देश में सरकार बदल गई, पर कुछ नहीं बदला: उद्धव ठाकरे

By: | Last Updated: Thursday, 23 July 2015 4:30 AM
uddhav thackeray interview

नई दिल्ली: एनडीए सहयोगी शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है. सामना में छपे इंटरव्यू में उद्धव ठाकरे ने कहा है कि मोदी सरकार से देश को बहुत उम्मीद हैं और लोगों का ये विश्वास नहीं टूटना चाहिए.

 

ठाकरे ने कहा है, ‘लोगों का विश्वास नहीं टूटना चाहिए. लोगों का संयम न टूटे, इसलिए कामों को गति देनी चाहिए.’ उद्धव ने माना है कि कांग्रेस की भूल भुलैया में लोग फंस गए हैं इसलिए उनका संयम टूट रहा है.

 

आपको बताते चलें कि सरकार के एक साल पूरे होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि देश में बहुत कुछ बदल गया है और अब अखबारों में पहले जैसी खबरें पढ़ने को नहीं मिलतीं. जबकि ठाकरे ने कहा है कि पहले भी ऐसी खबरें होतीं थीं और आज भी वैसा ही है.

 

सरकार बदल गई है लेकिन कुछ नहीं बदला? इस सवाल पर ठाकरे ने कहा है, ‘हां, पहले सुबह अखबार खोलने के  बाद जिन खबरों से बोरिंग होती थी आज भी वही खबरें पढ़ने को मिलती हैं. यही हम पहले भी पढ़ते थे. किसानों की आत्महत्या हो, बेरोजगारों का मोर्चा हो या महिलाओं से जुड़ें  अपराध हों.. सारे. तुम कुछ ऐसा कर दिखाओ जो नया हुआ है.’

 

उन्होंने कहा है कि बदलाव सिर्फ सत्ताधारियों को नज़र आ रहा है है लोगों को नहीं.

 

ठाकरे ने कहा, ‘नरेंद्र मोदी से देश तथा लोगों को बहुत बड़ी उम्मीद है. कुछ कर सकेंगे तो सिर्फ वो औऱ वही कर सकेंगे यह विश्वास लोगों में आज भी है. ऐसा जल्द घटित होना चाहिए.’

 

पाकिस्तान के मसले पर उद्धव ठाकरे ने कहा है, ‘पाकिस्तान से हम जब भी बातचीत करते हैं उस समय भी उसकी गोलीबारी जारी रहती है. इसमें कुछ भी सुधार अभी तक नहीं हुआ है. उसकी पूंछ टेढ़ी ही है. यह पूंछ एक बार हमें काटनी होगी. राष्ट्रहित के साथ किसी प्रकार का समझौता सरकार न करे. नरेंद्र मोदी में हिम्मत है. वे हिम्मत के सथ पाकिस्तान का मुकाबला करें.’

 

कश्मीर में पाकिस्तानी झंडे लहराए जाने को लेकर पूछे गए सवाल पर उद्धव ने कहा, ‘‘लंबे समय से ऐसा होते हुए देखा नहीं है, बहुत दिनों बाद ऐसा देखा है.’’ एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने जम्मू कश्मीर में भाजपा के पीडीपी के साथ गठजोड़ के बाद उसमें आई तब्दीलियों पर सवाल खड़े किए.

 

उन्होंने कहा, ‘‘हम क्या कर सकते हैं? यह बहुत चौंकाने वाला है. मेरा किसी से व्यक्तिगत झगड़ा नहीं है लेकिन मुफ्ती मोहम्मद सईद को लेकर आपके विचार :चुनाव से पहले: क्या थे? आप उनकी राजनीतिक शैली को कैसे भूल सकते हैं? यदि कश्मीर प्रगति करता है तो यह अच्छा है. लेकिन सुधार लाने का मतलब यह नहीं है कि राज्य को बड़ा वित्तीय पैकेज दे दिया जाए. वहां के लोगों की भावना भारत के साथ आने की होनी चाहिए.’’

 

शिवसेना प्रमुख ने किसानों को कर्जमुक्त करने के अपने रूख को भी दोहराया और कहा कि उन्हें आर्थिक रूप से बेहतर होना होगा ताकि भविष्य में जब भी उन्हें नया कर्ज लेने की इच्छा हो तो वे इसे ले सकें.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: uddhav thackeray interview
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017