ठाणे हत्याकांड : जुकाम ने बख्शी जिंदगी, पुलिस अब भी अंधेरे में

By: | Last Updated: Wednesday, 2 March 2016 1:19 PM
Thane Mass Murder : Updates

मुंबई : अपने 14 लोग खून में लथपथ पड़े थे और वह खुद को बंद कमरे में कैद कर भयानक मंजर देख रही थी. वह बच गई थी क्योंकि उसने अपने भाई द्वारा दी गई कोल्ड ड्रिंक नहीं पी थी. उस ड्रिंक में नशे की दवा थी और जुकाम की वजह से वह उसे नहीं पी पाई थी. यदि उसे जुकाम नहीं होता तो आज वह भी अपने सगे भाई के हाथों मार दी गई होती. इस मामले पुलिस को अभी तक कोई भी सुराग नहीं मिल पा रहा है.

Thane

ठाणे : पूरे कुनबे का ‘खून’ याद कर तिल-तिल मर रही है सोबिया

पुलिस अधिकारियों के साथ ही आसपड़ोस के लोग भी सकते में हैं. इसके साथ ही तरह-तरह की चर्चाओं से बाजार गर्म हो गया है. लेकिन, पुलिस के हाथ ऐसा कोई सबूत नहीं लग पा रहा है जिससे हत्याओं के कारण साफ हो सके. इन सब के बीच दबी जुबान में तंत्र-मंत्र की खुसफुसाट जरूर चल रही है लेकिन, पुलिस भी इस मुद्दे पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है.

जानिए ठाणे में उस रात आखिर हुआ क्या था ?

खात बातें जिस पर दिया जा रहा है ध्यान :

. यह हत्याकांड बहुत सोच-समझ कर रचा गया था
. पहले नशा खिलाया गया, फिर की गई हत्या
. बारी-बारी से सभी को काटा, इसमें काफी समय लगा होगा
. पूरे वंश को खत्म करने का प्रयास हुआ है
. हत्यारे ने पूरी कोशिश की है कि ‘ब्लड लॉईन’ (वंश) न बचे
. अचानक आवेग में आकर हत्याएं नहीं की गई हैं
. अतिरिक्त लोगों को पार्टी में बुलाया ही नहीं गया
. बूढ़े और छह माह के बच्चे को एक ही तरह मारा गया है

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Thane Mass Murder : Updates
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017