सोनिया के संकेत: 'सुषमा पहले इस्तीफा दें, तब चलेगी संसद'

By: | Last Updated: Wednesday, 22 July 2015 4:29 AM

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी नेताओं को संकेत दिए हैं कि मंगलवार को राज्यसभा में पार्टी ने जो तीखे तेवर अपनाए हैं उसे जारी रखा जाए और ऐसा माहौल बनाया जाए कि देश में ये संदेश जाए कि मोदी सरकार भ्रष्टाचारियों को बचा रही है.

 

इसके साथ ही सोनिया की कोशिश है कि सरकार को ये बता दिया जाए कि जब तक इस्तीफे नहीं होंगे, तब तक संसद की कार्यवाही नहीं चलेगी.

 

विपक्ष के जबरदस्त समर्थन से गद गद कांग्रेस ने एक तरफ फैसला कर लिया है कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया और मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान के इस्तीफे की मांग डट कर की जाएगी, और बात नहीं बनी तो बुधवार को संसद की कार्यवाही नहीं चलने दी जाएगी.

 

अपनी मांग को लेकर कांग्रेस आज संसद परिसर में धरना देगी. इस धरने में विपक्ष के समर्थन से ही साफ हो जाएगा कि कांग्रेस को इस मुद्दे पर विपक्ष की दूसरी पार्टियों का कितना समर्थन हासिल है.

 

दूसरी ओर बीजेपी की रणनीति यह है कि वह कांग्रेस को बता सके कि उसकी नैतिकता इस स्तर की नहीं है कि वह बीजेपी के इतने बड़े नेताओं के इस्तीफे की मांग कर सके.

 

आपको बता दें कि मंगलवार को सुषमा के इस्तीफे के सवाल पर राज्यसभा की कार्यवाही नहीं चल पाई थी. सरकार बहस को तैयार है लेकिन विपक्ष की मांग है कि पहले इस्तीफे हों, बाद में बहस की जाएगी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sonia Gandhi intent: First resignations, then discussions
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017