सिंदूर से महिलाओं की बुद्धि भ्रष्ट होने का वायरल सच!

सिंदूर से महिलाओं की बुद्धि भ्रष्ट होने का वायरल सच!

पहले दावे के मुताबिक, सिंदूर में मौजूद LED का महिलाओं के IQ यानि बुद्धिक्षमता पर नकारात्मक असर होता है. शोध के नतीजे में दावा किया गया है कि सिंदूर के इस्तेमाल से महिलाओं का IQ लेवल कम हो सकता है.

By: | Updated: 25 Sep 2017 09:58 PM

नई दिल्ली : सोशल मीडिया पर आए दिन कई तरह के दावों से लोग हैरान रह जाते हैं. सिंदूर को लेकर भी इस प्लेटफॉर्म पर एक चौंकाने वाला दावा किया जा रहा है.  एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए दावा किया जा रहा है कि सिंदूर महिलाओं की बुद्धि खराब कर रहा है. लोग महिलाओं को सिंदूर से दूर रहने की सलाह दे रहे हैं.


आपको बता दें कि वॉट्सएप से लेकर फेसबुक पर लोग इस तरह के मैसेज वायरल कर रहे हैं. वायरल मैसेज में दावा है कि न्यूजर्सी की Rutgers यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के शोधकर्ताओं ने सिंदूर और उससे होने वाले नुकसान पर शोध किया था. शोध के बाद दाखिल की गई रिपोर्ट चौंकाती है. रिपोर्ट में शादीशुदा महिलाओं और पूजा पाठ के इस्तेमाल में आने वाले सिंदूर को महिलाओं के लिए हानिकारक बताया है.
viral 8
शोध का नतीजा बताते हुए रिपोर्ट में तीन दावे किए गए हैं. यही दावे सिंदूर की विश्वसनीयता पर सवाल उठा रहे हैं. पहले दावे के मुताबिक, सिंदूर में मौजूद LED का महिलाओं के IQ यानि बुद्धिक्षमता पर नकारात्मक असर होता है. शोध के नतीजे में दावा किया गया है कि सिंदूर के इस्तेमाल से महिलाओं का IQ लेवल कम हो सकता है.

वहीं दूसरे दावे के मुताबिक, सिंदूर का बुरा प्रभाव सिर्फ सिंदूर लगाने वाली महिला पर ही नहीं होता बल्कि गर्भ में पल रहे बच्चों पर भी होता है और उनका विकास रुक सकता है.तीसरा दावा यह है कि सिंदूर लगाने से महिला के स्वास्थ्य पर बुरा असर होता है.

सिंदूर को लेकर वायरल हो रहे इन दावों का सच जानने के लिए गंगाराम अस्पताल के त्वचा रोग विशेषज्ञ और डिपार्टमेंट के HOD डॉक्टर एच सी भरीजा से हमने संपर्क किया.
viral 7
डॉक्टर भरीजा को सिंदूर के बारे में वायरल हो रहे दावों के बारे में बताया तो उन्होंने साफ किया कि सिंदूर में LED का इस्तेमाल किया जाता है. ये एक तरह का केमिकल है. अगर सिंदूर में LED तय मात्रा से ज्यादा हो तो एलर्जी हो सकती है.

जब डॉ. भरीजा से पूछा गया कि क्या सिंदूर की वजह से महिलाओं का IQ लेवल कम हो सकता है? इस सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि बचपन से जितना IQ लेवल है शादी के बाद भी वहीं IQ लेवल रहता है. महिलाएं शादी के बाद से सिंदूर लगाना शुरु करती हैं. सिंदूर से IQ लेवल पर कोई असर नहीं हो सकता.

जब डॉक्टर भरीजा से दूसरा सवाल गया कि क्या सिंदूर से बच्चों के विकास में किसी तरह की परेशानी हो सकती है? उन्होंने बताया कि महिलाएं सिंदूर को माथे पर लगाती है. स्तनपान करते हुए या फिर किसी भी तरह से बच्चा सिंदूर के संपर्क में नहीं आता इसलिए बच्चों पर इसका कोई प्रभाव नहीं होता है.

तीसरा दावा महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ा था. जब उनसे सवाल किया गया कि सिंदूर लगाने वाली महिला को किस तरह की परेशानी हो सकती है?

डॉ. भरीजा ने बताया, 'सिंदूर में कितना LED इस्तेमाल किया गया है इसके बारे में किसी को जानकारी नहीं होती. अगर सिंदूर को हर रोज लगाया जा रहा है तो एक समय के बाद त्वचा में एलर्जी हो सकती है. जहां पर सिंदूर लगाया जा रहा है वो जगह सफेद हो जाती है. तरल होने पर त्वचा ज्यादा सिंदूर सोखती है. पाउडर सिंदूर के जरिए LED की कितनी मात्रा शरीर में जाएगी ये कह पाना मुश्किल है. अगर सिंदूर के जरिए LED ज्यादा मात्रा में शरीर के अंदर पहुंचता है तो नर्वस सिस्टम पर असर होता है.'
viral 9
ABP न्यूज की पड़ताल में सामने आया कि सिंदूर में LED की मात्रा ज्यादा होने पर स्वास्थ्य की परेशानी हो सकती है लेकिन सिंदूर से महिलाओं की बुद्धि भ्रष्ठ होने वाला दावा गलत साबित हुआ है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव : चुनाव आयोग का आदेश, इन छह मतदान केंद्रों पर 14 दिसंबर को दोबारा होगी वोटिंग