आतंकी के पकड़े जाने पर किसने क्या कहा- 'यह बहुत बड़ी कामयाबी है'

By: | Last Updated: Wednesday, 5 August 2015 9:54 AM

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हमला करने वाले आतंकवादियों में एक आतंकी उस्मान उर्फ कासिम खान को ज़िंदा पकडा गया है. जिसे बाजेपी प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने भारतीन सेना की बहुत बड़ी उपलब्धि बताया है.

 

बीएसएफ के काफिले पर हमला करने के बाद गांव में जाकर लोगों को बंधक बनाने वाले आतंकी को सुरक्षाबलों ने जिंदा पकड़ कर बंधकों को छुड़ा लिया और कसाब के बाद दूसरे किसी आतंकवादी को जिंदा पकड़ने की कामयाबी हासिल की.

 

तमाम नेताओं ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देना शुरु कर दी है. बीजेपी प्रवक्ता और सांसद मीनाक्षी लेखी ने इसे भारतीन सेना की बहुत बड़ी उपलब्धि के साथ साथ सरकार के लिए भी एक उपलब्धि बताया है.

 

उन्होंने कहा कि ‘ये सरकार की बहुत बड़ी उपलब्धि है क्योंकि देश में जितने आतंकी हमले होते रहे हैं उनमें इतनी स्ट्रेसफुल सिचुएशन देश में होती है…कोई रहता नहीं है और उनमें लोगों को बचाना सबसे जरुरी होता है. उस दौरान भयंकर तरीके से लड़ाई होती है और आतंकवादी मार गिराए जाते हैं.’

 

मीनाक्षी लेखी ने कहा कि, ‘कसाब के बाद ये दूसरा आतंकी देश में जिंदा पकड़ा गया है. यह अपने आप में फोर्स के लिए एक बड़ी उपलब्धि है..क्योंकि हम इसे सबूत के रुप में इंटरनेशनल एजेंसी के सामने रखेंगे और पाकिस्तान को भी इससे सच का सामना करना पड़ेगा.’

 

सेना को बधाई देता हूं जिसने पाकिस्तान को बेनकाब कर दिया: गुलाम नबी आजाद

 

सेना के द्वारा किए गए इस साहसिक कार्य की सराहना करते हुए राज्यसभा सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि मैं सेना को बधाई देता हूं जिसने पाकिस्तान को बेनकाब कर दिया.

उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हमला करने वाले आतंकवादियों में एक आतंकी उस्मान उर्फ कासिम खान के ज़िंदा पकडे जाने को लेकर कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि ‘मैं बधाई देता हूं जिसने पाकिस्तान को बेनकाब कर दिखाया.’

 

उन्होंने कहा कि ‘आज जो ये आतंकवादी जिंदा पकड़ा गया है इसने पाकिस्तान को और भी बेनकाब कर दिया है.’

 

पाकिस्तान की ये हरकत हम बर्दाश्त नहीं करेंगे: फारुक अब्दुल्ला

 

नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि वे (पाकिस्तान) कोई ऐसा कदम नहीं उठा रहे हैं जिससे ये (आतंकवाद) बंद हो सके.

केवल इतना ही नहीं फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि उन्हें (पाकिस्तान को) चेतावनी देनी होगी कि हम ये बर्दाश्त नहीं कर सकते है…बहुत हो गया..एक तरफ से हम बातचीत करते हैं और दूसरी तरफ से आतंकवाद चलता रहता है…ये कब तक होगा?

 

उन्होंने कहा कि ‘क्या हमें सिर्फ मरना ही है…और बातचीत किसी मुकाम पर तो पहुंचेगी नहीं…मैं तो हिंदुस्तान की हुकुमत से कहना चाहता हूं कि उन्हें फौरन हमारे पड़ोसी से ये कहना चाहिए कि बहुत हो गया… हम तुम्हारे साथ अमन में रहना चाहते हैं लेकिन हम ये बर्दाशत नहीं करेंगे.’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: udhampur
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017