पटियाला हाउस कोर्ट में मारपीट के आरोपी तीन वकीलों को सुप्रीम कोर्ट से नोटिस

By: | Last Updated: Friday, 26 February 2016 2:48 PM
Supreme Court Notice To Lawyers, Police Over JNU Hearing Violence

नई दिल्ली: कन्हैया की पेशी के दौरान पटियाला हाउस कोर्ट में मारपीट के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने तीन वकीलों को नोटिस जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट में वकीलों के खिलाफ अवमानना का केस चलाने की मांग की गई है.

15 फऱवरी को पटियाला हाउस कोर्ट में जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया की पेशी थी लेकिन पेशी से पहले दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट का परिसर जंग का मैदान बन गया.

कोर्ट के गेट नंबर दो के बाहर वकीलों के दो गुट ही आपस में भिड़ गए. कन्हैया के समर्थन और विरोध में नारे लगा रहे वकीलों ने हाथापाई भी की. सुरक्षा के लिए पुलिस के 400 जवान कोर्ट में तैनात किए गए थे लेकिन पुलिस हंगामा रोकने में नाकाम साबित हुई.

एक टीवी चैनल द्वारा किए गए स्टिंग ऑपरेशन में खुलासा हुआ है कि आरोपी वकीलों ने पुलिस हिरासत में कन्हैया कुमार की पिटाई की थी. अब इसी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने 3 वकीलों के खिलाफ अदालत की अवमानना की कार्रवाई की मांग पर नोटिस जारी किया है.

पटियाला हाउस कोर्ट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने तीन वकीलों, विक्रम चौहान, यशपाल सिंह और ओम शर्मा को नोटिस जारी किया है. तीनों वकीलों को नोटिस जारी कर पूछा गया है कि क्यों न उनके खिलाफ अवमानना का मामला चलाया जाए.

इसके साथ ही कोर्ट में हंगामे और मारपीट की SITसे जांच कराने की मांग वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है. सुप्रीम कोर्ट ने माना है कि अदालती आदेश के बावजूद पटियाला हाउस कोर्ट में कन्हैया, पत्रकारों और जेएनयू के लोगो से मारपीट और हंगामा गंभीर बात है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Supreme Court Notice To Lawyers, Police Over JNU Hearing Violence
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017