सुजाता सिंह को अचानक हटाने से राजनीतिक दलों में छिड़ा 'वर्ड वॉर'

By: | Last Updated: Thursday, 29 January 2015 1:50 PM
Sujatha’s removal: War of words between Cong, BJP

नई दिल्ली: विदेश सचिव सुजाता सिंह को कल रात अचानक उनके पद से हटाए जाने के फैसले को लेकर छिड़े राजनीतिक वाकयुद्ध में कांग्रेस ने प्रधानमंत्री से इस बारे में देश को स्पष्टीकरण देने की मांग की जबकि भाजपा ने इसे सरकार का अधिकार बताते हुए निर्णय का बचाव किया.

 

नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने इस बीच एस जयशंकर को विदेश सचिव बनाए जाने का स्वागत करते हुए इसे ‘शानदार फैसला’ बताया है.

 

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह ने कहा, ‘विदेश सेवा की वरिष्ठतम महिला अधिकारी को अचानक और बिना कारण उनके पद से हटा देना मोदी सरकार के इरादों और उसके द्वारा अपनाए जा रहे प्रशासनिक तंत्र पर गंभीर सवाल खड़े करता है.’

 

उन्होंने कहा कि यह गंभीर बात इसलिए भी है कि यह घटनाक्रम एसपीजी प्रमुख, डीआरडीओ प्रमुख और आईआईएम के निदेशक को इसी तरह जल्दबाजी में हटाये जाने के बाद सामने आया है. उन्होंने कहा कि यह प्रशासनिक स्थिरता और प्रधानमंत्री के कायो’ के तरीके पर गंभीर प्रश्न चिन्ह लगाता है. उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए भी क्योंकि बिना कारण के हटाये जाने की यह कार्रवाई अमेरिकी राष्ट्रपति की सफल समझी जा रही यात्रा के बाद हुई है.

 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को देश को स्पष्टीकरण देना चाहिए. कांग्रेस के अन्य नेता मनीष तिवारी ने ट्विटर पर लिखा, ‘विदेश सचिव को बख्रास्त किया जाना कहीं देवयानी खोबरागड़े पर उनके रूख का प्रतिशोध तो नहीं है? ओबामा के दौरे के बाद उनको हटाया जाना क्या ‘इत्तेफाक’ है ?’

 

सरकार ने कल रात सुजाता सिंह की जगह अमेरिका में भारत के राजदूत एस जयशंकर को विदेश सचिव नियुक्त कर दिया. अमेरिका में खोबरागड़े की गिरफ्तारी से राजनयिक विवाद उत्पन्न हो गया था और उस वक्त सुजाता विदेश सचिव थीं.

 

उधर भाजपा प्रवक्ता नलिन कोहली ने सरकार के निर्णय का बचाव करते हुए कहा, ‘ मैं इस मामले में शोरशराबे का कोई कारण नहीं देख पा रहा हूं. सरकार को यह अधिकार है कि वह किस अधिकारी को नियुक्त करना चाहती है और उसे पता है कि उसका दायित्व क्या है. और यह पहली बार नहीं हो रहा है, पूर्व की सरकारों ने भी ऐसे फैसले किये हैं. ’

 

इस निर्णय पर कांग्रेस की आलोचना पर पलटवार करते हुए उन्होंने याद दिलाया कि तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने 1987 में एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान सार्वजनिक रूप से विदेश सचिव ए पी वेंकटेश्वर को बख्रास्त कर दिया था. कोहली ने कहा, ‘ मैं कोई कारण नहीं देखता कि इसे राजनीतिक मंशा से जोड़ा जाए. यह सरकार का अधिकार है. हर मामले के पीछे राजनीतिक मंशा नहीं हो सकती है. ’

 

सरकार द्वारा कल देर रात सुजाता सिंह के कार्यकाल में ‘कटौती’ किये जाने के बाद विदेश सचिव बनाए गये जयशंकर ने आज सुबह अपना कार्यभार संभाल लिया. वर्ष 1977 बैच के आईएफएस अधिकारी जयशंकर ने कहा, ‘सरकार की प्राथमिकताएं मेरी प्राथमिकताएं हैं.’

 

उन्होंने अपनी नई भूमिका को ‘सम्मान और बड़ी जिम्मेदारी’ करार दिया. अचानक विदेश सचिव बनाये जाने से पूर्व 60 वर्षीय जयशंकर अमेरिका में भारत के राजदूत रह चुके हैं. वह चीन, सिंगापुर और चेक गणराज्य में भी राजदूत के तौर पर अपनी सेवा प्रदान कर चुके हैं.

 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सितंबर में अमेरिका दौरे और अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा की हाल में संपन्न हुयी भारत यात्रा के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले जयशंकर को नियुक्त किये जाने का निर्णय मोदी की अध्यक्षता वाली मंत्रिमंडल नियुक्ति समिति ने लिया.

 

अगस्त 2013 में विदेश सचिव बनीं सुजाता सिंह यह पद पाने वाली तीसरी महिला थीं और अभी उनका आठ महीने का कार्यकाल शेष था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Sujatha’s removal: War of words between Cong, BJP
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: sujatha singh
First Published:

Related Stories

यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए
यूपी: वाराणसी में लगे PM मोदी के लापता होने के पोस्टर, देर रात पुलिस ने हटवाए

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है. यहां पर कुछ...

एबीपी न्यूज़ की खबर का असर, गायों की मौत के मामले में बीजेपी नेता गिरफ्तार!
एबीपी न्यूज़ की खबर का असर, गायों की मौत के मामले में बीजेपी नेता गिरफ्तार!

रायपुर: एबीपी न्यूज की खबर का असर हुआ है. छत्तीसगढ़ में गोशाला चलाने वाले बीजेपी नेता हरीश...

जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच
जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच

नई दिल्लीः आजकल सोशल मीडिया पर एक टीचर की वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि वो अपनी...

19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और पुलिस
19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और...

लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 19 अगस्त को यूपी के गोरखपुर जिले के दौरे पर रहेंगे. राहुल...

नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी
नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी

सिद्धार्थनगर/बलरामपुर/गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को...

पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश की
पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा से...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. डोकलाम विवाद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी का चीन जाना तय हो गया है. ब्रिक्स देशों के सम्मेलन के लिए...

सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन
सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन

मथुरा: यूपी के शिक्षामित्र फिर से आंदोलन के रास्ते पर चल पड़े हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद...

बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान
बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली: असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में आई बाढ़ की वजह से भारतीय रेल को पिछले सात...

डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे बातचीत
डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे...

नई दिल्ली: बॉर्डर पर चीन से तनातनी और नेपाल में आई बाढ़ को लेकर शुक्रवार को विदेश मंत्रालय ने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017