OROP: आंदोलन कर रहे पूर्व सैनिकों ने पीएम को खून से लिखा खत

By: | Last Updated: Monday, 26 October 2015 4:21 AM

नई दिल्ली : वन रैंक वन पेंशन योजना (ओआरओपी) को लेकर आंदोलन कर रहे पूर्व सैनिकों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को खून से हस्ताक्षर किया खत भेजा है. पूर्व सैनिकों का आरोप है कि सरकार ने भले ही ओआरओपी की घोषणा कर दी थी लेकिन अब तक इसे लागू नहीं कर पाई है. अब तक सरकार की ओर से इसका नोटिफिकेशन जारी नहीं किया गया है.

 

पढ़ें : OROP पर नई मुसीबत, अर्धसैनिक बलों के पूर्व जवानों की धमकी 

 

इस बीच सरकार की ओर से संकेत मिले हैं कि दिवाली के अवसर पर सैनिकों को तोहफा दिया जा सकता है. सरकार दिवाली से यह योजना लागू करने की तैयारी में है. हालांकि, इसमें कई मुद्दों पर सरकार और आंदोलनकारियों के बीच सहमति नहीं बन पाई है. लेकिन, सरकार ने अपनी ओर से योजना का स्वरूप जारी कर दिया है.

 

इससे पहले पूर्व सैनिकों के जोरदार आंदोलन के बाद सरकार को ओआरओपी योजना की उनकी मांग माननी पड़ी थी. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले से पीएम मोदी ने ऐलान भी किया था कि इस योजना को लागू किया जाएगा. अब ऐलान हो चुका है लेकिन आंदोलन कर रहे पूर्व सैनिकों का कहना है कि सरकार अब टालमटोल कर रही है.

 

पढ़ें : OROP: पूर्व सैनिकों ने सरकार के फैसले का स्वागत किया, अनशन खत्म

 

वन रैंक-वन पेंशन की मांग को लेकर पिछले 133 दिन से दिल्ली के जंतर-मंतर के साथ-साथ देश के कई शहरों में पूर्व सैनिक रिले भूख हड़ताल कर रहे हैं. उनका कहना है कि सरकार ने जो ओआरओपी का एलान किया है वह संसद और भगत सिंह कोशियारी कमेटी के मुताबिक नहीं है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Veterans sign plea to PM in blood
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017