जम्मू-कश्मीर: बीजेपी-पीडीपी सरकार पर आशंका के बादल

By: | Last Updated: Tuesday, 12 January 2016 5:29 PM
Suspense surrounds J&K government formation

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी सरकार पर अभी भी आशंका के बादल मंडरा रहे हैं. मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद महबूबा मुफ्ती अगली सीएम होंगी इस पर अभी तक कोई फैसला नहीं हो पाया है. हालांकि पीडीपी ने सफाई दी है कि महबूबा मुफ्ती अभी भी सदमे में हैं. फिलहाल राज्य में राज्यपाल शासन लागू है.

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी सरकार को लेकर जारी असमंजस को पीडीपी नेता वेद महाजन ने खत्म करने की कोशिश की है. पीडीपी के मुताबिक महबूबा मुफ्ती अपने पिता की मौत के बाद से सदमे में है, जिसकी वजह से अभी सरकार बनाने को लेकर कोई हलचल नहीं हो रही है.

जनवरी को जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री रहे मुफ्ती मोहम्मद सईद का निधन हो गया था. उनके निधन के बाद महबूबा मुफ्ती को राज्य का अगला मुख्यमंत्री बनाने की बात हो रही है. लेकिन अभी तक महबूबा मुफ्ती की ओर से पीडीपी विधायक दल की बैठक ही नहीं बुलाई गई है.

महबूबा मुफ्ती को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर बीजेपी ने खुलकर अपनी सहमति तो नहीं जताई है, लेकिन बीजेपी-पीडीपी के बीच बने न्यूनतम साझा कार्यक्रम का हवाला जरूर दिया है.

ram madhav

जम्मू-कश्मीर विधानसभा के स्पीकर कविंद्र गुप्ता ने भी उम्मीद जताई है कि बीजेपी और पीडीपी की ही सरकार बनेगी. दरअसल दोनों दलों की सरकार पर आशंका के बादल इसलिए भी मंडराने लगे है. क्योंकि रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महबूबा मुफ्ती के साथ मुलाकात की थी, जिसके बाद जम्मू-कश्मीर की राजनीति में नए कयास भी लगाए जा रहे थे. पीडीपी 2002 में कांग्रेस के साथ मिलकर राज्य में सरकार बना चुकी है.

87 सीटों वाली जम्मू-कश्मीर विधानसभा में पीडीपी के 27 विधायक हैं, जबकि बीजेपी के पास 25 विधायक हैं. पिछले साल 1 मार्च को बीजेपी-पीडीपी की सरकार का गठन हुआ था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Suspense surrounds J&K government formation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017