जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच

जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच

वायरल तस्वीर में लाल रंग की पल्सर बाइक के इंजन और पेट्रोल टैंक में बहुत सारे तार और बैटरी जैसी चीज लगी हुई है. दावा किया जा रहा है कि बाइक में लगी बैटरी जैसी ये चीज बम है.

By: | Updated: 18 Aug 2017 10:45 PM
नई दिल्लीः आजकल सोशल मीडिया पर एक टीचर की वायरल तस्वीर के जरिए दावा किया जा रहा है कि वो अपनी पल्सर बाइक में बम लगाकर घूम रहे हैं. फिजिक्स के एक प्रोफेसर इस बम वाली बाइक को भीड़भाड़ वाली जगह पर छोड़कर घंटो के लिए गायब हो जाते हैं. यहां जानिए क्या है बाइक में बम लगाकर घूमते फिजिक्स के प्रोफेसर का सच.

वायरल तस्वीर
वायरल तस्वीर में लाल रंग की पल्सर बाइक के इंजन और पेट्रोल टैंक में बहुत सारे तार और बैटरी जैसी चीज लगी हुई है. दावा किया जा रहा है कि बाइक में लगी बैटरी जैसी ये चीज बम है. बाइक के पास एक पुलिसवाला दिखाई दे रहा है जो शायद बाइक में लगे बम की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचा होगा. बाइक के आसपास भीड़ जुटी है और भीड़ में बाइक की तस्वीर खींचने की होड़ मची है. दावा है कि ये बम वाली बाइक फिजिक्स के एक प्रोफेसर की है.

सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही थी दहशत
सोशल मीडिया पर बम वाली बाइक की तस्वीर के जरिए दहशत फैलाने के साथ सांप्रदायिक रंग भी घुलने लगा था. पहले जिस बम वाली बाइक का मालिक फिजिक्स टीचर को बताया जा रहा था अब उस फिजिक्स टीचर को मुसलमान बताने की कोशिश शुरू हो गई. यहां तक कि लोग इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कह रहे हैं कि राजस्थान के भिवाड़ी में बम लगी हुई एक मुसलमान की बाइक पकड़ी गई. सारे लोग डरे हुए हैं. अब कोई ये ना कहे कि आतंकवाद का कोई धर्म नहीं होता. 15 अगस्त की तैयारी में विस्फोटक से लदी बाइक मिली. इसके बाद भी लोग कहते हैं कि मुसलमान डरे हुए हैं.

एबीपी न्यूज ने की पड़ताल
बम वाली बाइक का पता राजस्थान के भिवाड़ी का बताया जा रहा था इसलिए तस्वीर की पड़ताल के लिए एबीपी न्यूज अलवर जिले के भिवाड़ी पहुंचा. अलवर पहुंचकर बम वाली बाइक की तस्वीर लिए पूछताछ करते हुए कॉसमॉस सोसाइटी पहुंचे. कॉसमॉस सोसाइटी के अंदर ही ये बाइक खड़ी थी जिसकी खबर वायरल होने लगी और इलाके में हड़कंप मच गया था.

कैसे वायरल हुई थी ये तस्वीर
बाइक वाला मामला 11 अगस्त को कॉस्मोस सोसाइटी से शुरू हुआ. बिल्डिंग के क्योरिटी गार्ड को बाइक देखकर आंशका हुई और उसने पुलिस को फोन करने के साथ आस-पास के लोगों को भी आगाह किया. पुलिस ने मौके पर आकर देखा तो पता चला कि राकेश नाम के फिजिक्स के टीचर ने किसी प्रोजेक्ट के लिए इलेक्ट्रिक बाइक बनाई थी जिसे यहां किसी को दिखाने लाए थे.

क्यों और कैसे बनाई गई थी बाइक
उस दिन मौके से पुलिस ने बाइक जब्त कर ली थी और बाइक मालिक राकेश को भी हिरासत में ले लिया था. पुलिस ने बाद में ये तो साफ कर दिया कि बम जैसी कोई चीज बाइक से नहीं मिली. बाइक बनाने वाले फिजिक्स के प्रोसेफर राकेश ने बाइक कैसे बनाई और क्यों बनाई दोनों के बारे में विस्तार से बताया.

main 2

प्रोफेसर से इस बारे में बात की गई तो उन्होंनें कहा कि उन्होंनें अपने स्कूल के बच्चों को इलेक्ट्रिसिटी का यूज समझाने के लिए इलेक्ट्रिक बाइक बनाई थी. उसमें तीन ही चीज हैं एक सेल, एक इलेक्ट्रिक व्हील और एक कंट्रोलर. बम जैसा जो लोगों को दिखाई दे रहा है वो लिथियम सेल है जिसकी क्षमता आपके मोबाइल में लगने वाले बैटरी जैसी है. ये साइलेंट है और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं है. ये सिर्फ 5 बिजली की यूनिट में 12 किलोमीटर घुमा सकती है.

main 3वायरल झूठ
साफ है कि बाइक में कोई बम नहीं लगा है और फिजिक्स प्रोफेसर ने छोटी बैटरी से बाइक चलाने का नमूना पेश किया है जिसे कुछ गैरजिम्मेदार लोगों ने झूठ और सांप्रदायिक रंग चढ़ाकर सोशल मीडिया पर परोस दिया. वायरल हो रही बाइक की तस्वीर तो सच है लेकिन बाइक में बम को लेकर जो दावा किया जा रहा है वो झूठा साबित हुआ है. बाइक में कोई बम नहीं लगा है और फिजिक्स प्रोफेसर ने छोटी बैटरी से बाइक चलाने का नमूना पेश किया है.

भारत से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर,गूगल प्लस, पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App
Web Title: जानिए क्या है फिजिक्स के प्रोफेसर की बाइक में बम का सच
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार

First Published:
Next Story गुजरात में कांग्रेस कार्यालय का ‘बीमा’ बना चुनावी मुद्दा, बीजेपी ने कसा ये तंज