ऊबर टैक्सी रेप केस: आरोपी ड्राइवर को पुलिस हिरासत में भेजा गया

By: | Last Updated: Thursday, 18 December 2014 2:16 AM

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने एक युवती के साथ बलात्कार करने आरोपी ऊबर टैक्सी चालक को दो दिन के लिए पुलिस की हिरासत में भेज दिया है.

 

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने शिव कुमार यादव से उस फर्जी प्रमाण पत्र के बारे में पूछताछ के लिए उसकी हिरासत मांगी थी जिसका इस्तेमाल करके उसने ऑल इंडिया टूरिस्ट परमिट हासिल किया था.

 

ऊबर मामला: जिससे फेक सर्टिफिकेट लिया गया था, उस व्यक्ति की पहचान हुई

 

बीते पांच दिसंबर को युवती के साथ बलात्कार के आरोप में 32 साल के यादव को गिरफ्तार किया गया था.

 

यादव ने एक वित्त कंपनी के एजेंट के जरिए एक अतिरिक्त डीसीपी के नाम से जारी फर्जी प्रमाण पत्र हासिल कर लिया था. पुलिस ने इस एजेंट सुमित शर्मा को हिरासत में ले लिया है. सुमित ने पुलिस को बताया कि उसने इसे एक और व्यक्ति से हासिल किया था.

 

ऊबर रेप मामले के आरोपी को कड़ी निगरानी में रखा गया

 

पांच दिसंबर की रात 27 वर्षीय एक युवती से रेप करने के आरोपी यादव को कल शहर की एक अदालत ने 24 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया था.

 

संबंधित खबरें-

दिल्ली, बेंगलुरु के बाद मुंबई में भी ऊबर पर बैन 

ऊबर रेप केस: ऊबर ने मांगी माफी, दो हफ्तों में पुलिस करेगी चार्जशीट दाखिल 

‘उबर’ ने दिल्ली में अपनी सेवाएं बंद की 

ऊबर के आरोपी ड्राइवर ने पहले भी की थी छेड़छाड़ 

दिल्ली पुलिस ने जीपीएस से लैस ऊबर के ड्राइवर का आईफोन बरामद किया 

पड़ताल: बैन के बावजूद दूसरे दिन भी सड़कों पर दौड़ रही हैं ऊबर की टैक्सियां 

क्या ऊबर की टैक्सी में घटती 16 दिसंबर जैसी घटना? 

थाइलैंड व स्पेन में ऑनलाइन टैक्सी बुकिंग कंपनी ऊबर पर रोक  

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: uber_taxy_rape_driver_sent_to_jail
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: driver uber uber rape case
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017