केरलवासियों को नेपाल से वापस लाएंगे: सुषमा

By: | Last Updated: Monday, 27 April 2015 5:23 PM

नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने केरल सरकार को भरोसा दिलाया है कि भूकंप प्रभावित नेपाल में फंसे केरल के तकरीबन 250 नागरिकों को सुरक्षित निकाल लिया जाएगा. राज्य के एक मंत्री ने सोमवार को यह जानकारी दी.

 

केरल के प्रवासी मामलों के मंत्री के.सी. जोसेफ ने राज्यसभा के उपाध्यक्ष पी.जे. कुरियन सहित राज्य के सभी सांसदों के साथ राजधानी में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की.

 

जोसेफ ने दिल्ली में मीडिया को बताया, “हमें यह जानकारी मिली है कि नेपाल में अभी भी केरल के 250 नागरिक फंसे हुए हैं. इनमें से 115 नागरिक गोरखपुर के रास्ते सड़क मार्ग से लौट रहे हैं वहीं 47 नागरिक पहले ही दिल्ली पहुंच चुके हैं.”

 

उन्होंने कहा, “विदेश मंत्री (सुषमा स्वराज) ने हमसे वादा किया है कि नेपाल से हमारे लोगों को वापस लाने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे. हालांकि इस समय मौसम खराब है इस कारण विमान वहां पर उतर नहीं पा रहे हैं.”

 

जोसेफ ने कहा कि उनका दिल्ली दौरा मुश्किल परिस्थितियों में केरल सरकार की गंभीरता को परिलक्षित करता है.

 

उन्होंने कहा, “राज्य सरकार ने नेपाल से वापस आए केरल के नागरिक अगर केरल भवन आना चाहें तो उनके लिए सभी प्रकार के इंतजाम किए गए हैं. केरल जाने वाले वे सभी लोग जिनके हवाई टिकट की अवधि समाप्त हो गई है उनके दोबारा से सत्यापित टिकट उपलब्ध कराया जाएगा.” जोसेफ ने मीडिया से कहा कि उसे केरल सरकार द्वारा किए जा रहे अच्छे काम की सराहना करनी चाहिए.

 

उन्होंने कहा, “अगर केरल सरकार का कोई मंत्री यहां नहीं आता तो आप पूछते कि सरकार किसी मंत्री को क्यों नहीं भेज रही है? अब जब मैं आया हूं तो आप कह रहे हैं कि क्या किसी मंत्री को यहां आने की जरूरत थी.”

 

उन्होंने एबिन सूर्या की स्थित के बारे में भी जानकारी दी. सूर्या एक चिकित्सक है और कोझीकोड का रहने वाला है. उसे अपने दो साथियों के साथ नेपाल में ढूंढ लिया गया है.

 

उन्होंने कहा, “सूर्या को नेपाल में चिकित्सा देखभाल में रखा गया है और सुषमा स्वराज ने उसे जल्द से जल्द हवाई मार्ग द्वारा दिल्ली लाने का वादा किया है.”

 

इसी बीच सूर्या की मां ने केरल में मीडिया को बताया कि उन्होंने नेपाल के एक अस्पताल में भर्ती अपने बेटे से बात की है. उन्होंने बताया कि चिकित्सकों का कहना है कि उसके गुर्दे की हालत ठीक नहीं है और उसका डायलिसिस चल रहा है.

 

उल्लेखनीय है कि नेपाल में शनिवार को आए भूकंप में अब तक 3,700 लोगों की जान जा चुकी है और हजारों लोग घायल हुए हैं.

 

उत्तर बंगाल में भूकंप के झटके

 

उत्तर बंगाल के इलाकों में सोमवार शाम भूकंप के ताजा झटके महसूस किए गए. झटकों से घबराए लोग घरों, कार्यालयों एवं वाणिज्यिक परिसरों से बाहर निकल आए.

 

रिक्टर पैमाने पर 3.7 तीव्रता के भूकंप के झटके शाम 6.09 बजे दार्जिलिंग, जलपाईगुड़ी, उत्तर दिनाजपुर एवं मालदा जिलों में महसूस किए गए. भूकंप के झटकों से घबराए लोग घरों, दफ्तरों से निकलकर खुले आसमान के नीचे निकल आए.

 

पीड़ितों को राहत पहुंचाने में बिहार सरकार गंभीर नहीं: रामविलास

 

केन्द्रीय खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान ने यहां सोमवार को कहा कि तूफान और भूकंप पीड़ितों को राहत पहुंचाने के मामले में बिहार सरकार कतई गंभीर नहीं है. उन्होंने बिहार सकार पर संवेदनहीन होने का भी आरोप लगाया. पटना में पत्रकारों से चर्चा करते हुए पासवान ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण कर रहे हैं लेकिन जमीनी हकीकत का उन्हें पता नहीं है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को कार से एक-दो प्रभावित गांवों का दौरा करना चाहिए तब जमीनी हकीकत का पता लग सकेगा.

 

केन्द्रीय मंत्री ने कहा, “राज्य सरकार द्वारा अभी तक केन्द्र सरकार से किसी प्रकार की सहायता नहीं मांगी गई है. इस मामले में राज्य सरकार को जल्द से जल्द केन्द्र को प्रस्ताव भेज देना चाहिए. केन्द्र सरकार हरसंभव सहायता देने को तैयार है.”

 

उन्होंने कहा कि वे खुद आठ प्रभावित जिलों का दौरा कर लौटे हैं और दिल्ली जाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बिहार की हालत की जानकारी देंगे.

 

पासवान ने कहा, “पीड़ितों तक सहायता नहीं पहुंच पा रही है. अस्पताल में घायलों के इलाज की समुचित व्यवस्था नहीं है. परिजन घायलों को लेकर इधर-उधर भटक रहे हैं.” उन्होंने बताया कि पंजाब के कृषि मंत्री ने बिहार के आपदा प्रभावित इलाकों में राहत कैंप चलाने का प्रस्ताव दिया है, जिसे बिहार सरकार को स्वीकार कर लेना चाहिए.

 

रोहित शर्मा ने भूकंप प्रभावित लोगों से हमदर्दी जताई

 

मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने सोमवार को कहा कि उन्हें नेपाल में भूकंप से प्रभावित लोगों से हमदर्दी है और वह सभी की सलामती के लिए प्रार्थना कर रहे हैं. नेपाल में शनिवार को आए भूकंप से अब तक 3,500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही 6,500 से ज्यादा लोग घायल हैं.

 

रोहित ने कहा, “नेपाल में जो हुआ वह बहुत दुख पहुंचाने वाली घटना है. यह अच्छी बात है कि विश्व के कई देश इस समय नेपाल की मदद के लिए अपना हाथ आगे बढ़ा रहे हैं.”

 

रोहित ने इस बात खुशी जताई की भारत सरकार भी इस मुश्किल घड़ी में नेपाल की मदद में बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रही है.

 

रोहित ने कहा, “भारत सरकार ने वायु सेना और डॉक्टरों की टीम को नेपाल भेजा है. यह अच्छी बात है कि हम लोगों की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं. मैं प्रार्थना करता हूं कि प्रभावित लोग जल्द से जल्द इस आपदा से उबर जाएं.”

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sushma swaraj
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Earthquake Kerala Nepal sushma swaraj
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017