नए साल में नए कलेवर में दिखेगी यूपी पुलिस

By: | Last Updated: Tuesday, 30 December 2014 9:28 AM

लखनऊ: नए साल 2015 में उत्तर प्रदेश की पुलिस नए कलेवर में दिखेगी. राज्य की पुलिस की क्षमता बढ़ाने और आधुनिकीकरण करने के लिए किए जा रहे प्रयासों का असर आने वाले साल में दिखने लगेगा. यूपी पुलिस की मंशा है कि नागरिकों को शहरों में सात मिनट और ग्रामीण क्षेत्रों में 25 मिनट में पुलिस की मदद मिल जाए.

 

राज्य के प्रमुख सचिव (गृह) देवाशीष पांडा ने बताया कि ‘100 नंबर डायल’ की व्यवस्था को पूरे प्रदेश में लागू किया जाएगा. राज्य पुलिस का लक्ष्य है कि लोगों को 100 नंबर पर डायल करने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में 25 मिनट में और शहरी क्षेत्रों में सात मिनट में पुलिस की मदद मिल जाएगी.

 

इसके लिए अतिरिक्त पुलिस बल की भी जरूरत होगी. इसलिए 40 हजार सिपाही और पांच हजार उपनिरीक्षकों की भर्ती की जा रही है. इसी तरह पुलिस को इनोवा कारें दी जा रही हैं.

 

उन्होंने बताया कि राज्य में अपराधों से जुड़ी जांच हो सकें, इसके लिए गाजियाबाद, गोरखपुर और कन्नौज सहित छह अतिआधुनिक प्रयोगशालाएं स्थापित की जाएंगी जिनमें डीएनए जांच जैसी सुविधाएं होगी.

 

इसी तरह लखनऊ और कानपुरी में अत्याधुनिक कंट्रोल रूम के बाद अब 20 जनवरी को गाजियाबाद में आधुनिक कंट्रोल रूम शुरू होगा. इसके बाद आगरा और वाराणसी में ऐसे ही कंट्रोल रूम बनाए जांएगे. इसी तरह सुरक्षित यात्रा हो सके इसके लिए हाईवे पुलिस की भी योजना बनाई गई है, जिसे अमल में लाया जाएगा.

जमीनी विवादों को अदालत के बाहर सुलझाने के लिए श्रावस्ती पुलिस के मॉडल को भी नए साल में राज्य में लागू किया जाएगा. इससे जमीन के झगड़ों से जुड़े अपराधों में कमी आएगी.

 

उन्होंने बताया कि जेलों के आधुनिकीकरण पर भी जोर दिया जा रहा है. ऐसा प्रयास किया जा रहा है कि जेलों और अदालतों के बीच वीडियो कान्फ्रेंसिंग से मामलों की सुनवाई की जाए.

 

इसके लिए 67 जेलों में वीडियो कान्फ्रेंसिंग की सुविधा दी जा चुकी है. जेलों में अब सीसीटीवी भी लगाए जा रहे हैं. अभी तक 23 जेलों में ऐसा सीसीटीवी लग चुके हैं. इसके अलावा प्रदेश की 16 बड़ी जेलों में जैमर भी लगाए गए हैं.

 

देवाशीष पांडा ने बताया कि प्रदेश शासन का पूरा प्रयास होगा कि आने वाले साल में यूपी पुलिस को अत्याधुनिक और नागरिक केंद्रित तथा आईटी आधारित बनाया जाए.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: UP_POLICE
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP NEW YEAR Police UP
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017