पाक को F16 विमान बेचने पर भारत का विरोध, अमेरिका ने दी सफाई

By: | Last Updated: Monday, 15 February 2016 11:48 AM
US clarifiy on F 16 deals with Pakistan

मुंबई: अमेरिका के पाकिस्तान को एफ-16 लड़ाकू विमान बेचने को ‘विरासत घोषणा का हिस्सा’ बताया है. अमेरिकी राजदूत रिचर्ड वर्मा ने कहा है कि उनका देश उम्मीद करता है कि पाकिस्तान अपनी धरती से आतंकवाद की पनाहगाहों को समाप्त करने पर और कदम उठाएगा.

सीएनएन एशिया बिजनेस फोरम द्वारा यहां आयोजित ‘मेक इन इंडिया’ सप्ताह के दौरान उन्होंने कहा, ‘‘हाल के वर्षों में पाकिस्तान को हमारे उपकरणों की (बिक्री) में असैन्य और सैन्य उपकरण शामिल हैं. एफ-16 विमान पर हालिया फैसला विरासत घोषणा का एक हिस्सा है.’’ वर्मा ने कहा, ‘‘हकीकत यह है कि पाकिस्तान के भीतर खतरनाक समूह कार्य कर रहे हैं.’’

वर्मा ने कहा कि इस्लामाबाद को अपनी धरती से संचालित होने वाले आतंकी समूहों के खिलाफ कार्रवाई करने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवादी समूहों पर पाकिस्तान को और कदम उठाने की आवश्यकता है. सुरक्षित पनाहगाहों का सफाया करने की आवश्यकता है.’’ वर्मा की टिप्पणी ओबामा प्रशासन के पाकिस्तान को आठ एफ-16 लड़ाकू विमान बेचने के अपने फैसले से अवगत कराने के एक दिन बाद आई है. यह सौदा तकरीबन 70 करोड़ डॉलर का है.

नरेंद्र मोदी सरकार की सराहना करते हुए वर्मा ने कहा कि पिछले दो वषो’ में भारत में उल्लेखनीय प्रगति हुई है. उन्होंने कहा कि भारत के समक्ष चुनौतियों में तेजी से बढ़ते शहरीकरण और जलवायु परिवर्तन से निपटना शामिल है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: US clarifiy on F 16 deals with Pakistan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: America f16 Pakistan
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017