खतौली हादसे के बाद बर्खास्त किए गए सभी 12 ट्रैकमैनों की फिर हुई नियुक्ती

खतौली हादसे के बाद बर्खास्त किए गए सभी 12 ट्रैकमैनों की फिर हुई नियुक्ती

अगस्त के महीने में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी. जिसमें नौकरी से निकाले गए सभी 12 ट्रैकमैनों को नौकरी पर वापस ले लिया गया है.

By: | Updated: 17 Nov 2017 12:34 AM
Trackmen suspended during Khaitoli incident re-appointed by Indian railways
नई दिल्ली: अगस्त के महीने में उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी. जिसमें नौकरी से निकाले गए सभी 12 ट्रैकमैनों को नौकरी पर वापस ले लिया गया है.

इस हादसे में पुरी से हरिद्वार जा रही ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए थे. जिसमें 23 यात्रियों की मौत हो गई थी, जबकि 81 लोग बुरी तरह से घायल हो गए थे.

ये ट्रेन हादसा सिर्फ और सिर्फ लावरपाही का नतीजा था। लेकिन अब बिना किसी सख्त कार्रवाई के खतौली ट्रेन एक्सीडेंट के सभी ट्रैकमैन्स को वापस नौकरी पर बुलाने की खबर है.

इस हादसे को कमिश्नर रेलवे सेफ्टी की जांच में भी मानवीय भूल बताया गया था। खतौली में बिना ब्लॉक लिए ट्रैक को काट दिया गया था, और अब नौकरी में वापस लेने का मतलब ये है कि उस भयावह हादसे में मारे गए 23 की मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है।

इस हादसे के बाद मेंबर इंजीनियरिंग, जीएम नॉर्थरन रेलवे और डीआरएम दिल्ली को छुट्टी पर भेजा गया था. लेकिन उन सभी लोगों को भी पहले ही वापस बुलाया जा चुका है।

इन सभी लोगों को रिमूवल फरॉम सर्विस का आदेश भी आज वापस ले लिया गया.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Trackmen suspended during Khaitoli incident re-appointed by Indian railways
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव: पीएम के अभिवादन पर कांग्रेस को आपत्ति, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दिए जांच के आदेश