स्वेटर के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने किया हमला तो योगी सरकार की बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिया ये जवाब | UP: Akhilesh Yadav tweets on Sweter distribution in schools, Anupma Jaiswal replied

स्वेटर के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने किया हमला तो योगी सरकार की बेसिक शिक्षा मंत्री ने दिया ये जवाब

अखिलेश यादव ने आज एक ट्वीट कर कहा, ‘‘सरकार बार-बार स्वेटर के टेंडर रद्द कर रही है और स्कूल के बच्चे सरकार की तरफ़ से दिए जाने वाले स्वेटर का इंतजार. कहीं ऐसा न हो कि इधर बच्चे झूठी उम्मीदों की आग तापते ही रह जाएं और उधर टेंडर की प्रक्रिया पूरी होते-होते मई-जून आ जाए.’’

By: | Updated: 26 Dec 2017 09:11 PM
UP: Akhilesh Yadav tweets on Sweter distribution in schools, Anupma Jaiswal replied

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार पर आक्रामक रवैया अपनाते हुये समाजवादी पार्टी ने मंगलवार को कहा कि अभी तक प्राइमरी स्कूलों के बच्चों को स्वेटर नहीं मिले है. स्वेटर की टेंडर प्रक्रिया पूरी होते होते कही गर्मियां न आ जायें.


पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज एक ट्वीट कर कहा, ‘‘सरकार बार-बार स्वेटर के टेंडर रद्द कर रही है और स्कूल के बच्चे सरकार की तरफ़ से दिए जाने वाले स्वेटर का इंतजार. कहीं ऐसा न हो कि इधर बच्चे झूठी उम्मीदों की आग तापते ही रह जाएं और उधर टेंडर की प्रक्रिया पूरी होते-होते मई-जून आ जाए.’’




अखिलेश यादव के आरोपो का जवाब देते हुये यूपी बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल ने आज कहा, ‘‘स्वेटर जल्द से जल्द बांट दिये जायेंगे, इस दिशा में सरकार काम कर रही है. आखिर अखिलेश यादव को क्यों चिंता हो रही है, मोजे और जूते बच्चों के पैरो में है. अगर उन्होंने (अखिलेश) ने बच्चों के बारे में पहले चिंता कर ली होती तो स्वेटर कब के बंट गये होते. हम स्वेटर के रंग और दाम आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर रहे है.’’


जायसवाल ने कहा, ‘‘ बच्चों को जब तक स्वेटर नही बंटेगे तब तक मैं भी स्वेटर नहीं पहनूंगी.’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: UP: Akhilesh Yadav tweets on Sweter distribution in schools, Anupma Jaiswal replied
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राजस्थान विधानसभा भवन में 'बुरी आत्माओं' का साया, हवन कराने की मांग