उस 'नर्क' से निकलना चाहती हैं ये जहां बाजार में है 'जिस्म'

By: | Last Updated: Monday, 14 March 2016 3:07 PM
Sonagachi sex workers inspired by Irish lady

कोलकाता : पेट की भूख पर जिस्म की हिफाजत भारी पड़ती है तो इन बेसहारों को कोठों की सीढ़ीं चढ़नी पड़ जाती है. पर, इनके दिल में भी खुले आसमान के नीचे जीने की ललक पलती है और किसी आजाद महिला को देख ये मचल उठती हैं. यदि वह आजाद महिला इन्हीं सीढ़ियों के नर्क को पार कर निकला हो तो उनके लिए खास हो जाती है. उम्मीद भरी नजरों से वे किसी जन्नत की चाह में निकलना चाहती हैं.

इसी कोशिश में एशिया के सबसे बड़े रेड लाइट एरिया सोनागाछी में रहने वाली यौनकर्मी अब एक आयरिश महिला से प्रेरणा ले रही हैं. आयरिश महिला ने अपने बेटे के लिए एक बेहतर भविष्य की खातिर इस ‘दोजख की आग’ से निकलने के लिए हिम्मत जुटायी थी. हाल के समय में कोलकाता का दौरा करने के दौरान उन्होंने मुंशीगंज और सोनागाछी की यौनकर्मियों से बातचीत की.

राचेल मोरान उस वक्त 15 साल की थीं जब नॉर्थ डबलिन शहर में उन्हें जबरदस्ती एक कोठे पर छोड़ दिया गया था. लेकिन, सात वर्ष बाद अपने चार साल के बेटे को एक बेहतर कल देने के लिए उन्होंने इस पेशे को छोड़ दिया. राचेल उस दौरान नशे की लत का शिकार हो गईं थीं, लेकिन अब वह एक पत्रकार, लेखक और मानव-तस्करी रोधी कार्यकर्ता हैं.

राचेल ने बताया कि, ‘इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि मैं अमेरिका में किसी अश्वेत महिला से बात कर रही हूं या कनाडा में वहां की मूल निवासिनी या यूरोपीय देशों में किसी श्वेत महिला से. उन सभी की समान कहानी है कि वे इस पेशे में इसलिए आईं क्योंकि उनके पास कोई अन्य विकल्प नहीं था. यह सार्वभौमिक है ,यहां तक कि भारत में भी.’

वीमेन वर्ल्डवाइड गैर सरकारी संगठन की संस्थापिका रूचिरा गुप्ता उनके साथ थीं. उन्होंने कहा कि इस पेशे को छोड़ने के राचेल के साहस से यहां की महिलाओं को काफी प्रेरणा मिली है. वह इस बारे में और जानने को उत्सुक थीं. राचेल ने बताया कि इस पेशे को छोड़ने में अपने बेटे के प्रति ममता ने उन्हें बहुत अधिक प्रेरित किया.

रूचिरा ने बताया, ‘इस नरक से बच निकलने वाली अधिकतर यौनकर्मी उनकी बात से सहमत हैं. वे भी अपने बच्चों के लिए समान चिंता और प्यार रखती हैं.’ राचेल ने अपनी आत्मकथा ‘पेड फॉर, माय जर्नी थ्रू प्रोस्टीट्यूशन’ लिखी है. उनका कहना है कि वह जानती हैं कि यदि वह इस पेशे को नहीं छोड़ती तो वह अपने बेटे को खो देतीं.

क्योंकि वह स्कूल जाने वाले एक बच्चे के साथ अपनी दिनचर्या का सामंजस्य नहीं बिठा पातीं. उन्होंने कहा, ‘मैं बहुत अधिक मात्रा में कोकीन लिया करती थी. मेरे लिए यह जीवन-मरण का प्रश्न था और कोई सहायता भी नहीं थी मेरे पास. लेकिन, मैंने इस पेशे से बाहर आने का निर्णय किया और पत्रकारिता की पढ़ाई की और फिर नौकरी की.’

भारतीय कोठों में भी कई यौनकर्मी नशे और शराब की लत का शिकार हैं. रूचिरा ने कहा कि यह इस पेशे के दर्द और भावनात्मक पीड़ा से बचने का सबसे आसान तरीका है. नशे से बचाने के लिए स्थानिय स्तर पर भी कई प्रयास किए जाते हैं लेकिन उसका कोई खास लाभ नहीं मिलता दिखाई देता है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sonagachi sex workers inspired by Irish lady
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017