खुशखबरी: कुंभ मेला होगा यूनेस्को की विरासत सूची में शामिल । UNESCO names Kumbh Mela Intangible Cultural Heritage

खुशखबरी: कुंभ मेला होगा यूनेस्को की विरासत सूची में शामिल

संयुक्त राष्ट्र संघ संस्था यूनेस्को ने भारत में होने वाले कुंभ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर का दर्जा दिया है.

By: | Updated: 08 Dec 2017 02:26 PM
UNESCO names Kumbh Mela Intangible Cultural Heritage

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र संघ संस्था यूनेस्को ने भारत में होने वाले कुंभ मेले को मानवता की अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर का दर्जा दिया है. दक्षिण कोरिया के जेजू में 4-9 दिसंबर तक हुए 12वें सत्र में कुंभ मेले को यूनेस्को प्रतिनिधि सूची में शामिल किया गया है.


कुंभ मेले को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मिली यह पहचान योग और नवरोज के बाद किसी भारतीय संस्कृतिक धरोहर को मिला लगातार तीसरा खिताब है. विदेश मंत्रालय के मुताबिक यूनेस्को की विषेषज्ञ समिति ने कुंभ मेले को प्रतिनिधि सूची में शामिल करने का यह फैसला सभी सदस्य देशों की ओर से मिले प्रस्तावों की विवेचना के बाद किया.


समिति ने पाया कि कुंभ मेला धरती पर सबसे बड़ा शांतिपूर्ण धार्मिक सम्मेलन है जो सभी मौजूदा अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार संधियों के अनुरूप है. इसमें बिना किसी भेदभाव के विभिन्न वर्गों के लोग भाग लेते हैं. विशेषज्ञ समिति ने माना कि एक धार्मिक आयोजन के तौर पर कुंभ मेले में जिस तरह सहिष्णुता और समायोजन नजर आता है वो पूरी दुनिया के लिए एक उदाहरण है.


यूनेस्को ने इस बात को भी माना कि कुंभ मेले से जुड़ा ज्ञान गुरु-शिष्य परंपरा के जरिए एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक पहुंचता है. इसके कारण मेले के आयोजन की निरंतरता भी सुनिश्चित होती है. महत्वपूर्ण है कि कुंभ मेला हरिद्वार, इलाहबाद, उज्जैन औऱ नासिक में मनाया जाता है. कुंभ आयोजन की कहानी देवासुर संग्राम और समुद्र मंथन से निकले अमृत कलश से जुड़ी है.


यूनेस्को ने 2003 में हुई महासभा में एक अंतरराष्ट्रीय संधि के जरिए अमूर्त सांस्कृतिक धरोहरों को भी सुनिश्चित करने का फैसला किया था. संयुक्त राष्ट्र संस्था में बनी सहमित के अनुसार सांसकृतिक धरोहर स्थान, इमारत और वस्तुओं जैसी मूर्त चीजों से अधिक है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: UNESCO names Kumbh Mela Intangible Cultural Heritage
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पाक अधिकारियों के साथ बैठक के आरोपों को कांग्रेस ने निराधार बताया