क्या श्री श्री की सुनेगा ISIS का मुखिया बगदादी?

By: | Last Updated: Saturday, 22 November 2014 7:52 AM
Sri Sri Ravi Shankar wants to talk ISIS chief Abu Bakr Al-Bagdadi for peace in Iraq

नई दिल्ली: ‘आर्ट ऑफ लिविंग’ यानि जीने की कला सिखाने वाले श्री श्री रविशंकर दुनिया के सबसे खौफनाक आतंकी अबू बकर अल बगदादी से सीधी बातचीत करने की कोशिश कर रहे हैं. श्री श्री की अब तक की सबसे बड़ी मुहिम में ABP न्य़ूज भी शामिल है.

 

एबीपी न्यूज़ से खास बातचीत में श्री श्री रविशंकर बताएंगे कि उनका इरादा क्या है.

 

 

 

भारतीय न्यूज टेलीविजन के कैमरे पर दर्ज कुर्दिस्तान इलाके के ताजा हालात और इन्हें बदलने की कोशिशों पर ABP न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट यहां पढिए-

 

एबीपी न्यूज इराक की राजधानी बगदाद से करीब 400 किमी दूर इराक के ही कुर्दिस्तान इलाके में पहुंचा है. यहां 18  लाख की आबादी वाले इस इलाके की तस्वीर बदल चुकी है. यहां अब दूर-दूर नजर आती है शरणार्थी कैंपों से बसी एक अलग ही दुनिया. इन कैंपों में इराक और सीरिया के आतंकी संगठन आईएसआईएस के शिकार करीब 1 लाख शरणार्थी अपनी जिंदगी गुजार रहे हैं.

 

दर्द में लिपटी इन्हीं मासूम मुस्कानों पर मरहम लगाने के लिए भारत के आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर इन दिनों इराक के इस कुर्दिस्तान इलाके में पहुंचे हैं.

 

श्री श्री रविशंकर इस बार इराक में एक बड़े इरादे के साथ आए हैं. उन्होंने कुर्दिस्तान के प्रधान मंत्री Nechirvan Idris Barzani से मुलाकात करके पेशकश की है कि वो आतंकी संगठन आईएसआईएस के मुखिया अबू बकर अल बगदादी से सीधे बातचीत करना चाहते हैं.

 

श्री श्री रविशंकर ने जो पेशकश की है उसके मुताबिक वो स्काइप नाम की वीडियो कॉलिंग वेबसाइट पर बगदादी से बातचीत कर सकते हैं. श्री श्री ने अपनी इस मुहिम के तहत कुर्दिस्तान के स्पीकर और दूसरे सांसदों से भी मुलाकात की है और अपना इरादा जाहिर कर दिया है.

 

श्री श्री रविशंकर ने इराक पर अमेरिकी हमले के बाद साल 2003 में ही अपनी संस्था ‘आर्ट ऑफ लिविंग’ के तहत काम करने वाले एक संगठन के जरिए पीड़ितों की मदद का काम शुरू कर दिया था. International Association for Human Values नाम की श्री श्री रविशंकर की संस्था यहां के दूसरे स्वयंसेवी संगठनों के साथ मिलकर राहत कैंप चला रही है लेकिन पिछले साल आईएसआईएस के आतंक का नया दौर शुरू हो गया और एक बार फिर छलनी हो गया इराक का सीना.

 

दरअसल कुर्दिस्तान हो, इराक हो या फिर पड़ोसी मुल्क सीरिया का इलाका आईएसआईएस के आतंकी सरगना अबू बकर अल बगदादी के खौफ ने सबको जकड़ रखा है. पिछले एक साल में बगदादी ने इस इलाके में बड़े पैमाने पर खून-खराबा किया है.

 

  • सिर्फ इराक की बात करें तो यहां पिछले 4 महीनों में ही 1000 लोगों की हत्या करवा चुका है बगदादी.

  • इसी दौरान सामूहिक कब्रों से 800 से ज्यादा शव भी बरामद किए जा चुके हैं.

  • 4 महीने के ये सरकारी आंकड़े अफगानिस्तान की जंग में साल 2009 में मारे गए कुल आम नागरिकों के मुकाबले चार गुना हैं.

  • बगदादी के आतंकियों के खून खराबे का तरीका भी खौफनाक है.

  • एक साथ 1 से 80 लोगों का गला रेतकर या फिर सिर में गोली मारकर सामूहिक कत्ल कर देते हैं बगदादी के आतंकी.

 

आतंक की दुनिया का नया आका बगदादी इराक ही नहीं सारी दुनिया में मोस्ट वांटेड बन चुका है और ऐसे में भारतीय आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर की बगदादी से मुलाकात की पहल को शांति के लिए एक बड़ी कोशिश माना जा रहा है लेकिन सवाल ये है कि क्या ये मुमकिन है?

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sri Sri Ravi Shankar wants to talk ISIS chief Abu Bakr Al-Bagdadi for peace in Iraq
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017