वेश्यावृत्ति को वैध कर देना चाहिए: धर्मगुरू

By: | Last Updated: Wednesday, 15 October 2014 8:46 PM
spiritual-head-controversial-statement-over-rape-and-prostitution

फाइल फोटो

नई दिल्ली: कर्नाटक की लिंगायत समुदाय की धर्मगुरू माथे महादेवी के बयान ने एक नए विवाद को जन्म दे दिया है. धर्मगुरू का कहना है, ”देश में महिलाओं के बलात्कार के लिए लड़कियों का भड़काऊ पहनावा जिम्मेवार है.”

 

इसके साथ ही माथे महादेवी ने सरकार से अनुरोध किया है कि, ” वैश्यावृत्ति को देश में वैध कर देना चाहिए इससे बलात्कार को कम किया जा सकता है.” महिला धर्मगुरू के इस बयान से एक नया विवाद पैदा हो गया है. महिला धर्मगुरू के इस बयान के बाद कर्नाटक के कई गैर सरकारी संगठन उनके विरोध में उतर आए हैं.

 

आपको बता दें माते महादेवी कर्नाटक के कूडला में स्थित बासावा धर्मपीठ की पीठाध्यक्ष हैं. यह कर्नाटक में लिंगायत समूह का सबसे पवित्र धर्मस्थल माना जाता है.

 

महादेवी ने धरवाड़ में लड़कियों के पहनावे पर बोलते हुए  कहा, ‘ लड़कियां जितना भड़काऊ कपड़े पहनेंगी, रेप के मामले उतने ही बढ़ते जाएंगे. लड़कियों को वेस्टर्न कपड़ों को त्याग कर देना चाहिए और ऐसे कपड़े पहनने चाहिए, जिससे उनकी संस्कृति की झलक आए. लड़कियों के चुस्त कपड़े अपराधियों को रेप करने के लिए उकसाते हैं’.

 

 

महादेवी ने कहा, ‘वेश्यावृत्ति को वैध कर देने की मांग करने वाली मैं पहली इंसान नहीं हूं. यह मांग समाज के कई और वर्ग पहले भी कर चुके हैं. अगर इसे वैध नहीं किया गया तो महिलाओं के साथ रेप, यौन छेड़छाड़ में कमी नहीं आएगी.’  

 

महादेवी यहीं नहीं रुकी उन्होंने यह भी कहा कि महिलाएं उनकी सुरक्षा के लिए बने कानूनों का बेजा इस्तेमाल भी कर रही हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: spiritual-head-controversial-statement-over-rape-and-prostitution
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017