यूपी पंचायत चुनाव में मृतक भी कर सकेगें मतदान !

By: | Last Updated: Tuesday, 18 August 2015 5:48 PM
uttar pradesh _ panchayat_ election

भदोही : उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर एक अनोखी खबर सामने आयी है. लेकिन यह खबर उनके लिए है जो अब इस दुनिया में नहीं हैं. शायद इसी लिए निर्वाचन आयोग ने उन पर रहमदिली दिखाई है.

 

आयोग का भरोसा जिंदा वोटरों से हट गया है, इसलिए अब वह मुर्दा वोटरों को मतदान का अधिकार देगा. आयोग के बीएलओ की रहमदिली से हजारों की तादात में दिवंगत मतदाता भी वोटिंग करेंगे.

 

लेकिन इस खबर से जिंदा वोटरों में खासी खलबली है मच गयी है क्ंयूकि कई गांवों से काफी तादाद में लोगों का नाम वोटर लिस्ट से गायब कर दिया गया है.

 

प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर सरगर्मी तेज हो चली है. गांवों में मतदाता सूची का पुनरीक्षण के बाद अंतिम प्रकाशन भी हो गया है, लेकिन जिलेभर की मतदाता सूची में मृतकों का नाम नहीं काटा गया है.

 

बूथ लेबल अधिकारियों की लापरवाही से हर गांव में काफी तादाद में सालों पहले मर चुके वोटरों का नाम भी मतदाता सूची में दर्ज है, जबकि जिंदा लोगों का नाम कट गया है. इस बात को लेकर राजनीति तेज हो चली है. लोग एक-दूसरे पर वोटरलिस्ट से नाम कटवाने का आरोप मढ़ रहे हैं. गांव की आंगनबाड़ी सेविकाओं के घर पहुंचकर लोग चिल्ल-पों कर रहे हैं.

 

कहा जा रहा है कि बीएलओ का काम आंगनबाड़ी सेविकाओं को सौंपा गया था. बीएलओ को घर-घर जाकर वोटर लिस्ट का मिलान करना था, मृतकों का नाम काटना था और नए वोटरों का नाम डालना था. लेकिन बीएलओ ने घर-घर जाने की जहमत नहीं उठाई. जब आबादी के हिसाब से 65 फीसदी वोटर ही रखने का निर्देश मिला तो जल्दबाजी में अधिकारियों की मौजूदगी में जिंदा व्यक्तियों के नाम भी कटवा दिए गए. इसको लेकर महाभारत मचा है.

 

भदोही जिले के सुरियावा ब्लॉक के लागनबारी, सियरहा, भानूपुर, जगदीशपुर, बरमहनी, चारापुर बैदान, नरोत्तमपुर, हरीपट्टी, जमुनीपुर, अठगवां, पंचमपुर, करियावां, हरीपुर, निदिऊरा, पूमनोहर जैसे गांवों में काफी संख्या में मृतकों के नाम वोटर सूची में हैं, जिंदा लोगों के नाम लिस्ट से गायब है.

 

 

 

वहीं निर्वाचन अधिकारी डीएस शुक्ला कहते हैं कि गड़बड़ी हुई है, लेकिन अगर किसी मतदाता की शिकायत है, तो वह संबंधित बूथ लेबल अधिकारी से संपर्क कर अपना नाम जुड़वा सकता है. आपत्ति दर्ज कराकर मृतकों के नाम भी सूची से हटावाया जा सकता है. अगर कोई पहले से वोटर है तो उसका नाम नहीं काटा जा सकता. संबंधित मतदाता फार्म भरकर 20 अगस्त तक यह प्रक्रिया पूरी कर सकता है. अंतिम वोटर लिस्ट का प्रकाशन 5 सितंबर को किया जाए

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: uttar pradesh _ panchayat_ election
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: panchayat elections uttar pradesh
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017