आखिर काला धन कैसे होता था सफेद? ईडी ने किया है बहुत बड़ा खुलासा । special report- how black money become white

आखिर काला धन कैसे होता था सफेद? ईडी ने किया है बड़ा खुलासा

नोटबंदी के बाद से अब तक फेमा और मनी लॉन्ड्रिंग के 3700 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए है.

By: | Updated: 10 Nov 2017 06:40 AM
special report- how black money become white

नई दिल्ली: नोटबंदी के दौरान ईडी ने जो छापेमारी की उससे शैल कंपनियों और बेनामी संपत्ति के गठजोड़ का खुलासा हुआ. पता चला है कि मनी लॉन्ड्रिंग के तहत काले धन को ठिकाने लगाने में ऐसी कंपनियों की भूमिका 48 प्रतिशत रही जबकि रियल एस्टेट की 35 और सोना-चांदी की भूमिका 7 प्रतिशत है.


काले धन से बनी अनेक संपत्तियों की जांच का काम अभी जारी है और साथ ही कई नेताओं व अन्य प्रभावशाली लोगों की जांच भी की जा रही है. ईडी अब तक करीब 1000 से अधिक शैल कंपनियों पर कार्रवाई कर चुका है. ईडी को करीब 1660 करोड़ की मनीलॉन्ड्रिंग का पता चला है.


नौ हजार करोड़ से अधिक की संपत्ति अभी तक ईडी के द्वारा अटैच की जा चुकी है और जांच में जिस काले धन का खुलासा होगा उसे भी अटैच कर दिया जाएगा. ईडी के कोलकाता के एक ऐसे सीए के बारे में पता चला है जो 800 से अधिक कंपनियों की बैलेंस शीट पर साइन करता था.


दिल्ली के सबसे पॉश लुटियन जोन इलाके समेत अनेक अहम जगहों पर संपत्तियों की जांच की जा रही है. नोटबंदी के बाद से अब तक फेमा और मनी लॉन्ड्रिंग के 3700 से अधिक मुकदमे दर्ज किए गए है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: special report- how black money become white
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story मेले में हुई चुंबन प्रतियोगिता, सबसे देर तक किस करने वाले तीन जोड़े बने विजेता