कब गिरफ्तार होगा 'मेरी जान.. मेरी जान.. पाकिस्तान.. पाकिस्तान..' के नारे लगाने वाला मसरत?

By: | Last Updated: Thursday, 16 April 2015 1:06 AM
Srinagar: Geelani/Masarat rally: Masrat Alam, Geelani booked under UAPA,

नई दिल्ली/कश्मीर: आतंकी हाफिज सईद और पाकिस्तान के समर्थन में खुलेआम नारेबाजी करने के बावजूद अब तक कश्मीर का अलगाववादी नेता मसरत आलम गिरफ्तार नहीं हुआ है. मसरत आलम ने खुलेआम पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए, पाकिस्तान का झंडा लहरायाऔर हाफिज सईद के आतंक का संदेश सुनाया.

 

इस मामले में केंद्र सरकार कार्रवाई के आदेश दे चुकी है. केंद्र सरकार की तरफ से राज्य सरकार को एडवाईजरी भेजी गई है जिसमें कहा गया है कि मसरत की गतिविधियों को लेकर राज्य सरकार नकेल कसे, UAPA के तहत मामला दर्ज हुआ है, इसलिए पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत  मसरत को फिर से गिरफ्तार किया जाए.

 

मुफ्ती अभी गिरफ्तारी के लिए तैयार नहीं

जम्मू कश्मीर के सीएम मुफ्ती मोहम्मद सईद सरकार मसरत के खिलाफ कुछ करने को तैयार नहीं हैं.  केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मुफ्ती से फोन करके मसरत को गिरफ्तार करने को कहा है. लेकिन मुफ्ती मोहम्मद सईद इसके लिए तैयार नहीं हैं. मसरत पर केस तो दर्ज हुआ है लेकिन गिरफ्तारी कब होगीय़ पत्थरबाजी के लिए बदनाम मसरत को रिहाई हुई है. रिहाई के बाद मसरत खुलेआम भारत के खिलाफ काम कर रहा है.

 

एबीपी न्यूज़ से मसरत ने कहा- लोगों के जज़्बात पाकिस्तान के साथ हैं

मसरत आलम ने एबीपी न्यूज़ से कहा से बातचीत में कहा, “कश्मीर के लोगों के जज्बात पाकिस्तान के साथ हैं इसलिए नारे लगे. लोग झंडे लेककर आए थे, ये लोगों के जज्बात है, इसमें मैं भी एक हूं. मैंने कब इंकार किया कि मैंने नारे नहीं लगाए.”

 

मसरत आलम ने कहा, “मीडिया हंगामा मचा रहा है. यह लोगों के जज्बात है. इसका कद्र करो. जिस मुल्क ने इस पर कब्जा जमाया वो कहता है कि यहां लोकतंत्र है. तो यहां सबको अपनी बात का हक है. हिंदुस्तान के लोगों को पता है कि यहां के लोग क्या चाहते हैं.”

 

हाफिज सईद से संपर्क में था मसरत आलम

सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर में भड़काऊ रैली के दौरान मसरत आलम पाकिस्तान के संपर्क में था. आशंका है कि रैली के दौरान मसरत आलम हाफिज सईद से फोन पर निर्देश ले रहा था. खुफिया सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर में बुधवार रैली के दौरान 5 मिनट के अंतराल पर मसरत को पाकिस्तान से 7 फोन कॉल्स आए. मसरत ने उन सभी से बात की जिसमें एक नंबर पर लगभग 1 मिनट बात हुई.

 

खुफिया एजेंसियों के मुताबिक मसरत ने 1 मिनट तक जिस शख्स से बात की वो हाफिज सईद हो सकता है. खुफिया एजेंसियां आवाज मिलाने की कोशिश में जुटी हैं.

 

कई महीनों तक दिल्ली में रहने के बाद अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी बुधवार जब कश्मीर लौटे तो उन्हीं के स्वागत में श्रीनगर में पाकिस्तान जिंदाबाद की नारेबाजी हई और पाकिस्तान के झंडे लहराए गए.

 

श्रीनगर में अलगाववादी नेता मसरत आलम और सैयद अली शाह गिलानी ने बुधवार को रैली की थी. इस रैली में घाटी में कश्मीरी पंडितो के लिए अलग कॉलोनी बसाने का विरोध किया गया था.  कश्मीर पहुंचने के बाद गिलानी ने एलान किया कि कश्मीरी पंडितों के लिए अलग कॉलोनी बनाए जाने के खिलाफ प्रदर्शन होगा.

मसरत ने नारे लगाए, “मेरी जान… मेरी जान…. पाकिस्तान, पाकिस्तान…”

 

बीजेपी ने जम्मू..कश्मीर सरकार से ‘तुरंत कार्रवाई’ करने को कहा

बीजेपी ने अपने सहयोगी पीडीपी से कहा कि मसरत आलम जैसे अलगाववादी नेताओं के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की जाए. पार्टी ने कहा कि कार्रवाई नहीं करने पर इसके ‘‘गंभीर परिणाम’’ होंगे.

 

बीजेपी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा, ‘‘यह अस्वीकार्य है . हम आलम एवं अन्य के खिलाफ त्वरित कार्रवाई किए जाने की मांग करते हैं जो की रैली में शामिल थे. इस पर नरमी नहीं बरती जानी चाहिए, यह स्पष्ट रूप से पथभ्रष्टता है और हम उम्मीद करते हैं कि पीडीपी कार्रवाई करेगी.’’

 

उन्होंने कहा, ‘‘अगर कार्रवाई नहीं की गई.. अगर पीडीपी ने बीजेपी और केंद्र के नोट का संज्ञान नहीं लिया तो इसके गंभीर परिणाम होंगे.’’ जम्मू..कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी की गठबंधन सरकार है और राव ने कहा कि सत्तारूढ़ गठबंधन का उद्देश्य राज्य में शांति एवं स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए ठोस कदम उठाना है. (एजेंसी)

 

मसरत की गिरफ्तारी को लेकर कोई समय सीमा नहीं: उप-मुख्यमंत्री

जम्मू: जम्मू कश्मीर के उप मुख्यमंत्री निर्मल कुमार सिंह ने बीती रात कहा कि ‘स्थानीय स्थिति’ को देखते हुये उचित समय पर मसरत आलम के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. सिंह ने कहा, ‘‘कश्मीर में स्थिति पर नजर है. आपको भीड़ देखनी चाहिए. हम लोग उचित कानून के तहत और उचित समय पर र्कारवाई करेंगे.. (एक) एफआईआर दर्ज की गयी है और पुलिस उचित समय पर कार्रवाई करेगी.’’

 

आलम की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि (मसरत आलम) के खिलाफ भारत विरोधी टिप्पणियों के लिए एक मामला दर्ज किया जाएगा और बीजेपी-पीडीपी गठबंधन सरकार के दौरान अलगाववादी और कट्टरपंथियों को खुली छूट होने संबंधी बयानों को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा, ‘‘यह बयान पूरी तरह से गलत है.’’  (एजेंसी)

 

कौन है मसरत आलम?

आपको बता दें कि बीते सात मार्च को चार साल तक जेल में रहने के बाद मसरत आलम को रिहाई मिली थी. जब मसरत को रिहा किया गया था तो उसे लेकर जमकर हंगामा मचा था. सोशल मीडिया के साथ-साथ बीजेपी ने भी मसरत को फिर से गिरफ्तार करने की मांग की थी.

मसरत आलम को अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी उत्तराधिकारी माना जाता है. मसरत ने ही कश्मीर में सुरक्षाबलों पर नौजवानों को पत्थराव करने के लिए उकसाया था और उस भीड़ का नेतृत्व किया था. मसरत सोशल मीडिया पर भारत विरोधी अभियान चलाने के लिए भी जाना जाता है. उसने मस्जिदों में भारत विरोधी सीडी भी बंटवाएं हैं.

 

मसरत पर 2008 से 2010 में भारत विरोधी मुहिम चलाने का आरोप है. उसने भारत विरोधी मुहिम- गो इंडिया गो चलाई थी, उसे 2010 में भारत विरोधी हिंसा भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, बताया जाता है कि कि मसरत प्रदर्शनों के दौरान पत्थरबाजी की घटनाओं को अंजाम देता था जिसमें में सौ से ज्यादा लोगों की जान गई थी. मसरत की गिरफ्तारी के बाद पत्थरबाजी की घटनाएं भी बंद हो गई थीं.

 

मसरत ने लगाए ‘मेरी जान पाकिस्तान’ के नारे 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Srinagar: Geelani/Masarat rally: Masrat Alam, Geelani booked under UAPA,
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर ने फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा
यूपी: बहराइच में बाढ़ में फंस गई बारात, ट्रैक्टर पर मंडप पहुंचा दूल्हा

बहराइच: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ आने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है. इस बीच बहराइच में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017