Viral Sach of occupation of Delhi railway platform for Namaaz जानें- नमाज के नाम पर दिल्ली के रेलवे प्लेटफॉर्म पर कब्जे का सच

जानें- नमाज के नाम पर दिल्ली के रेलवे प्लेटफॉर्म पर कब्जे का सच

चौंकाने वाला ये दावा राजधानी दिल्ली के रेलवे स्टेशन को लेकर किया जा रहा है.

By: | Updated: 24 Nov 2017 10:28 PM
Viral Sach of occupation of Delhi railway platform for Namaaz
नई दिल्ली:  सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तीन तस्वीरों के जरिए दावा किया जा रहा है कि नमाज पढ़ने के लिए एक रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर ही कब्जा कर लिया गया है. दावा है कि रस्सी से उस जगह को घेरने के बाद मोटे-मोटे अक्षरों में लिख दिया गया कि प्लेटफॉर्म के इस हिस्से में यात्रियों की नो एंट्री है. चौंकाने वाला ये दावा राजधानी दिल्ली के रेलवे स्टेशन को लेकर किया जा रहा है.

क्या है दावे का सच?

एबीपी न्यूज़ ने दोपहर 1.30 बजे दिल्ली रेलवे स्टेशन पर वायरल तस्वीरों की पड़ताल की. दोपहर 1.30 बजे इसलिए क्योंकि इस वक्त जोहर की नमाज पढ़ी जाती है. यहां किताबों के स्टॉल पर बैठे एक शख्स ने बताया, कि प्लेटफॉर्म नंबर 4 और 5 पर जगह घेरी गई है, लेकिन वहां कोई मस्जिद भी नहीं है.

इसके बाद प्लेटफॉर्म पर ही चाय की दुकान लगाने वाले विकास नाम के शख्स ने बताया, ‘’यहां के कुली और यात्रियों के मिलाकर लगभग 10-12 लोग यहां नमाज पढ़ने आते हैं.’’

नमाज़ पढ़ने के लिए नहीं मिलती थी जगह- नितिन चौधरी

वहीं इस मामले में उत्तरी रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन ऑफिसर नितिन चौधरी ने बताया, ‘’रेलवे में किसी भी धार्मिक अनुष्ठान के लिए जगह आरक्षित करने का कोई प्रावधान नहीं है. ना तो हम ऐसा करते हैं ना ही ऐसा करने की इजाजत देते हैं. उनके लिए कोई बक्से नहीं हैं ना ही बक्से आरक्षित किए गए हैं. घटना संज्ञान में आते ही हमने स्टेशन मैनेजर से बात की पता चला कि स्टेशन पर मौजूद कुलियों को भीड़ की वजह से नमाज पढ़ने के लिए जगह नहीं मिलती थी, इसलिए उन्होंने छोटी सी जगह पर नमाज पढ़ना शुरु कर दिया.’’

क्या कुलियों पर कोई कार्रवाई की गई है?

नितिन चौधरी ने आगे बताया, ‘’लोगों को परेशानी होने के बाद हमने कूलियों से अनुरोध किया. कुलियों ने हमारे अनुरोध को मान लिया है.  कूलियों ने कहा है कि अबसे उस जगह पर नमाज नहीं पढ़ी जाएगी.  बातचीत से मसला सुलझा लिया गया है.’’

viral sach 03

पड़ताल में साफ हुआ कि वायरल तस्वीर में जो दिख रहा है और तस्वीर को लेकर जो कहा जा रहा है वो सच है लेकिन अब वहां से सारा सामान हटाया जा चुका है.

हमारी पड़ताल में नमाज के नाम पर रलवे स्टेशन पर कब्जे का दावा सच साबित हुआ है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Viral Sach of occupation of Delhi railway platform for Namaaz
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story पनामा पेपर्स मामला: ईडी ने अहमदाबाद की एक कंपनी की 48.87 करोड़ रुपये की प्रॉपर्टी जब्त की