सीएम योगी ने अयोध्या से किया चुनावी अभियान का आगाज, साधु-संतों से मांगी मदद

सीएम योगी ने अयोध्या से किया चुनावी अभियान का आगाज, साधु-संतों से मांगी मदद

योगी ने अयोध्या में बीजेपी को जिताने के लिये साधु-संतों से अपील की और कहा कि अयोध्या की पहचान आपसे है और आपकी पहचान अयोध्या से है.

By: | Updated: 14 Nov 2017 05:34 PM
UP Civic Elections 2017: CM Yogi Adityanath sounds poll bugle from Ayodhya
अयोध्या: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगरीय निकायों के आगामी चुनाव के लिये आज धार्मिक नगरी अयोध्या से अपने प्रचार अभियान की शुरुआत की और बीजेपी प्रत्याशियों को जिताने के लिये साधु-संतों से मदद मांगी.

मुख्यमंत्री ने नगरीय निकाय चुनाव के लिये आयोजित अपनी पहली रैली में कहा, ‘‘अयोध्या ऐसा नगर है, जहां पहली बार नगरीय निकाय के चुनाव होने जा रहे हैं. अयोध्या में पहले चरण में मतदान होगा और मैं बधाई देना चाहूंगा कि अयोध्या में पहली चुनावी रैली हो रही है.’’

राम मंदिर: अखाड़ा परिषद-शिया वक्फ बोर्ड में बनी सहमति, श्री श्री जाएंगे अयोध्या

योगी ने अयोध्या में बीजेपी को जिताने के लिये साधु-संतों से अपील की और कहा, ‘‘अयोध्या की पहचान आपसे है और आपकी पहचान अयोध्या से है. आप सभी से मेरी विनती है कि जनता से बड़ी संख्या में वोट की अपील करें, ताकि अयोध्या नगर निगम में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिले.’’

सीएम योगी ने पिछली सरकारों पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि पूर्ववर्ती सरकारों ने अयोध्या के विकास पर कोई ध्यान नहीं दिया. प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद अयोध्या को अब 24 घंटे बिजली मिल रही है. पिछली सरकार के कार्यकाल में यहां बिजली नहीं आती थी.

योगी ने कहा कि अयोध्या को अन्तरराष्ट्रीय पहचान दिलायी जाएगी. पूरी दुनिया में अयोध्या को मंदिरों के शहर के रूप में जाना जाता है. यहां साफ-सफाई, पेयजल, शौचालय की सुविधा, घाटों की सफाई, सरयू नदी की आरती होनी चाहिये और उसमें कचरा नहीं डाला जाना चाहिये. हम इसके लिये एक रोडमैप लेकर आये हैं.

अयोध्या ने दुनिया को दीपावली का त्यौहार दिया- योगी

उन्होंने कहा कि अयोध्या ने दुनिया को दीपावली का त्यौहार दिया लेकिन अयोध्या से ही दीवाली गायब हो गयी. इसलिये हमारी पूरी सरकार ने इस बार खुद अयोध्या में दीपावली मनायी. हमने अयोध्या में पहले ही 137 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की आधारशिला रख दी है. निकाय चुनाव समाप्त होने के बाद कई और कार्यक्रम भी चलाए जायेंगे.

नगरीय निकाय चुनावों के महत्व पर जोर देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश की करीब 30 प्रतिशत जनता 653 नगर निकायों में निवास करती है और वह अपनी मूलभूत जरूरतों के लिये निकाय प्रशासन पर निर्भर करती है. ऐसे में हमें नगरी स्थानीय निकायों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करना होगा.’’

पिछले 15 सालों में हुआ जनता के धन का दुरुपयोग- योगी

प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि पिछले 15 सालों के दौरान जनता के धन का जिस तरह दुरुपयोग किया गया है, उससे नगरीय निकायों का विकास थम चुका है. लोग आम जरूरतों की चीजों से वंचित रहे. मैं आप लोगों को यही चीजें बताने आया हूं.

मुख्यमंत्री ने जनता से वोट की अपील करते हुए कहा, ‘‘आपके पास मौका है. आप चाहें तो जनता के धन को अयोध्या को चमकाने में इस्तेमाल किया जा सकता है और लोगों के चेहरे पर मुस्कान लायी जा सकती है.’’

विकास के लिये आबंटित धन को आखिरी पायदान पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने का संकल्प व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार हर जिले में कम से कम एक नगरीय निकाय को ‘दीनदयाल उपाध्याय नगर निकाय‘ बनाने की दिशा में काम कर रही है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: UP Civic Elections 2017: CM Yogi Adityanath sounds poll bugle from Ayodhya
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story होटलों की तरह टिकट बुकिंग पर छूट पर विचार, फ्लेक्सी किराए में होगा सुधार: रेल मंत्री