संसद में रेलवे पर श्वेत पत्र पेश कर सकते हैं प्रभु

By: | Last Updated: Monday, 23 February 2015 5:00 PM

नई दिल्ली: रेल मंत्री सुरेश प्रभु संसद में रेलवे के वित्त तथा परियोजनाओं पर श्वेत पत्र पेश कर सकते हैं.

 

रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘रेलवे पर श्वेत पत्र मुख्य रूप से बेहतर राजस्व कमाने के मॉडल, मालढुलाई व किराये को तर्कसंगत बनाने तथा क्षमता का विस्तार करने पर कंेद्रित होगा.’’

 

अधिकारी ने कहा कि सभी निदेशालयों ने अपनी जारी व लंबित परियोजनाओं, इनमें देरी की वजह व समाधान के बारे में ब्योरा दिया है जिसके आधार पर श्वेत पत्र तैयार किया गया है. यह रिपोर्ट संसद के चालू बजट सत्र में पेश की जा सकती है.

 

तत्कालीन रेल मंत्री ममता बनर्जी ने दिसंबर, 2009 में रेलवे पर श्वेत पत्र व विजन-2020 पेश किया था. हालांकि, इस बार प्रभु का ज्यादा राजस्व बढ़ाने के रास्तों पर है.

 

पूर्व बैंकिंग व वित्तीय सेवा सचिव डी के मित्तल की अगुवाई वाली एक समिति पहले ही रेलवे के नए धन जुटाने व राजस्व माडल पर अपनी सिफारिशों सौंप चुकी है. इस समिति का गठन प्रभु ने किया था.

 

कुल 1,57,883 करोड़ रुपये की 676 परियोजनाएं मंजूर की गई थीं. इनमें से 317 परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं. शेष 359 परियोजनाएं अभी पूरी नहीं हो पाई हैं और इनके लिए 1,82,000 करोड़ रुपये की जरूरत है.

 

पिछले रेल बजट में जरूरत व कोष की उपलब्धता के आधार पर 30 प्राथमिकता वाली परियोजनाओं का चयन किया गया था. रेल मंत्री ने संबंधित राज्यों में रेल परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए राज्य सरकारों के साथ विशेष कंपनी या इकाई स्थापित करने के लिए भी कदम उठाए हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Suresh Prabhu_Rail Budget_Budget 2015_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Budget 2015 Rail Budget suresh prabhu
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017