बदमाशों से भिड़ने वाली मेरठ की 'मर्दानी' को यूपी सरकार देगी एक लाख रुपये का इनाम

By: | Last Updated: Saturday, 23 August 2014 3:42 PM
up_up government

नई दिल्ली : बदमाशों से भिड़ने वाली मेरठ की ममता को यूपी सरकार एक लाख रुपये का इनाम देगी.

ये घटना 19 अगस्त की है. ममता एलआईसी एजेंट का काम करती हैं. ममता अपने पति के साथ मेरठ के विक्टोरिया चौक के पास से गुजर रही थीं. पति-पत्नी दोनों बाइक पर सवार थे. तभी सेंट्रो कार से बाइक को टक्कर लगी और दोनों गिर पड़े.

 

मेरठ की ‘मर्दानी’ की जुबानी, पूरी कहानी 

ममता के मुताबिक चार से पांच लोग मिलकर उनके पति के साथ हाथापाई कर रहे थे. उन्हें बुरी तरह से पीट रहे थे. लेकिन तमाशबीन भीड़ से मदद के लिए कोई आगे नहीं आया. ऐसे में ममता ने अपने पति को बचाने के लिए एक साथ कई लोगों से लोहा लिया.

पति की पिटाई से बौखला गई मेरठ की ‘मर्दानी’ 

बहादुरी की मिसाल पेश करने वाली ममता ने तमाम लड़कियों से अपील की है कि वह खुद को इतना ताकतवर बनाएं कि अगर कभी उनके साथ ऐसा हो तो ऐसे हालात से निपटने के लिए उन्हें किसी का मुंह ना देखना पड़े.

 

 

छेड़छाड़ और सड़क पर हुई मारपीट मामले में नया मोड़ आ गया है. पुलिस ने मामले में एक लड़के को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इस मामले में अपनी और से ही थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. पुलिस को लड़की का कोई सुराग नहीं मिला है.

 

लेकिन एबीपी न्यूज़ की टीम ने ममता नामक उस महिला और मनीष नामक उसके पति को खोज निकाला. कचहरी पुल पर पहले छेड़छाड़ फिर गाड़ी की साइड लगने को लेकर जमकर मारपीट हुई. इस मामले के मीडिया में खबर आने के बाद पुलिस सक्रिय हुई. पुलिस ने बीट कांस्टेबल की और से मुकदमा दर्ज कराया जिसमें धारा 354,323,504 के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया. इसके बाद अंकित काकरान को हिरासत में लिया गया है जबकि विशाल और गगन नाम के दो लड़कों के नाम सामने आये है. अंकित का कहना है उसके भाई के साथ मारपीट हुई इसलिए वह वहां गया और मारपीट हो गई.

 

यहां सुनिए लड़की जुबानी, पूरी कहानी