वाड्रा जमीन सौदे को रद्द करने वाले IAS अशोक खेमका होंगे केंद्र में तैनात

By: | Last Updated: Tuesday, 15 July 2014 8:36 AM

नई दिल्ली: वाड्रा ज़मीन सौदा रद्द करने के बाद सुर्खियों में आए हरियाणा कैडर के आईएएस अधिकारी अशोक खेमका केंद्रीय सचिवालय में जाएंगे.

 

एबीपी न्यूज़ के संवाददाता का कहना है कि केंद्र सरकार ने उनकी नियुक्ति को मजूरी दे दी है.

 

केंद्रीय कैबिनेट ने अशोक खेमका के तबाले को लेकर अपनी सिफारिश प्रधानमंत्री कार्यालय को भेजी. इसके बाद पीएमओ ने भी अशोक खेमका के नाम को हरि झंडी दे दी और इसे लेकर हरियाणा सरकार को सूचना दी जा रही है.

 

खमका पर आरोप

 

आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान खेमका को पार्टी ज्वाइन करने का ऑफिर दिया था, जिसे उन्होंने इनकार कर दिया था. इसके बाद विभिन्न मामलों में हरियाणा सरकार ने खेमका को चार्जशीट किया.

 

हरियाणा सरकार ने अपनी चार्जशीट में आरोप लगाया  कि आईएएस अधिकारी ने वाड्रा जमीन सौदा रद्द करने के मामले में कानूनों का उल्लघंन किया. चार्जशीट में यह भी आरोप लगाया गया कि उन्होंने वाड्रा को बदनाम करने की कोशिश की.

 

इसके साथ ही खेमका का आरोप है कि वाड्रा सौदे को उजागर करने के कारण सरकार उन्हें निशाना बना रही है.

 

दिलचस्प बात यह है कि खेमका को एक ईमानदार अधिकारी माना जाता है, लेकिन उनके 23 साल के कार्यकाल में अब उन्हें 50 से ज्यादा ट्रांसफर का सामना करना पड़ा है.