कश्मीर घाटी में 'चिल्लई कलां' की शुरुआत, जम जाएंगी झीलें और नदियां-The beginning of 'Chillai Kalan' in Kashmir Valley, will accumulate lakes and rivers

कश्मीर घाटी में 'चिल्लई कलां' की शुरुआत, जम जाएंगी झीलें और नदियां

यह कश्मीरियों के लिए मुशकिल का वक्त होता है तो दूसरी ओर सैलानी वादियों की इस खूबसूरत नजारों का लुत्फ भी खूब उठाते हैं.

By: | Updated: 21 Dec 2017 12:28 PM
The beginning of ‘Chillai Kalan’ in Kashmir Valley, will accumulate lakes and rivers

श्रीनगर: कश्मीर घाटी में कड़ाके की ठंड के 40 दिन की अवधि गुरुवार सुबह शुरू हो गई जिसे 'चिल्लई कलां' कहा जाता है. मौसम विज्ञान विभाग के अधिकारी के अनुसार, इस दौरान में झीलें और नदियां जम जाती हैं. यह कश्मीरियों के लिए मुशकिल का वक्त होता है तो दूसरी ओर सैलानी वादियों की इस खूबसूरत नजारों का लुत्फ भी खूब उठाते हैं.


अधिकारी के अनुसार, "रात भर हुई बारिश और बदली से समूचे जम्मू एवं कश्मीर में गुरुवार को न्यूनतम तापमान में सुधार हुआ है." श्रीनगर में न्यूनतम तापमान 3.1 डिग्री सेल्सियस रहा. इससे स्थानीय लोगों को ठंड से राहत मिली.  अधिकारी ने कहा, "पहलगाम में न्यूनतम तापमान हिमांक बिंदु से ऊपर 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ.


गुलमर्ग के तापमान में तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया." लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से 9.2 डिग्री नीचे और कारगिल में शून्य से 6.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ.  जम्मू में न्यूनतम तापमान 11 डिग्री, कटरा में 12.1 डिग्री, बटोटे में 5.4 डिग्री, बनिहाल में 3.9 डिग्री, भदरवाह में 3.4 डिग्री, उधमपुर में 10.3 डिग्री दर्ज किया गया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: The beginning of ‘Chillai Kalan’ in Kashmir Valley, will accumulate lakes and rivers
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story दिल्ली में तीन दिवसीय 'साहित्य महोत्सव' का आगाज