22 सीमा चौकियों पर पाकिस्तान ने की भीषण गोलाबारी, दो भारतीयों की मौत, पांच जख्मी

By: | Last Updated: Saturday, 23 August 2014 2:11 AM
Two civilians killed, 5 injured as Pakistan violates ceasefire yet again

नई दिल्ली: पाकिस्तानी सैनिकों ने आज जम्मू सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 22 सीमा चौकियों और 13 गांवों में बिना किसी उकसावे के भीषण गोलाबारी की जिससे 2 नागरिक मारे गए और बीएसएफ के जवान सहित 6 घायल हो गए.

 

मध्यरात्रि के बाद पाकिस्तान की ओर से संघषर्विराम उल्लंघन करते हुए पुंछ के हमीरपुर उपसेक्टर में और आर एस पुरा तथा अरनिया की पूरी सीमा पट्टी को निशाना बनाया गया. इसके तत्काल बाद आपात योजना के तहत सीमावर्ती गांवों में रहे 3000 से अधिक लोगों को वहां से हटा कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया.

 

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि बीएसएफ के जवानों ने फौरन पोजीशन ली और जवाबी कार्रवाई की. आज सात बजे तक दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी जारी थी. अधिकारी ने बताया ‘‘पाक रेंजरों ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास जम्मू के अरनिया और आर एस पुरा उप सेक्टर में रात साढ़े बारह बजे से 82 मिमी के मोर्टार दागे और स्वचालित रायफलों से 22 सीमा चौकियों को तथा रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया.’’ आर एस पुरा के उप संभागीय पुलिस अधिकारी देवेन्द्र सिंह ने बताया कि पाकिस्तान सैनिकों की ओर से दागा गया एक मोर्टार जोरा फार्म में एक मकान पर गिरा जिससे छत ध्वस्त हो गई और अकरम हुसैन और उसके बेटे असलम की मौत हो गई तथा परिवार के तीन अन्य सदस्य घायल हो गए.

 

सिंह ने बताया कि वर्ष 2003 में हुए संघषर्विराम समझौते के बाद से जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाक रेंजरों की ओर से उल्लंघन किए जाने की यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है. पाकिस्तानी सैनिकों ने आज दो बार संघषर्विराम उल्लंघन किया. जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर हमीरपुर उप सेक्टर में उन्होंने गोलीबारी की जिसका भारतीय सैनिकों ने समुचित जवाब दिया.

 

पाक रेंजरों ने कम से कम 13 सीमाई गांवों पर मोर्टार दागे जिससे अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रह रहे लोगों में दहशत फैल गई. इस संषर्घविराम उल्लंघन में बीएसएफ के एक जवान सहित 6 लोग घायल हो गए और 5 मकानों को नुकसान पहुंचा.

 

मोर्टार से सिया, जोर्धा फार्म, ट्रेवा, निकोवाल, पित्ताल, पिंडी, टॉप..2, गढ़ी, घराना, अब्दुल्लियां कोरोटना, कोरोटना खुर्द और विधिपुर जत्तन गांवों को निशाना बनाया गया. घायलों में कोरोटना खुर्द निवासी अजय चौधरी और विधिपुर जत्तन की रानी देवी तथा बीएसएफ का एक जवान शामिल हैं.

जम्मू जोन के संभागीय आयुक्त शांत मनु ने बताया ‘‘सात से आठ गांवों के कम से कम 3000 लोग पाकिस्तानी सैनिकों की गोलीबारी के दायरे में आए. इन लोगों को जिला प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर वहां से हटा कर अन्य सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.’’ उन्होंने बताया कि इन लोगों को बस्सूपुर बंगलो के रंगपुर स्थित सरकारी हाई स्कूल तथा आर एस पुरा में सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में जगह दी गई है. दोनों इमारतों की पहचान जिला प्रशासन ने पाकिस्तान से गोलीबारी के दौरान आपात योजना के तहत नागरिकों को ठहराने के लिए की थी.

 

अधिकारी ने बताया कि प्रशासन और पुलिस अधिकारी आर एस पुरा में ठहरे हुए हैं. वहां सीमावर्ती गांवों के लोगों को ठहराने के इंतजाम किए गए हैं. जम्मू जिले में कल पल्लनवाला सेक्टर की चलका चौकी में नियंत्रण रेखा के पास पाक अधिकृत कश्मीर से आने वाली एक संभावित सुरंग का पता चलने के बाद यह गोलाबारी हुई.

 

पाकिस्तानी सैनिकों ने एक पखवाड़े में 16 बार और इस माह में 18 बार संघषर्विराम उल्लंघन किया है. पाकिस्तान की ओर से लगातार फायरिंग की वजह से सीमा के नजदीक के गांवों में रहने वाले लोग दहशत में हैं.

 

मुख्तार अब्बास नकवी, बीजेपी नेता

“ऐसा लग रहा है पाकिस्तान और पाकिस्तान के हुक्मरानों ने अपने देश का नेशनल एजेंडा हिंसा, आतंकवाद और हमला बना लिया है. ऐसे में उनके साथ कौन बात करेगा और कौन अमन की बात सोचेगा. जो पाकिस्तान के तरफ से हो रहा है वो उसके सेहत के लिए ठीक नही हैं.”

 

राशिद अल्वी कांग्रेस नेता-

“बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. यह पहली बार नहीं हो रहा है.  सरकार आंखे बंद कर बैठी है. खामोश तमाशाई बनी बैठी है. पीएम बनने से पहले कहते थे कि हम आँखों में आंखे डालकर बात करेंगे.सारा देश इंतजार कर रहा है कब बात करेंगे. अटल जी लाहौर गए थे बस लेकर दोस्ती लेकर तो कारगिल हो गया. नरेंद्र मोदी जी ने नवाज शरीफ को बुलाकर शॉल दिया तो बंकर्स बनाए जा रहे हैं. सरकार को चिंता करनी चाहिए और पाकिस्तान से सख्ती से बात करनी चाहिए.”

 

एक घर में छिपे हैं 4-5 आतंकी

जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों और सेना के जवानों के बीच मुठभेड़ चल  रही है. ये मुठभेड़ उत्तरी कश्मीर के जालोरा में चल रही है. पुलिस के मुताबिक तीन से चार की संख्या में आतंकी एक घर में छिपे हुए हैं और सेना ने घर को चारों तरफ से घेर लिया है. माना जा रहा है कि जो आतंकी घर में छिपे हैं उसमें लश्कर का कमांडर अबु साद और सैफुल्ला भी. ये दोनों पाकिस्तान के रहने वाले हैं.

 

सुरंग का भी पता चला-

जम्मू के अखनूर सेक्टर में चकला पोस्ट के पास पाकिस्तान की तरफ से खोदी गई सुरंग का पता चला है. पाकिस्तान की तरफ से आ रही 50 मीटर लंबी और करीब ढाई फीट चौड़ी सुरंग के दूसरे छोर का पता नहीं चला है.

 

बताया जा रहा है बारिश होने की वजह से एक जगह जमीन धंसी और इसी से सुरंग होने का पता चला. पाकिस्तानी सेना और आतंकियों की नई गतिविधियों को देखते हुए सीमा पर अलर्ट जारी की गई है.

 

जम्मू कश्मीर के सोपोर में कल शाम आतंकियों ने आर्मी और एसओजी पर फायरिंग की. इलाके की घेराबंदी कर 3 से 4 आतंकियों की तलाश की जा रही है.