ललितगेट: वसुंधरा राजे पर कार्रवाई की सुगबुगाहट, वसुंधरा ने किया झूठी खबरें फैलाने का दावा

By: | Last Updated: Friday, 26 June 2015 1:25 AM
vasundhara_action_might_be_taken

जयपुर/नई दिल्ली: ललित मोदी मदद विवाद में फंसी राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की तरफ से पहली बार बयान सामने आया है. वसुंधरा राजे के दफ्तर की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि मीडिया में झूठी खबरें फैलाई जा रही हैं और लोगों को इन खबरों पर ध्यान नहीं देना चाहिए.

 

उल्लेखनीय है कि वसुंधरा के खिलाफ विपक्ष लगातार विरोध प्रदर्शन कर उनके इस्तीफे के लिए दबाव बना रहा है. कांग्रेस के वसुंधरा के दस्तखत वाले कथित गोपनीय दस्तावेज को सामने लाने के बाद उनके लंदन दौरे के दौरान बना एक वीडियो सामने आने के बाद बीजेपी पर वसुंधरा पर कार्रवाई करने का दबाव बाढ़ गया है. इस मुद्दे पर बीजेपी ने कहा है कि ललित मोदी को भारत वापस लाने के लिए मोदी सरकार कार्रवाई कर रही है.

 

वसुंधरा जाएंगी या रहेंगी?

ललित मोदी विवाद में राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे पर कार्रवाई की सुगबुगाहट है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी कागजात की जांच कर रही है. वसुंधरा राजे पर कार्रवाई को लेकर बीजेपी में मतभेद सामने आए हैं. सूत्रों के मुताबिक एक धड़ा कार्रवाई के पक्षा में है जबिक दूसरा कार्रवाई के खिलाफ है.

 

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर बढ़ते इस्तीफे के दबाव के बीच राजस्थान बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष महेश शर्मा ने गुरूवार को पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की. यह मुलाकात करीब 25 मिनट तक चली. हालांकि अमित शाह ने साफ़ किया है कि राजस्थान में कोई नेतृत्व परिवर्तन होने नहीं जा रहा है.राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया पत्रकारों के सवालों से बचती रहीं, जयपुर में सब इंस्पेक्टरों की पासिंग आउट परेड में हिस्सा लेने आई थी.

 

इस्तीफों की अटकरों पर वसुंधरा ने जारी किया बयान

इस्तीफा देने को कहे जाने की अटकलों पर विराम लगाने की कोशिश करते हुए वसुंधरा के कार्यालय ने इसे ‘असत्य’ करार दिया जबकि मीडिया की खबरों को निराधार बताया. मुख्यमंत्री कार्यालय ने दो बयान जारी कर मीडिया में आई खबरों को खारिज किया और इन अटकलों पर विराम लगाया कि उन्होंने अपने खिलाफ कार्रवाई रोकने के लिए पार्टी नेतृत्व पर दबाव बनाने को लेकर भाजपा विधायकों की एक बैठक बुलाई थी.

हालांकि राजे को संकट में डालने वाले बयान में इस विवाद का कोई जिक्र नहीं किया गया गया है कि राजे ने 2011 में ललित मोदी के कागजात पर हस्ताक्षर किए थे जो गंभीर वित्तीय अपराधों के आरोप में भारत में वांछित हैं.

 

उनकी चिंताएं बढ़ाते हुए 20 जुलाई 2011 को लंदन में एक रात्रिभोज की तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष नीतिन गडकरी, राजे और मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी की तस्वीरें आज सामने आईं.

 

अगस्त 2011 में राजे के कथित तौर पर हस्ताक्षर करने से एक महीने पहले यह तस्वीर ली गई थी. इस हस्ताक्षर वाले दस्तावेज से ललित के आव्रजन अपील का समर्थन किया गया था.

 

भाजपा के ओवरसीज फेंड्र्स द्वारा लंदन में आयोजित एक कार्यक्रम में गए भाजपा शिष्टमंडल में वह शामिल थी. यह संगठन विदेशों में पार्टी का प्रचार करता है और प्रवासी भारतीयों का समर्थन जुटाता है. राजे पूर्व आईपीएल प्रमुख की सहायता के लिए लंदन में कथित तौर पर रूकी थी.

 

राजे के कार्यालय ने उनकी छवि धूमिल करने और राजनीतिक नुकसान पहुंचाने के लिए अफवाहों के आधार पर झूठी खबरें चलाने को लेकर मीडिया को निशाना बनाया.

 

मुख्यमंत्री कार्यालय ने ‘110 विधायक राजे के समर्थन में आए’ और ‘वसुंधरा से इस्तीफा मांगा गया’ जैसे टीवी न्यूज हेडलाइनों का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने (राजे ने) कहा है कि वह इस्तीफा नहीं देंगी.

 

इसने इन समाचारों का भी हवाला दिया जिसमें कहा गया है कि ‘यदि मैं हटायी जाती हूं तो पार्टी बड़े संकट में फंस जाएगी: वसुंधरा’ और ‘यदि वसुंधरा हटती हैं तो भाजपा विभाजित हो जाएगी.’ बयान में इन खबरों का भी जिक्र किया गया है जैसे..‘विधायक और मंत्री सीएम आवास में जमा हो रहे’ और ‘राजेन्द्र राठौड़, मेडिकल एवं स्वास्थ्य मंत्री, दिल्ली जा रहे.’ कार्यालय ने कहा कि ये असत्य हैं. ऐसे सभी समाचारों का सत्यापन किया जाए, छानबीन की जाए और पुष्टि की जाए.’

कांग्रेस का हमला

ललित मोदी की मदद किए जाने के मुद्दे पर भाजपा पर हमला तेज करते हुए कांग्रेस ने कहा कि पार्टी को राजे से इस्तीफा देने को कहना चाहिए क्योंकि यह अब उसका बचाव नहीं कर सकती जिसका बचाव नहीं हो सकता है.

 

दस्तावेज में हस्ताक्षर के जाली होने के भाजपा के दावे को खारिज करते हुए राजस्थान कांग्रेस प्रमुख सचिन पायलट ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि किसी के लिए यह खोखला तर्क देना संभव है. और यदि उन्हें हस्ताक्षरों से इनकार करना था तो उन्हें शायद शुरूआत में ही ऐसा करना चाहिए था.

 

पार्टी (कांग्रेस) ने यह भी पूछा कि ललित मोदी विवाद पर कार्रवाई करने से प्रधानमंत्री क्यों हिचक रहे हैं. साथ ही राजग के किसी मंत्री के इस्तीफा नहीं देने की टिप्पणी करने को लेकर पार्टी ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह की भी आलोचना की. पार्टी ने स्पष्ट कर दिया कि यह इस मुद्दे पर मोदी सरकार को घेरने के लिए अन्य विपक्षी पार्टियों को एकजुट करेगी जब मॉनसून सत्र 21 जुलाई को शुरू होगा.

 

बीजेपी ने किया मजबूती से सामना

ललित मोदी की मदद करने पर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को संकट में डालने वाले बड़े विवाद का गुरुवार को सरकार मजबूती से सामना करने की इच्छुक दिखी तथा कहा कि ‘कोई भी दागी नहीं है.’ राजे और सुषमा के इस्तीफे के लिए विपक्ष की सामूहिक आवाज तेज होने के मद्देनजर एक मजबूत मोर्चा खड़ा करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने अमेरिका से दिल्ली आने के कुछ ही समय बाद मीडिया से कहा कि कोई व्यक्ति दागी नहीं है.

 

एक अन्य वरिष्ठ मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार ‘सर्वाधिक ईमानदार और पारदर्शी’ तरीके से काम कर रही है और आईपीएल के पूर्व प्रमुख की राजे द्वारा मदद को लेकर हो हल्ला करने के लिए कुछ ‘नाखुश लोगों’ को जिम्मेदार ठहराया.

 

इस विवाद पर भाजपा नेतृत्व का रूख संवाददाताओं द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘जहां तक पार्टी का सवाल है हर चीज सकारात्मक हो रही है.’’ राजे के बचाव में उतरते हुए पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, ‘‘राजे के मामले में क्या गलत हुआ है. ये महज कुछ दस्तावेज हैं. उनकी प्रामाणिकता अभी सिद्ध नहीं हुई है. क्या उन्होंने किसी अदालत और किसी न्यायाधीश के समक्ष गवाही दी. क्या ब्रिटिश सरकार ने कुछ कहा है.’’ भाजपा सचिव श्रीकांत शर्मा ने राजे के खिलाफ बेबुनियाद आरोप लगाने को लेकर कांग्रेस की आलोचना की और दावा किया कि विपक्षी पार्टी हताशा में ऐसा कर रही है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: vasundhara_action_might_be_taken
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच !
जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच !

नई दिल्लीः आजकल सोशल मीडिया पर एक टीचर की वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि वो अपनी...

19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और पुलिस
19 अगस्त को गोरखपुर में होंगे राहुल गांधी, खुद के लिए नहीं लेंगे एंबुलेंस और...

लखनऊ: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी 19 अगस्त को यूपी के गोरखपुर जिले के दौरे पर रहेंगे. राहुल...

नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी
नेपाल से बातचीत के जरिए ही निकल सकता है बाढ़ का स्थायी समाधान: सीएम योगी

सिद्धार्थनगर/बलरामपुर/गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को...

पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश की
पीएम मोदी ने की नेपाल के प्रधानमंत्री से बात, बाढ़ से निपटने में मदद की पेशकश...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को नेपाल के अपने समकक्ष शेर बहादुर देउबा से...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. डोकलाम विवाद के बीच पीएम नरेंद्र मोदी का चीन जाना तय हो गया है. ब्रिक्स देशों के सम्मेलन के लिए...

सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन
सरकार के रवैये से नाराज यूपी के शिक्षामित्रों ने फिर शुरू किया आंदोलन

मथुरा: यूपी के शिक्षामित्र फिर से आंदोलन के रास्ते पर चल पड़े हैं. सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद...

बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान
बाढ़ से रेलवे की चाल को लगा 'ग्रहण', सात दिनों में करीब 150 करोड़ का नुकसान

नई दिल्ली: असम, पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तर प्रदेश में आई बाढ़ की वजह से भारतीय रेल को पिछले सात...

डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे बातचीत
डोकलाम विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा- समाधान के लिए चीन के साथ करते रहेंगे...

नई दिल्ली: बॉर्डर पर चीन से तनातनी और नेपाल में आई बाढ़ को लेकर शुक्रवार को विदेश मंत्रालय ने...

15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी सरकार ने मंगवाए वीडियो
15 अगस्त को राष्ट्रगान नहीं गाने वाले मदरसों के खिलाफ होगी कार्रवाई, यूपी...

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर योगी सरकार ने राज्य के सभी मदरसों में राष्ट्रगान गाए जाने का...

ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी
ब्रिक्स सम्मेलन: तनातनी के बीच सितंबर के पहले हफ्ते में चीन जाएंगे पीएम मोदी

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद को लेकर चीन युद्ध का माहौल बना रहा है. इस तनाव के माहौल में पीएम नरेंद्र...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017