आंध्रप्रदेश में आरक्षण पर मचा बवाल, उग्र भीड़ ने जलाई ट्रेन

By: | Last Updated: Monday, 1 February 2016 9:07 AM
Violent Quota Protests In Andhra Pradesh

विजयवाड़ा: पिछड़े वर्ग की श्रेणी के तहत आरक्षण की मांग को लेकर कापू समुदाय के सदस्यों का आंदोलन आज हिंसक हो गया. प्रदर्शनकारियों ने पूर्वी गोदावरी जिले के तुनी रेलवे स्टेशन पर रत्नाचल एक्सप्रेस के चार डिब्बों में आग लगा दी जिससे विजयवाड़ा और विशाखापत्तनम खंड में ट्रेनों की आवाजाही बाधित हुई. हिंसा में 15 पुलिसकर्मी भी जख्मी हो गए.

आंदोलनकारियों ने पूर्वी गोदावरी जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या- 16 पर भी यातायात को बाधित कर दिया. पुलिस के एक अधिकारी ने देर रात बताया कि बाद में आंदोलनकारियों ने जाम हटा लिया. यह सड़क कोलकाता को चेन्नई से जोड़ती है. ट्रेन जलाने की घटना में कोई यात्री जख्मी नहीं हुआ क्योंकि आग लगाए जाने से पहले उन्हें ट्रेन से उतार दिया गया था.

प्रदर्शनकारियों ने तुनी में एक जनसभा भी की जिसे उनके नेता मुद्रागडा पद्मनाभ ने संबोधित किया. प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन के इंजन पर पथराव किया और पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. इसके बाद उन्होंने रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ की. इस हिंसक आंदोलन में जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी सहित कुल 15 पुलिसकर्मी जख्मी हो गए.

रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि आंदोलन के कारण सात ट्रेनों को रद्द कर दिया गया. इस घटना पर मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने आज रात विजयवाड़ा में कहा कि वह कापू समुदाय को आरक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं कापू समुदाय को आरक्षण देने के लिए प्रतिबद्ध हूं. इसके लिए एक न्यायिक आयोग भी गठित किया जा चुका है.’’

उन्होंने कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले के मुताबिक 50 फीसदी की कुल आरक्षण की सीमा के तहत ही समुदाय को आरक्षण का लाभ दिया जाएगा. पद्मनाभ ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि वह कापू समुदाय को पिछड़ा वर्ग श्रेणी में शामिल करने को लेकर ‘‘गलत वादे’’ कर रहे हैं. एक रैली को संबोधित करते हुए पद्मनाभ ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री को हालात की गंभीरता का अहसास होने दें.’’

प्रदर्शनकारियों ने इलाके में पुलिस वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया और कम से कम दो को आग के हवाले कर दिया. राज्य के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) आर पी ठाकुर ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘उन लोगों ने ट्रेन के चार डिब्बों में आग लगा दी, कुछ पुलिस वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया और दो को आग के हवाले कर दिया. हमारे लोग हालात को काबू में लाने की कोशिश कर रहे हैं. अतिरिक्त बलों को मौके पर भेज दिया गया है.’’

पूर्वी गोदावरी जिले के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक, हालात नियंत्रण में और शांतिपूर्ण है और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त बलों की तैनाती की गई है. दक्षिण मध्य रेलवे के महाप्रबंधक रविंद्र गुप्ता ने आज रात हैदराबाद में आला अधिकारियों के साथ एक आपदा नियंत्रण बैठक की. विजयवाड़ा-राजमुंदरी-विशाखापत्तनम रेलखंड पर ट्रेनों के विभिन्न स्टेशनों पर रूके होने के कारण दक्षिण मध्य रेलवे के अधिकारी यात्रियों को भोजन-पानी मुहैया कराने और उनकी मेडिकल जरूरतें पूरी करने के इंतजाम कर रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Violent Quota Protests In Andhra Pradesh
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Andhra Pradesh FIRE protest quota train
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017