ पत्रकार कल्याणी शंकर ने दिए. जबकि सबसे कम 2 अंक शीला भट्ट ने दिए.

 

इन बड़े-बड़े नामों के अलावा सबसे ज्यादा खराब प्रदर्शन वाले मंत्रियों की लिस्ट में उमा भारती, राधा मोहन सिंह, मेनका गांधी भी हैं. एक्सपर्ट्स के पैनल ने इन सभी को पांच से कम नंबर दिए और ये सब भी बीते 1 साल के अपने कार्यकाल में लगभग फेल रहे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Smriti Irani_Najma Heptullah_Narendra Modi_Birendra Singh_Uma Bharti
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017